Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापिता-भाई नेत्रहीन, पत्नी गर्भवती... जिस दीपू की आतंकियों ने गोली मारकर की हत्या, वह...

पिता-भाई नेत्रहीन, पत्नी गर्भवती… जिस दीपू की आतंकियों ने गोली मारकर की हत्या, वह सर्कस में काम कर पालता था 6 लोगों का परिवार

"हम बर्बाद हो गए हैं। चार साल से मेरी आँखें खराब हैं। मेरे पिता पहले से नेत्रहीन हैं। हम दोनों काम नहीं कर सकते। हमें न्याय चाहिए। आखिर हमारी क्या गलती थी?"

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने सोमवार (29 मई 2023) की शाम दीपू कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी। वे उधमपुर के रहने वाले थे। सर्कस में काम करते थे। उनकी हत्या के बाद आतंकी फरार हो गए। उनकी तलाश जारी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दीपू सर्कस में काम कर 6 लोगों का परिवार पालते थे। उनके पिता और भाई नेत्रहीन हैं। भाई की पत्नी और बच्चों की जिम्मेदारी भी उन पर ही थी। खुद दीपू की पत्नी गर्भवती हैं। दीपू अनंतनाग के जंगलात मंडी इलाके में रह रहे थे। यहाँ एक मेले में सर्कस चल रहा था। सर्कस कंपनी के साथ वे तीन महीने पहले ही अनंतनाग आए थे। सोमवार की रात बाइक सवार आतंकियों ने उन्हें गोली मारी और फरार हो गए। दीपू को अस्पताल ले जाया गया जहाँ डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वारदात के बाद पूरे इलाके को सील कर हमलावरों की तलाश की जा रही है।

दीपू घर का इकलौता कमाने वाला था। उधमपुर में रह रहे दीपू के भाई का कहना है, “हम बर्बाद हो गए हैं। चार साल से मेरी आँखें खराब हैं। मेरे पिता पहले से नेत्रहीन हैं। हम दोनों काम नहीं कर सकते। हमें न्याय चाहिए। आखिर हमारी क्या गलती थी?”

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने इस घटना की कड़ी निंदा की। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है, “उधमपुर के दीपू की हत्या की जानकारी पाकर स्तब्ध हूँ। अनंतनाग में काम कर वह परिवार के लिए 2 वक्त की रोटी जुटा रहा था। कश्मीर में टारगेट किलिंग्स पर अंकुश लगाना जरूरी हो गया है। भाजपा (BJP) कार्यकर्ता उधमपुर स्थित दीपू के घर में पहुँच गए हैं। उनके परिवार की पूरी सहायता की जाएगी।”

बता दें हाल का महीनों में कश्मीर में टारगेट किलिंग की यह दूसरी घटना है। इससे पहले 26 फरवरी को कश्मीर के पुलवामा में संजय शर्मा नाम के हिंदू को मार दिया गया था। इस हत्या की जिम्मेदारी कश्मीर फ्रीडम फाइटर्स ग्रुप ने ली थी। पाकिस्तानी आतंकी संगठनों के इशारे पर काम करने वाले इस टेरर ग्रुप ने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए पत्र जारी किया था। इसमें कहा था कि कश्मीर में गैर मुस्लिमों को रहने नहीं दिया जाएगा। कश्मीरी पंडित, अन्य हिंदू चाहे वो पर्यटक ही क्यों न हो, मार दिया जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -