Wednesday, September 28, 2022
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षानूपुर शर्मा पर फिदायीन हमले की योजना, PDF पढ़वाने देवबंद जाता था आतंकी नदीम;...

नूपुर शर्मा पर फिदायीन हमले की योजना, PDF पढ़वाने देवबंद जाता था आतंकी नदीम; 3 महीने में 18 बार मिली मदरसे में लोकेशन: ATS खंगाल रही कुंडली

सहारनपुर गंगोह इलाके के गाँव कुंडाकला के रहने वाले नदीम की तालीम मदरसे में हुई है। उसकी रिश्तेदारी पाकिस्तान में भी है। वह रात में जाग कर नूपुर शर्मा के हत्या की रूपरेखा बना रहा था।

उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) की आतंकवाद निरोधक दस्ते (ATS) द्वारा हाल ही में गिरफ्तार किए जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-E-Mohammad) के आतंकी मोहम्मद नदीम को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। नदीम पाकिस्तान (Pakistan) से उर्दू (Urdu) में आए फिदायीन हमलों से संबंधित PDF फाइल को पढ़वाने के लिए मदरसे तक आता था।

इस PDF में फिदायीन हमलों के बारे में जानकारी दी गई होती थी। इसी में भाजपा (BJP) की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) की हत्या का जिक्र था। नदीम अंग्रेजी और उर्दू भाषा नहीं जानता था। इसलिए वह मदरसे तक आता था। एजेंसियों को शंका है कि वह यहाँ आतंकवाद के लिए भी लोगों को उकसाता था।

सूत्रों के हवाले ने दैनिक भास्कर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि यही कारण है कि पिछले 3 महीने में उसकी लोकेशन 18 बार मदरसे में मिली है। पुलिस इस बात की भी जाँच कर रही है कि वह यहाँ किन-किन लोगों के संपर्क में था। रिपोर्ट के मुताबिक, नदीम उत्तर प्रदेश-बिहार सहित कई राज्यों के युवकों को झाँसे में लेकर आतंकी संगठनों में शामिल होने का दबाव बनाता था।

नदीम आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के साथ-साथ तहरीक-ए-तालिबान (TeT) और पाकिस्तान के TTP के भी संपर्क में था। वह फदायीन हमलों की ट्रेनिंग लेने के लिए पाकिस्तान जाने वाला था। उसके मोबाइल से फिदायीन हमले का PDF पुलिस को मिला है। बता दें कि कि ATS ने नदीम को कोर्ट में पेश किया था, जहाँ से उसे 12 दिन की रिमांड पर भेजा गया है।

ATS ने हाल ही में फतेहपुर से हबीबुल को गिरफ्तार किया था। वह फिदायीन हमले की तैयारी कर रहा था। इसके साथ ही वह मुस्लिम युवकों को दीन के नाम पर बहकाकर उन्हें आतंकी गतिविधियों के लिए तैयार कर रहा था।

बता दें कि नदीम ने मदरसे से शिक्षा ली है। सहारनपुर गंगोह इलाके के गाँव कुंडाकला के रहने वाले नदीम की रिश्तेदारी पाकिस्तान में है। वह रात में जाग कर नूपुर शर्मा के हत्या की रूपरेखा बना रहा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मूर्तिपूजकों को जहाँ देखो, वहीं लड़ो-काटो… ऐसे बनाओ IED बम: PFI पर 5 साल का बैन क्यों लगा, पढ़िए इसके कुकर्मों की पूरी लिस्ट

भारत सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) और उससे जुड़ी 8 संस्थाओं पर बैन लगा दिया है। PFI की देश विरोधी गतिविधियों के कारण...

‘ब्रह्मांड के केंद्र’ में भारत माता की समृद्धि के लिए RSS प्रमुख मोहन भागवत ने की प्रार्थना, मेघालय के इसी जगह पर है ‘स्वर्णिम...

सेंग खासी एक सामाजिक-सांस्कृतिक और धार्मिक संगठन है जिसका गठन 23 नवंबर, 1899 को 16 युवकों ने खासी संस्कृति व परंपरा के संरक्षण हेतु किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,749FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe