Monday, July 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयमातम में भी सेक्स: बिक्री के लिए ताबूत के साथ बिकनी मॉडल, भड़के लोग,...

मातम में भी सेक्स: बिक्री के लिए ताबूत के साथ बिकनी मॉडल, भड़के लोग, बोले- अंतिम संस्कार कराने वाली रूसी कंपनी भूली दायरा

रूस के मॉस्को स्थित कंपनी ने विज्ञापन के जरिए दी जाने वाली जाने वाली डिस्काउंट के बारे में बताया है। विज्ञापन में बताया है कि कंपनी हर उम्र के नागरिकों के अंतिम संस्कार के खर्चों में कटौती कर रही है। इसके साथ ही कंपनी ने अपने एड में यह भी बताया है कि कंपनी के पास प्रशिक्षित एजेंट्स हैं, जो अंतिम संस्कार की पूरी प्रक्रिया को ऑर्गेनाइज करते हैं।

बजारवाद में संवेदनाओं के लिए नहीं, सिर्फ व्यापार की गुंजाइश है। मौत जीवन का अंतिम सत्य है, लेकिन संबंधित परिवार के लिए यह भावनात्मक रूप से दुखदाई होता है। जब मौत को भी बाजार में बेचा जाने लगे तो लोग मौत का उपहास समझते हैं। अंतिम संस्कार कराने वाली रूस की कंपनी (Russian funeral company ad) ने कुछ ऐसा ही उपहास उड़ाया है। रूस की कंपनी ने अपने विज्ञापन में ताबूत के साथ कई अर्द्धनग्न मॉडल को दिखाया है, जिसको लेकर विवाद हो गया है।

रूस की होरोनिम अंडरटेकर्स (HORONIM.RU undertakers) नामक कंपनी ने अपने विज्ञापन में बिकनी पहनी महिलाओं (Bikini models) को ताबूत के साथ दिखाया है। कंपनी द्वारा अपने इंस्टाग्राम पर डाले गए विज्ञापन वाले वीडियो में ये मॉडल ताबूत पर बैठी हुई, लेटी हुई कई तरह की आपत्तिजनक मुद्राओं में नजर आ रही हैं। इतना ही नहीं, वीडियो में बिकनी मॉडल अंतिम संस्कार में इस्तेमाल होने वाली अन्य चीजों के साथ भी पोज देती दिख रही हैं। 

रूस के मॉस्को (Moscow, Russia) स्थित इस कंपनी ने विज्ञापन के जरिए दी जाने वाली जाने वाली डिस्काउंट के बारे में बताया है। विज्ञापन में बताया है कि कंपनी हर उम्र के नागरिकों के अंतिम संस्कार के खर्चों में कटौती कर रही है। इसके साथ ही कंपनी ने अपने एड में यह भी बताया है कि कंपनी के पास प्रशिक्षित एजेंट्स हैं, जो अंतिम संस्कार की पूरी प्रक्रिया को ऑर्गेनाइज करते हैं।

कंपनी के इस वीडियो पर लोगों ने आपत्ति जाहिर की हुई है। गुस्साए लोगों ने अंतिम संस्कार करने वाली रूसी कंपनी कंपनी को सोशल मीडिया पर ट्रोल करना शुरू कर दिया है। लोगों ने पूछा कि क्या मातम में भी सेक्स बिकता है? कुछ यूजर ने कहा कि कंपनी का दिमाग खराब हो गया है तो एक यूजर ने कहा कि दुनिया पागल हो गई है और लोग अपना दायरा भूल चुके हैं। वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा कि ऐसी दुख भरी और निजी चीज के विज्ञापन के लिए सेमी न्यूड मॉडल की क्या जरूरत है। यह बकवास विज्ञापन है जो मृत लोगों और उनके परिवारों का मजाक बना रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केंद्र सरकार ने 4 साल में राज्यों को की ₹1.73 लाख करोड़ की मदद, फंड ना मिलने पर धरना देने वाली ममता सरकार को...

वित्त मंत्रालय ने बताया है कि केंद्र सरकार 2020-21 से लेकर 2023-24 तक राज्यों को ₹1.73 लाख करोड़ विशेष मदद योजना के तहत दे चुकी है।

जो बायडेन फिर से बने अमेरिकी राष्ट्रपति उम्मीदवार: ‘भूलने की बीमारी’ के कारण कर दिया था ट्वीट, सदमे में कमला हैरिस, 12 घंटे से...

जो बायडेन टेस्ट ले रहे थे कमला हैरिस का। वो भोकार पार-पार के, सर पटक कर रोने के बजाय खुश हो गईं। पिघलने के बजाय बायडेन को गुस्सा आ गया और...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -