Friday, August 12, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकोरोना से जंग के बीच ऐतिहासिक क्षण: अप्रूव हुआ Pfizer-BioNTech Covid-19 वैक्सीन, UK ने...

कोरोना से जंग के बीच ऐतिहासिक क्षण: अप्रूव हुआ Pfizer-BioNTech Covid-19 वैक्सीन, UK ने लिया निर्णय

यूके ने फाइजर-बायोएनटेक कोविड-19 वैक्सीन (Pfizer-BioNTech COVID-19 vaccine) को अधिकृत कर दिया है। ब्रिटेन ने फाइजर और बायोएनटेक की दो-शॉट वाली वैक्सीन की चार करोड़ खुराक का ऑर्डर दिया हुआ है।

कोरोना महामारी से जंग के बीच एक सुखद सूचना यूके से आई है। खबर है कि यूके ने फाइजर-बायोएनटेक कोविड-19 वैक्सीन (Pfizer-BioNTech COVID-19 vaccine) को अधिकृत कर दिया है और इसे अगले सप्ताह से देश भर में उपलब्ध कराया जाएगा।

समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार, Pfizer के सीईओ ने इस कोरोना वैक्सीन (Pfizer-BioNTech COVID-19 vaccine) अप्रूवल को ऐतिहासिक क्षण करार दिया है।

इससे पहले अपने पार्टनर BioNTech के साथ फाइजर (Pfizer Inc), मॉडर्ना और एस्‍ट्राजेनेका ने दिखाया था कि उनके प्रायोगिक वैक्‍सीन कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने में सक्षम हैं और आने वाले हफ्ते में यदि इसे मंजूरी मिली तो कंपनी इसका वितरण पूरे देश में शुरू कर देगी। साथ ही कई एशियाई देशों में इसकी बड़ी खेप जाएगी।

बता दें कि ब्रिटेन ने फाइजर और बायोएनटेक (फाइजर-बायोएनटेक कोविड-19 वैक्सीन) की दो-शॉट वाली वैक्सीन की चार करोड़ खुराक का ऑर्डर दिया हुआ है। यह Pfizer-BioNTech COVID-19 vaccine जाँच में 95% से अधिक प्रभावी बताई गई है।

ब्रिटेन ने गत 20 नवंबर को अपने चिकित्सा नियामक, मेडिसिन एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी (एमएचआरए) से फाइजर-बायोएनटेक कोरोना वायरस वैक्सीन (Pfizer-BioNTech COVID-19 vaccine) का आँकलन करने को कहा था। इसके अलावा, एजेंसी यह भी निर्धारित करने की प्रक्रिया में थी कि क्या ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन कठोर सुरक्षा मानकों को पूरा कर पाएगी या नहीं।

इस दौरान ब्रिटेन की ओर से कहा गया था कि अगर सब कुछ योजना के अनुसार हुआ और फाइजर और बायोएनटेक द्वारा विकसित वैक्सीन (Pfizer-BioNTech COVID-19 vaccine) को प्राधिकरण की मंजूरी मिली, तो उसके कुछ ही घंटों में वैक्सीन का वितरण और टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा। जरूरी तैयारियाँ को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द सैटेनिक वर्सेज’ के लेखक सलमान रुश्दी पर जुमे के दिन चाकू से हमला, न्यूयॉर्क में हुई वारदात

'द सैटेनिक वर्सेज' के लेखक उपन्यासकार सलमान रुश्दी को न्यूयॉर्क में भाषण देने से पहले पर चाकू से हमला किया गया है।

‘मानसखण्ड मंदिर माला मिशन’ के जरिए प्राचीन मंदिरों को आपस में जोड़ेंगे CM धामी, माँ वाराही देवी मंदिर में पूजा-अर्चना कर बगवाल में हुए...

सीएम धामी ने कुमाऊँ के प्राचीन मंदिरों को भव्य बनाने और उन्हें आपस में जोड़ने के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन की शुरुआत की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe