Saturday, July 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयचमड़ा का सामान और इत्र बेचने वाली की अमीरी एलन मस्क पर भी भारी:...

चमड़ा का सामान और इत्र बेचने वाली की अमीरी एलन मस्क पर भी भारी: जानिए कौन हैं दुनिया के No.1 धनवान, जिनकी संपत्ति 1556102 करोड़ की

LVMH में उनके पास होल्डिंग व्हीकल और फैमिली ट्रस्ट के जरिए 60 प्रतिशत से ज्यादा की हिस्सेदारी है। कंपनी के टॉप ब्रांड्स में लुई वुइटन के अलावा मार्क जैकब्स, टिफनी एंड कंपनी, क्रिश्चियन डायर, फेंडी, गिवेंची और सेपोरा जैसे नाम शामिल हैं।

दुनिया के सबसे अमीरों की नई लिस्ट जारी हुई है। अब दुनिया के सबसे धनी व्यक्ति फ्रांस के बर्नार्ड अरनॉल्ट (Bernard Arnault) बन गए हैं। बर्नार्ड LVMH के मालिक हैं। LVMH 75 से अधिक प्रतिष्ठित और लग्जरी ब्रांड्स की पैरेंट कंपनी है।

दुनिया के अमीरों की संपत्ति को ट्रैक करने वाली संस्था और अमेरिकी बिजनेस मैगजीन फोर्ब्स (FORBES) ने अमीरों की नई लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में एलन मस्क को पीछे छोड़ते हुए बर्नार्ड अरनॉल्ट अब नंबर एक स्थान पर पहुँच गए हैं। बर्नार्ड की कुल संपत्ति 188.6 अरब डॉलर आँकी गई है जबकि एलन मस्क की संपत्ति कम हो कर अब 188.6 अरब डॉलर (15,56,102.77 करोड़ रुपए) रह गई है।

आपको बता दें बर्नार्ड अरनॉल्ट (Bernard Arnault) की कंपनी LVMH ही लग्जरी पर्स बनाने वाली मशहूर ब्रांड लुई वुइटन की मूल कंपनी है। इसके अलावा कंपनी के पास 75 से ज्यादा लग्जरी ब्रांड हैं। LVMH में उनके पास होल्डिंग व्हीकल और फैमिली ट्रस्ट के जरिए 60 प्रतिशत से ज्यादा की हिस्सेदारी है। कंपनी के टॉप ब्रांड्स में लुई वुइटन के अलावा मार्क जैकब्स, टिफनी एंड कंपनी, क्रिश्चियन डायर, फेंडी, गिवेंची और सेपोरा जैसे नाम शामिल हैं।

बर्नार्ड अरनॉल्ट का जन्म 5 मार्च, 1949 को फ्रांस के रूबैक्स की एक कारोबारी परिवार में हुआ था। पढ़ाई करने के बाद उन्होंने फेरेट-सविनेल कंस्ट्रक्शन कंपनी के साथ बतौर इंजीनियर अपने करियर की शुरुआत की। इसके बाद 1978 तक उन्हें इस कंपनी में कई प्रमोशन मिले। अरनॉल्ट ने 1984 में लग्जरी गुड्स मार्केट में उतरने का फैसला किया। इस दौरान उन्होंने एक टेक्सटाइल ग्रुप का अधिग्रहण किया। इस ग्रुप के पास क्रिश्चियन डायर ब्रांड का भी स्वामित्व था। इसके चार साल बाद अरनॉल्ट ने एलवीएमएच (LVMH) में कंट्रोलिंग स्टेक खरीदा।

उन्होंने देखते ही देखते इसे फायदा पहुँचाने वाला ग्रुप बना दिया। 1989 में बर्नार्ड अरनॉल्ट LVMH के मेजोरिटी शेयरहोल्डर बन गए। इसके साथ ही यह दुनिया का प्रमुख लग्जरी उत्पाद समूह बन गया। अरनॉल्ट 1989 से ही कंपनी के अध्यक्ष और सीईओ हैं। अरनॉल्ट अपनी पारिवारिक होल्डिंग कंपनी ग्रुप अरनॉल्ट एसई के निदेशक मंडल (Board of directors) के अध्यक्ष भी हैं।

आपको बता दें कि बर्नार्ड अरनॉल्ट इससे पहले भी दिसंबर 2019, जनवरी 2020 और मई 2021 में दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन चुके हैं। लेकिन, अधिक समय तक वे नंबर एक पायदान पर टिक नहीं सके। एलन मस्क साल 2021 से लगातार दुनिया के सबसे अमीर शख्स बने हुए थे। बर्नार्ड अरनॉल्ट लंबे समय से दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बने हुए थे, जो अब नंबर एक पर हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -