Saturday, July 20, 2024
Homeरिपोर्टमीडियाभारत में शुरू हुआ हॉकी वर्ल्ड कप, लेकिन मेनस्ट्रीम मीडिया का फोकस अब भी...

भारत में शुरू हुआ हॉकी वर्ल्ड कप, लेकिन मेनस्ट्रीम मीडिया का फोकस अब भी क्रिकेट पर: कवरेज न होने पर पूर्व कप्तान बोले – हताश हूँ

आकाशदीप नाम के यूजर लिखते हैं, "हॉकी विश्व कप शुरू हो रहा है और पूरा राष्ट्रीय मीडिया और यहाँ तक कि प्रिंट अखबार भी शांत है, टीवी पर एक भी शो या टीम इंडिया के बारे में लेख नहीं लिखा जा रहा है। सभी सार्वजनिक मामलों में व्यस्त हैं, लेकिन WC की कीमत पर और उस हॉकी पर जो हमारा गौरव है।"

भारत में जो स्थान क्रिकेट को मिला, वो स्थान आज तक किसी अन्य खेल को नहीं मिला। इसमें मीडिया की भी बड़ी भूमिका रही है। क्रिकेट में अथाह पैसे के कारण मीडिया इसे खूब प्रचारित किया, जिसके कारण यह आम लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय हो गया है। वहीं, हॉकी जैसे भारत के लोकप्रिय खेल भी हाशिए पर नजर आ रहे हैं।

क्रिकेट की तरह हॉकी एवं अन्य खेलों को मीडिया कवरेज नहीं मिलता। मेनस्ट्रीम मीडिया भी इससे जुड़ी खबरें दिखाने में हिचकती है। सबसे बड़ी बात यह है कि देश में हॉकी विश्वकप का आयोजन हो रहा है, लेकिन यह मेनस्ट्रीम मीडिया से गायब है। इस पर पूर्व कप्तान ने हताशा जाहिर की है।

BCCI के सचिव ने भी हॉकी विश्वकप को लेकर ट्वीट किया। ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम में शुक्रवार (13 जनवरी 2023) से एफआईएच पुरुष हॉकी विश्व कप 2023 का आगाज हुआ। इसमें अर्जेंटीना ने पहले मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को 1-0 से हरा दिया।

जय शाह ने लिखा, “भारत भुवनेश्वर और राउरकेला में आयोजित #FIHMensHockeyWorldCup के लिए तैयार है! सबसे बड़े मंच पर घरेलू दर्शकों के सामने स्वर्ण जीतना एक शानदार उपलब्धि होगी। पूरा देश आप पर विश्वास करता है और आपकी जय-जयकार करेगा! गुड लक, #टीमइंडिया।”

वहीं, भारत में आयोजित होने के बावजूद मेनस्ट्रीम मीडिया में हॉकी विश्वकप को पर्याप्त कवरेज नहीं मिलने पर सोशल मीडिया के यूजर भड़के हुए हैं। सिद्धार्थ घोष नाम के यूजर ने लिखा, “हॉकी विश्व कप की मेजबानी करना भारत और हमारे प्यारे राज्य ओडिशा के लिए बहुत गर्व का क्षण है। भारतीय टीम के लिए पूर्ण समर्थन। रियलिटी चेक कोई मेन स्ट्रीम मीडिया इस घटना को कवर नहीं कर रहा है। #HockeyWorldCup2023 #HockeyIndia”

रामनिवास चौधरी ने लिखा, “हॉकी विश्व कप आज से ओडिशा में शुरू हो रहा है। मीडिया केवल क्रिकेट में व्यस्त है। आइए अपना राष्ट्रीय खेल मनाते हैं। #हॉकी वर्ल्ड कप।”

अनिरुद्ध गर्ग ने लिखा, “हॉकी कवरेज की कमी पर मुख्यधारा के मीडिया और शीर्ष भारतीय समाचार पत्रों से बेहद निराशा। हॉकी विश्व कप कल से शुरू हो रहा है। भारत इसकी मेजबानी कर रहा है। हमारे अपने खिलाड़ियों पर भी बमुश्किल कोई लेख लिखा गया।”

सनातनी वैदिक नामक यूजर लिखता है, “हॉकी विश्व कप का मीडिया में कोई कवरेज नहीं है… फीफा को वहाँ बेहतर कवरेज मिली, जहाँ भारत न तो मेजबानी कर रहा था और न ही भाग ले रहा था… कल भारत-स्पेन का मैच है… हॉकी हमारा राष्ट्रीय खेल है…इस मीडिया को सिर्फ क्रिकेट दीवानी मीडिया मत बनने दीजिए… अपना उत्साह दिखाइए और समर्थन कीजिए…।”

आकाशदीप नाम के यूजर लिखते हैं, “हॉकी विश्व कप शुरू हो रहा है और पूरा राष्ट्रीय मीडिया और यहाँ तक कि प्रिंट अखबार भी शांत है, टीवी पर एक भी शो या टीम इंडिया के बारे में लेख नहीं लिखा जा रहा है। सभी सार्वजनिक मामलों में व्यस्त हैं, लेकिन WC की कीमत पर और उस हॉकी पर जो हमारा गौरव है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -