Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाज'जहाँ कोई हिलता दिखे, तुरंत गोली मारो' : 26/11 वाले ताज होटल में UNSC...

‘जहाँ कोई हिलता दिखे, तुरंत गोली मारो’ : 26/11 वाले ताज होटल में UNSC की बैठक, भारत ने सबको सुनवाई PAK आतंकी की ऑडियो

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि 26 नवंबर 2008 को किया गया आतंकवादी हमला सिर्फ मुंबई पर ही नहीं, बल्कि समूचे अंतरराष्ट्रीय समुदाय पर था। अभी भी इस हमले का हिसाब पूरा नहीं हुआ है। इससे जुड़े साजिशकर्ता और अपराधियों को सजा दिलाने का सिलसिला जारी है।

मुंबई आतंकी हमले (Mumbai Terrorist Attack) को अगले महीने 14 साल पूरे हो जाएँगे। उससे पहले एक बार फिर भारत ने पाकिस्तान को UNSC की आतंकवाद विरोधी समिति के सामने बेनकाब किया। दरअसल, शुक्रवार (28 अक्टूबर 2022) को मुंबई के ताज होटल (Taj Hotel) में चल रही संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में भारत ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने आतंकी हमले में पाकिस्तान के कनेक्शन का खुलासा किया है।

इस संबंध में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने देश-विदेश के प्रतिनिधियों के सामने एक ऑडियो क्लिप भी पेश किया। यह क्लिप मुंबई के छबाड़ हाउस का है। इसमें पाकिस्तानी आतंकी और 26/11 का साजिशकर्ता साजिद मीर फोन पर आतंकियों को निर्देश दे रहा है, “जहाँ भी मूवमेंट (हिलता) दिखे। कोई बंदा छत पर चल रहा हो या कोई आ रहा है या जा रहा है, उस पर फायर ठोको (गोली चलाओ)। उसे नहीं पता वहाँ क्या हो रहा है।” इसके बाद साजिद मीर को जबाव देते हुए फोन पर दूसरा आतंकी उसे ऐसा करने का भरोसा देता है।

विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने कहा कि 26 नवंबर 2008 को किया गया आतंकवादी हमला सिर्फ मुंबई पर ही नहीं, बल्कि समूचे अंतरराष्ट्रीय समुदाय पर था। अभी भी इस हमले का हिसाब पूरा नहीं हुआ है। इससे जुड़े साजिशकर्ता और अपराधियों को सजा दिलाने का सिलसिला जारी है। मुंबई में चल रही इस बैठक में विदेश मंत्री एस जयशंकर के अलावा यूके के विदेश मंत्री जेम्स क्लेवर्ली, घाना के विदेश मंत्री, यूएई के गृहमंत्री समेत अन्य देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए।

साजिद मीर पर इनाम

साजिद मीर के बारे में कहा जाता है कि वह 2010 तक लश्कर-ए-तैयबा के ऑपरेशन्स चीफ जकी-उर-रहमान लखवी की सुरक्षा का जिम्मा संभालता था। वह विदेश में आतंकियों की भर्ती करता था और पाकिस्तान में भी टेरर कैंप चलाता था। वह और आईएसआई के इंडियन मुजाहिदीन ऑपरेशन का भी हिस्सा था। एफबीआई ने साजिद मीर पर 50 लाख डॉलर (412415000 रुपए) का इनाम रखा है। अमेरिका और भारत इस आतंकी को पिछले एक दशक से खोज रहे हैं। साजिद मीर ने डेविड कोलमैन हेडली समेत बाकी आतंकवादियों के साथ मुंबई में आतंकवादी हमला करने की योजना बनाई थी। उसे लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज मोहम्मद सईद का करीबी माना जाता है। बता दें कि यह मीटिंग मुंबई के उसी ताज पैलेस होटल में हो रही है, जिसे 26/11 हमले में आतंकियों ने निशाना बनाया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -