Wednesday, July 24, 2024
Homeविविध विषयअन्य'शादी से पहले सेक्स करने से फैलता है HIV'- केरल की 10वीं की पुस्तक...

‘शादी से पहले सेक्स करने से फैलता है HIV’- केरल की 10वीं की पुस्तक का बेहूदा ज्ञान

एचआईवी वायरस ही एड्स का कारण है, जो शरीर के इम्यून सिस्टम को निशाना बनाता है। ये ख़ासकर टी-सेल्स को निशाना बनाता है, जो संक्रमण को नियंत्रित करने के जिम्मेदार होते हैं। इस बीमारी को लेकर लोगों में तरह-तरह की भ्रांतियाँ हैं।

केरल की दसवीं की पुस्तक में बच्चों को उलूल-जलूल ज्ञान दिया जा रहा है। सरकारी स्कूल की पुस्तकों में लिखा गया है कि शादी से पहले और शादी से इतर सेक्स सम्बन्ध बनाने से एचआईवी फैलता है। केरल के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई जाने वाली बायोलॉजी की पुस्तक में यह ज्ञान दिया गया है। राज्य द्वारा दसवीं कक्षा के लिए जारी की गई बायोलॉजी की किताब के पेज संख्या 60 पर लिखा हुआ है कि ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस (HIV) विवाहपूर्व या विवाहेतर यौन संबंधों की वजह से फैल सकता है।

इस पेज पर ग्राफ़िक्स बना कर एचआईवी फैलने के कारणों को दर्शाया गया है। इसमें से एक कारण विवाहेतर यौन संबंधों को भी बताया गया है। किताब में छपी इस गलत जानकारी को एक शिक्षक ने सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। इसके बाद यह मामला प्रकाश में आया। नीचे दिए गए चित्र में आप देख सकते हैं कि कैसे छात्रों को गलत जानकारी परोसी जा रही है।

लोक शिक्षण निदेशालय (डॉयरेक्टरेट ऑफ पब्लिक इंस्ट्रक्शन) ने बताया कि साल 2015-16 के शैक्षणिक सत्र में इस संशोधित संस्करण को शामिल किया गया था। इस किताब को स्कूल के शिक्षकों और विशेषज्ञों की एक समिति द्वारा घोषित किया गया था और वर्तमान टीम इसमें शामिल नहीं थी।

केरल की पुस्तकों में बेहूदा ज्ञान

केरल में अभी वामपंथी दल सीपीआई की सरकार है। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और केरल सरकार सबरीमाला और संघ स्वयंसेवकों की लगातार हत्या जैसे मामलों के कारण पहले से ही विवादों में घिरी हुई है। केरल स्थित पलक्कड़ के डॉक्टर अरुण ने केरल सरकार से पूछा कि वायरस को कैसे पता चलता है कि कोई व्यक्ति शादीशुदा है या नहीं? स्टेट काउन्सिल ऑफ एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग (SCERT) की रिसर्च अधिकारी ने कहा कि उन्होंने इस त्रुटि की पहचान कर ली है और अगले शैक्षणिक सत्र से इसे सही कर लिया जाएगा।

एचआईवी वायरस ही एड्स का कारण है, जो शरीर के इम्यून सिस्टम को निशाना बनाता है। ये ख़ासकर टी-सेल्स को निशाना बनाता है, जो संक्रमण को नियंत्रित करने के जिम्मेदार होते हैं। इस बीमारी को लेकर लोगों में तरह-तरह की भ्रांतियाँ हैं। अगर कोई एचआईवी से पीड़ित है तो उसके साथ यौन सम्बन्ध बनाने या फिर इंजेक्शन निडल शेयर करने से यह बीमारी फैलती है।

अगर आपको एचआईवी एड्स से सम्बंधित किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए तो आप योग्य डॉक्टर की सलाह के अलावा ‘राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन‘ की वेबसाइट कर जाकर पढ़ सकते हैं। यह वेबसाइट भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा ऑपरेट की जाती है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

औरतें और बच्चियाँ सेक्स का खिलौना नहीं… कट्टर इस्लामी मानसिकता पर बैन लगाओ, OpIndia पर नहीं: हज पर यौन शोषण की खबरें 100% सच

हज पर मुस्लिम महिलाओं और बच्चियों का यौन शोषण होता है, यह खबर 100% सत्य है। BBC, Washington Post और अरब देश की मीडिया में भी यह छपा है।

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -