Friday, June 21, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाकश्मीर के कुलगाम में एक और हिंदू की हत्या, आतंकियों ने बैंक में घुसकर...

कश्मीर के कुलगाम में एक और हिंदू की हत्या, आतंकियों ने बैंक में घुसकर राजस्थान के विजय कुमार को मारी गोलियाँ

इससे पहले आतंकियों ने कुलगाम में ही हिंदू महिला टीचर रजनी बाला की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वहीं बडगाम में कश्मीरी पंडित राहुल भट को मौत के घाट उतार दिया था।

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक और हिंदू की हत्या कर दी है। गुरुवार (2 जून 2022) को आतंकियों ने कुलगाम में एक बैंक मैनेजर पर फायरिंग की। बैंक मैनेजर विजय कुमार को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहाँ इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। विजय कुमार राजस्थान के रहने वाले थे।

विजय कुमार कुलगाम के मोहनपोरा में इलाकी देहाती बैंक मे तैनात थे। जानकारी के मुताब‍िक, दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के आरेह मोहनपुरा गाँव में गुरुवार को आतंकवादी बैंक में घुस गए और वहाँ पर उन्होंने बैंक मैनेजर को गोल‍ियों से भून डाला और मौके से फरार हो गए। बताया जा रहा है कि विजय ने चार दिन पहले ही बैंक ज्वाइन किया था।

वह राजस्थान के हनुमानगढ़ के रहने वाले थे। सुरक्षाबलों ने इलाके को घेरकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। इस बीच कश्मीर में काम कर रहे हिंदू समुदाय के लोगों ने जम्मू में विरोध-प्रदर्शन कर सुरक्षा की माँग की।

इससे पहले आतंकियों ने कुलगाम में ही हिंदू महिला टीचर रजनी बाला की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वहीं बडगाम में कश्मीरी पंडित राहुल भट को मौत के घाट उतार दिया गया था। घाटी में आतंकी लगातार हिंदू नागरिक और सरकारी कर्मचारियों को निशाना बना रहे हैं। हाल ही में बडगाम में कश्मीरी पंडित राहुल भट और कुलगाम में महिला टीचर की हत्या के विरोध में बड़े स्तर पर विरोध-प्रदर्शन भी हुए। कश्मीरी पंडितों की माँग थी कि सभी प्रवासी सरकारी कर्मचारियों को सुरक्षित स्थान पर तैनात किया जाए। 

सुरक्षित स्थानों पर होगी कर्मचारियों की पोस्टिंग

जम्मू-प्रशासन ने आतंकियों वारदातों को देखते हुए बुधवार (1 जून 2022) को प्रधानमंत्री विशेष पैकेज के तहत कश्मीर में तैनात सभी हिंदू कर्मचारियों को जिला मुख्यालय पर स्थानांतरण करने का निर्णय लिया था। आदेश के मुताबिक, कश्मीर में पीएम पैकेज के तहत तैनात हिंदू समुदायों के कर्मचारियों को तुरंत सुरक्षित स्थानों पर तैनात किया जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -