Saturday, June 15, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'अल्लाह-हू-अकबर, नारा-ए-तकबीर के नारे के साथ अमेरिकियों को मारने की माँग': शिक्षा के बाद...

‘अल्लाह-हू-अकबर, नारा-ए-तकबीर के नारे के साथ अमेरिकियों को मारने की माँग’: शिक्षा के बाद अब ‘तालिबान’ में कट्टरपंथी खातूनों का मार्च

बुर्काधारी महिलाएँ एक काउंटर प्रोटेस्ट में सड़क पर मार्च करती नजर आईं। ये महिलाएँ तालिबान के समर्थन में नारेबाजी कर रही थीं और तेज-तेज अल्लाह-हू-अकबर, नारा-ए-तकबीर चिल्ला रही थीं।

तालिबानियों की हुकूमत में ‘समान अधिकारों’ की माँग को लेकर अफगानिस्तान की सड़कों पर सोमवार (सितंबर 6, 2021) को प्रदर्शन करने उतरीं महिलाओं पर आंसू गैस के गोले छोड़ कर उनको शांत कराने की कोशिश हुई। अब इस प्रदर्शन की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हैं।

ये प्रदर्शन मजार-ए-शरीफ के पास हो रहा है।

तालिबानी कोशिश कर रहे हैं कि पत्रकारों को इसकी कवरेज करने से रोक सकें।

महिलाओं की माँग है कि उन्हें शिक्षा और रोजगार के अलावा मौलिक अधिकारों की भी गारंटी दी जाए।

सामने आई तस्वीरों में देख सकते हैं कि इन प्रदर्शनों में ज्यादा महिलाएँ शामिल नहीं हैं। जाहिर है कि तालिबान के विरुद्ध आवाज उठाने की भावना अभी सबमें नहीं जगी है।

इस बीच कुछ अन्य बुर्काधारी महिलाएँ भी एक काउंटर प्रोटेस्ट में सड़क पर मार्च करती नजर आईं। ये महिलाएँ तालिबान के समर्थन में नारेबाजी कर रही थीं और तेज-तेज अल्लाह-हू-अकबर, नारा-ए-तकबीर चिल्ला रही थीं। इनकी माँग थी कि अमेरिका और उनके नौकरों को मौत की सजा दी जाए।

बता दें कि कट्टरपंथी महिलाओं का यह प्रदर्शन उस समय सामने आया है जब अफगानी महिलाओं के अधिकारों पर चर्चा हर जगह हो रही है। हाल में खबर आई थी कि कैसे एक महिला पुलिस कर्मी को जो कि 8 माह गर्भवती भी थी उसे घर में घुस कर गोली मार दी गई, वो भी उसके शौहर और बच्चों के सामने।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -