Wednesday, July 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयनया गाना रिलीज होने के 1 दिन बाद ही अमेरिकी रैपर की हत्या: जहाँ...

नया गाना रिलीज होने के 1 दिन बाद ही अमेरिकी रैपर की हत्या: जहाँ से डाइस खेलते हुए पोस्ट की थी सेल्फी, वहीं पर ‘Takeoff’ को मार दी गोली

Quavo को इस घटना में कोई चोट नहीं आई। इस शूटिंग से कुछ ही देर पहले सोशल मीडिया पर 'Takeoff' ने 'Bowling Alley' से एक सेल्फी पोस्ट की थी।

अमेरिका के हॉस्टन में ‘Migos’ हिपहॉप ग्रुप के रैपर Takeoff की गोली मार कर हत्या कर दी गई है। टेक्सास प्रांत के दक्षिण-पूर्वी शहर में हुई इस घटना के बाद रैपर के फैंस में निराशा की लहर है और ट्विटर पर ‘RIP Takeoff’ लिख कर उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है। उनकी उम्र मात्र 28 वर्ष थी। ये घटना तड़के 2:30 बजे हुई है। ‘Bowling’ खेल वाले एक जगह पर उनकी हत्या हुई। Takeoff वहाँ एक अन्य रैपर Quavo के साथ डाइस खेल रहे थे।

बताया जाता है कि इसी बीच विवाद शुरू हो गया और किसी ने उन्हें गोली मार दी। गोली उनके सिर के पास रखी, जिसके बाद उन्हें तुरंत मृत घोषित कर दिया गया। घटनास्थल से सामने आए फुटेज में Quavo को ऑरेंज शर्ट पहने हुए देखा जा सकता है, जबकि जो कुछ अन्य लोगों के साथ Takeoff को घेर कर खड़े थे। इसके बाद Quavo ने मदद के लिए आवाज़ भी लगाई। 2 अन्य लोगों को भी गोली लगी है, जिन्हें प्राइवेट गाड़ियों से अस्पताल ले जाया गया।

Quavo को इस घटना में कोई चोट नहीं आई। इस शूटिंग से कुछ ही देर पहले सोशल मीडिया पर ‘Takeoff’ ने ‘Bowling Alley’ से एक सेल्फी पोस्ट की थी। उससे पहले Quavo ने जन्मदिन मना रहे कारोबारी जैस प्रिंस के साथ ड्राइविंग करते हुए एक वीडियो शेयर किया था। ‘Takeoff’ का असली नाम ‘Kirsnik Khari Ball’ था और वो ‘Migos’ समूह के सबसे युवा सदस्य थे। Quavo उनके चाचा थे, और ‘Offset’ कजन भाई।

2008 में जॉर्जिया में ये सभी एक ग्रुप के रूप में सामने आए थे। इसके बाद उन्होंने एक के बाद एक हिट गाने दिए। 2013 में आया ‘Versace’ उनका पहला बड़ा हिट गाना था। 2016 में ‘Bad and Boujee’ से उन्होंने लोकप्रियता हासिल की। चाचा-भतीजे ने मिल कर हाल ही में एक ‘Unc & Phew’ प्रोजेक्ट शुरू किया था और सोमवार (31 अक्टूबर, 2022) को ही उनका नया गाना ‘Messy’आया था। ‘Tkaeoff’ इससे पहले भी विवादों में रहे थे। फ्लाइट और यूनिवर्सिटी विवाद के अलावा उनपर यौन शोषण के आरोप भी लगे थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -