Tuesday, July 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहिंदू घृणा वाले 'आर्ट वर्क' पर यूक्रेन ने माँगी माफी, रक्षा मंत्रालय ने शेयर...

हिंदू घृणा वाले ‘आर्ट वर्क’ पर यूक्रेन ने माँगी माफी, रक्षा मंत्रालय ने शेयर की थी माँ काली की आपत्तिजनक तस्वीर: विरोध के बाद कर दिया था डिलीट

“हमें खेद है कि यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने हिंदुओं की आराध्य देवी काली माता के चित्र का गलत उपयोग किया। यूक्रेन और यहाँ के लोग भारतीय संस्कृति का दिल से सम्मान करते हैं और भारत के समर्थन की पुरजोर सराहना करते हैं।"

यूक्रेन ने हिंदू घृणा वाले ट्वीट के लिए माफी माँगी है। यूक्रेन की प्रथम उप विदेश मंत्री एमीन झापरोवा (Emine Dzheppar) ने कहा है कि हिंदुओं की आराध्य देवी माँ काली की तस्वीर के दुरुपयोग का हमें खेद है। यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने पिछले दिनों ‘आर्ट वर्क’ के नाम पर माँ काली की तस्वीर वाला एक ट्वीट किया था। इसमें यूक्रेनी हमले से उठे गुबार को माँ काली के स्कर्ट के तौर पर दिखाया गया था।

झापरोवा ने मंगलवार (2 मई 2023) को ट्वीट कर कहा, “हमें खेद है कि यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने हिंदुओं की आराध्य देवी काली माता के चित्र का गलत उपयोग किया। यूक्रेन और यहाँ के लोग भारतीय संस्कृति का दिल से सम्मान करते हैं और भारत के समर्थन की पुरजोर सराहना करते हैं। इस चित्र को पहले ही हटा दिया गया है। हम आपसी सम्मान और दोस्ती की भावना बढ़ाने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं।”

यूक्रेनी रक्षा मंत्रालय ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से रविवार (30 अप्रैल 2023) को दो फोटो शेयर की थी। इसमें से एक फोटो में धुएँ का गुबार दिखाई दे रहा था। वहीं, दूसरी फोटो में धुएँ के गुबार के बीच माँ काली की आपत्तिजनक तस्वीर दिखाई दे रही थी, जिसमें उनकी जीभ बाहर निकली हुई और गले में खोपड़‍ियों की माला थी। माँ काली के बाल भी अजीब तरह से उड़ते हुए दिखाई दे रहे थे। इस फोटो को यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने ‘वर्क ऑफ आर्ट’ कैप्शन के साथ शेयर किया था। इसके जरिए यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने देवी काली की हॉलीवुड अभिनेत्री मर्लिन मुनरो से तुलना करते हुए उन्हें ‘अपस्कर्ट मूमेंट‘ में दिखाया था।

यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय द्वारा शेयर किए गए हिंदूफोबिक ट्वीट का स्क्रीनशॉट

माँ काली के अपमान वाला ट्वीट सामने आने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने इसका जमकर विरोध किया था। सोशल मीडिया यूजर्स इस बात से काफी हैरान थे कि यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय के आधिकारिक हैंडल ने हिंदू धार्मिक मान्यताओं का मजाक कैसे उड़ाया। उन्होंने यूक्रेन की इस हरकत को लेकर उनसे माफी की माँग की थी। बाला नाम के एक यूजर ने विदेश मंत्री एस. जयशंकर और विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची को टैग करते हुए ट्वीट किया था। उन्होंने कहा था, “कृपया काली माँ को बदनाम करने वाली इस अपमानजनक पोस्ट पर ध्यान दें। अगली बार जब यूक्रेन संयुक्त राष्ट्र में मदद और समर्थन की भीख माँगे तो इसे ध्यान में रखें।” हालाँकि, लगातार विरोध के बाद यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने यह ट्वीट डिलीट कर दिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेचुरल फार्मिंग क्या है, बजट में क्यों इसे 1 करोड़ किसानों से जोड़ने का ऐलान: गोबर-गोमूत्र के इस्तेमाल से बढ़ेगी किसानों की आय

प्राकृतिक खेती एक रसायनमुक्त व्यवस्था है जिसमें प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जो फसलों, पेड़ों और पशुधन को एकीकृत करती है।

नारी शक्ति को मोदी सरकार ने समर्पित किए ₹3 लाख करोड़: नौकरी कर रहीं महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी रहने की सुविधा,...

बजट में महिलाओं की हिस्सेदारी कार्यबल में बढ़ाने पर काम किया गया है। इसके अलावा कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास स्थापित करने का भी ऐलान हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -