Tuesday, July 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयबगदादी पर अमेरिकी हमले का वीडियो आया सामने: जमीन में बड़ा गड्ढा, खून से...

बगदादी पर अमेरिकी हमले का वीडियो आया सामने: जमीन में बड़ा गड्ढा, खून से सने मांस के चीथड़े…

इस वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि खून से सने माँस के चीथड़े-कपड़े यहाँ वहाँ पड़े हुए हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आतंकवादी संगठन आईएस के सरगना बगदादी की मौत हो गई है। यह फुटेज उसी जगह की है जहाँ अमेरिकी सेना ने रात में बम गिराए थे।

इराकी स्टेट टीवी ने एक फुटेज जारी किया है जिसमे दावा किया जा रहा है कि इस्लाममिक स्टेट के सरगना अबू-बकर-अल बगदादी को अमेरिका ने मार गिराया है। बता दें कि आज सुबह ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रम्प ने अपने ट्वीट के ज़रिए कहा था कि आज कुछ बड़ा होने वाला है। इसके बाद समाचार एजेंसियों के हवाले से खबर आई थी कि आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के सरगना बगदादी पर अमेरिका ने कार्रवाई की है। बता दें कि आतंकवाद से निपटने के लिए अमेरिका लम्बे समय से कार्रवाई करता आ रहा है। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के समय भी इस्लामिक आतंकवाद को रोकने के ड्रोन हमले तेज़ हुए थे।

ऐसी ही एक कार्रवाई को आज अमेरिका ने अंजाम दिया है जिसका प्रसारण इराक के एक सरकारी मीडिया ने किया। इस वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि खून से सने माँस के चीथड़े-कपड़े यहाँ वहाँ पड़े हुए हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आतंकवादी संगठन आईएस के सरगना बगदादी की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि यह फुटेज उसी जगह की है जहाँ अमेरिकी सेना ने रात में बम गिराए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -