Thursday, January 20, 2022
Homeरिपोर्टमीडियाYouTube पर भी बेरोजगार हो जाएँगे अभिसार शर्मा: वेबसाइट के ऑफिस और मालिक...

YouTube पर भी बेरोजगार हो जाएँगे अभिसार शर्मा: वेबसाइट के ऑफिस और मालिक के घर ED का छापा

बताया जा रहा है कि ईडी कुछ संदिग्ध कंपनियों से विदेशी धन लेने और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में न्यूज़ क्लिक वेबसाइट के डायरेक्टर्स और उनके कार्यालयों पर छापे मार रही है।

‘न्यूज़क्लिक’ वेबसाइट के मालिकों और शेयर होल्डर्स के घर प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने रेड मारी है। धान को गेहूँ बताकर चर्चा में आने वाले पत्रकार से ट्विटर ट्रोल बने अभिसार शर्मा (Abhisar Sharma) ने यह जानकारी दी। रिपोर्ट कम और अपना दुखड़ा सुनाते हुए उन्होंने यह भी लिखा कि ‘न्यूज़क्लिक’ ही वो वेबसाइट है, जिस पर वो अपने वीडियो पोस्ट करते हैं।

ये सूचना खुद गालीबाज अभिसार शर्मा ने अपने ट्विटर अकाउंट से दी है। रेड की सूचना देते हुए अभिसार शर्मा ने लिखा है, “इसी चैनल (न्यूज़क्लिक) पर मैं अपने शो ‘बोल के लब आज़ाद हैं तेरे’ और ‘न्यूज़ चक्र’ करता हूँ।

गौरतलब है कि यूट्यूब पर वीडियो बनाने और ट्विटर पर लोगों को गाली देने से पहले अभिसार शर्मा समाचार चैनल ABP न्यूज पर एंकरिंग करते थे। बताया जा रहा है कि ईडी कुछ संदिग्ध कंपनियों से विदेशी धन लेने और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में न्यूज़ क्लिक वेबसाइट के डायरेक्टर्स और उनके कार्यालयों पर छापे मार रही है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, ये छापेमारी न्यूज़ क्लिक के मालिक प्रबीर पुरकायस्थ और संपादक प्रांजल के घर पर की जा रही हैं। ‘द हिंदू’ के अनुसार, यह छापेमारी दिल्ली स्थित कार्यालय पर की जा रही है। अभिसार शर्मा के इस ट्वीट पर लोग अपनी-अपनी तरह से प्रतिक्रिया दे रहे हैं। कुछ ट्विटर यूजर्स का कहना है कि क्या इस रेड के बाद ये (अभिसार) अब यूट्यूब पर भी बेरोजगार हो जाएगा?

इस रेड के बाद ट्विटर पर अब वामपंथी मीडिया गिरोह भी सक्रीय हो चुका है और इस रेड को लेकर सीधा सरकार पर ही हमला बोल दिया है। रोहिणी सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया रखते हुए लिखा है, “यह सरकार अब भी इसका ध्यान भी नहीं रखती है कि प्रतिशोध की भावना इतनी स्पष्ट ना दिखाई दे।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नसीरुद्दीन के भाई जमीर उद्दीन शाह ने की हिंदू-मुस्लिम के बीच शांति की वकालत, भड़के इस्लामी कट्टरपंथियों ने उन्हें ट्विटर पर घेरा

जमीर उद्दीन शाह वही व्यक्ति हैं जिन्होंने गोधरा दंगे पर गुजरात की तत्कालीन मोदी सरकार के खिलाफ झूठ फैलाया था।

‘उस समय माहौल बहुत खौफनाक था…’: वे घाव जो आज भी कैराना के हिंदुओं को देते हैं दर्द, जानिए कैसे योगी सरकार बनी सुरक्षा...

योगी सरकार की क्राइम को लेकर जीरो टॉलरेस की नीति ही वह सुरक्षा कवच है जो कैराना के हिंदुओं को भरोसा दिलाती है कि 2017 से पहले का वह दौर नहीं लौटेगा, जिसकी बात करते हुए वे आज भी सहम जाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,380FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe