Friday, August 12, 2022
Homeसोशल ट्रेंड'क्यों %$# की तरह आकर खड़ी हो जाती हूँ': जातिसूचक कमेंट कर फँसी युविका...

‘क्यों %$# की तरह आकर खड़ी हो जाती हूँ’: जातिसूचक कमेंट कर फँसी युविका चौधरी

युविका से पहले इसी तरह के शब्द का इस्तेमाल करने को लेकर मुनमुन दत्ता विवादों में आई थीं।

टीवी एक्सट्रेस मुनमुन दत्ता के बाद अब ओम शांति ओम जैसी बॉलीवुड फिल्म में काम कर चुकीं अभिनेत्री युविका चौधरी ने जाति विशेष के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की है। उन्होंने अपने पति प्रिंस नरूला का वीडियो बनाते हुए जाति विशेष के लिए गलत शब्द बोले। इसके बाद ट्विटर पर #ArrestYuvikaChoudhary ट्रेंड करने लगा।

वीडियो में देख सकते हैं कि युविका के पति प्रिंस नरूला अपने बाल कटवा रहे हैं और वह वीडियो में कहती हैं, “ये देखिए। हमेशा जब भी मैं व्लॉग बनाती हूँ क्यों मैं %$# की तरह आकर खड़ी हो जाती हूँ। मुझे इतना टाइम नहीं मिलता…।”

इस 9 सेकेंड के क्लिप के वायरल होने के बाद से ट्विटर पर उनकी गिरफ्तारी की माँग हो रही है। एक यूजर का कहना है, “हम तो समझते थे कि पढ़ी-लिखी लडकियाँ समाज के पुराने संस्कारों से ऊपर उठकर होंगी। लेकिन तुम्हारे दिमाग में समाज की कुछ जाति के लिए गोबर भरा है। जो संस्कार घर मे दिए जाते हैं बच्चे आगे चलकर उन्हीं संस्कारों से अवगत कराते हैं।”

बता दें कि सोशल मीडिया पर गिरफ्तारी की माँग उठने के बाद युविका ने वीडियो में इस्तेमाल किए गए शब्द पर माफी माँग ली है। उन्होंने कहा है, “मैंने मेरे लास्ट व्लॉग में जिस शब्द का इस्तेमाल किया उसका मुझे मलतब नहीं पता था। मेरा मतलब किसी को हर्ट करना नहीं था और मैं किसी को हर्ट करने के लिए ऐसा कभी नहीं कर सकती। मैं हर एक से माफी माँगती हूँ। मुझे आशा है कि आप समझेंगे। सभी को प्यार।”

ओम शांति ओम जैसी कुछ बॉलीवुड फिल्मों के अलावा युविका चौधरी कुमकुम भाग्य, अम्मा, नच बलिए 9, बिगबॉस 9 जैसे कई टीवी सीरियल्स में काम कर चुकी हैं। वह एमटीवी रोडीज विनर प्रिंस नरूला की पत्नी हैं। दोनों की वीडियोज सोशल मीडिया पर आती रहती हैं।

युविका से पहले इसी तरह के शब्द का इस्तेमाल करने को लेकर मुनमुन दत्ता विवादों में आई थीं। वीडियो में उन्होंने जाति विशेष पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि वह *&^ नहीं दिखना चाहतीं। इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने उनके खिलाफ़ गुस्सा जाहिर किया था और उनकी गिरफ्तारी की माँग की थी। बाद में उनके विरुद्ध एससी/एसटी एक्ट के तहत केस भी दर्ज हो गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द सैटेनिक वर्सेज’ के लेखक सलमान रुश्दी पर जुमे के दिन चाकू से हमला, न्यूयॉर्क में हुई वारदात

'द सैटेनिक वर्सेज' के लेखक उपन्यासकार सलमान रुश्दी को न्यूयॉर्क में भाषण देने से पहले पर चाकू से हमला किया गया है।

‘मानसखण्ड मंदिर माला मिशन’ के जरिए प्राचीन मंदिरों को आपस में जोड़ेंगे CM धामी, माँ वाराही देवी मंदिर में पूजा-अर्चना कर बगवाल में हुए...

सीएम धामी ने कुमाऊँ के प्राचीन मंदिरों को भव्य बनाने और उन्हें आपस में जोड़ने के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन की शुरुआत की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe