Tuesday, July 27, 2021
Homeसोशल ट्रेंडदलित नेता डॉ उदित राज के समर्थकों ने हैक की कॉन्ग्रेस आईटी सेल की...

दलित नेता डॉ उदित राज के समर्थकों ने हैक की कॉन्ग्रेस आईटी सेल की ज़ूम मीटिंग: उठाई उन्हें ‘राष्ट्रीय अध्यक्ष’ बनाने की माँग

इस बार उदितियंस ने एक कदम आगे बढ़ते हुए कॉन्ग्रेस आईटी सेल की ज़ूम मीटिंग ही हैक कर ली। ज़ूम मीटिंग पर इस तरह धावा बोलने के बाद उदितियंस माँग उठाने लगे कि कॉन्ग्रेस का अध्यक्ष पद डॉ उदित राज के हवाले किया जाए। इस मीटिंग में कॉन्ग्रेस दलित नेता डॉ उदित राज खुद शामिल हुए थे।

देश में ऐसे कम ही नेता हैं जिन्हें कॉन्ग्रेस नेता डॉ उदित राज जितना स्नेह और समर्थन हासिल होता है। सभी जानते हैं कि डॉ उदित राज के चाहने वालों की तादाद कितनी ज़्यादा है और वह अपने चाहने वालों के बीच कितने लोकप्रिय हैं, जिन्हें आम तौर पर उदितियंस (Uditians) कहा जाता है। उनके चाहने वालों ने एक बार फिर अपने प्रबुद्ध नेता के लिए अपनी वफ़ादारी और भक्ति दिखाई है हालाँकि, ऐसा करते हुए वह अक्सर कुछ ज़्यादा ही दूर चले जाते हैं।  

कॉन्ग्रेस के सामने फ़िलहाल नेतृत्व का संकट है ऐसे में डॉ उदित राज का वफ़ादार ‘फैन बेस’ पुरजोर माँग उठा रहा है कि उनके नेता को पार्टी का अध्यक्ष बनाया जाए। उदित राज के चाहने वाले अक्सर ट्विटर पर उनके समर्थन में हैशटैग ट्रेंड कराते हैं और उनका समर्थन करते हुए नज़र आते हैं। कॉन्ग्रेस नेता सोशल मीडिया की इस पूरी प्रक्रिया का भरपूर आनंद भी लेते हैं। 

उदितियंस ने हैक की कॉन्ग्रेस की ज़ूम मीटिंग, कहा उदित राज को बनाया जाए राष्ट्रीय अध्यक्ष 

इस बार उदितियंस ने एक कदम आगे बढ़ते हुए कॉन्ग्रेस आईटी सेल की ज़ूम मीटिंग ही हैक कर ली। ज़ूम मीटिंग पर इस तरह धावा बोलने के बाद उदितियंस माँग उठाने लगे कि कॉन्ग्रेस का अध्यक्ष पद डॉ उदित राज के हवाले किया जाए। इस मीटिंग में कॉन्ग्रेस दलित नेता डॉ उदित राज खुद शामिल हुए थे, फिर उनके एक समर्थक ने मीटिंग हैक की और कहा कि उदित राज को पार्टी का अध्यक्ष बनाया जाए। 

अपने चाहने वालों द्वारा उठाई गई इस माँग पर डॉ उदित राज पूरी नरमी से पल्ला झाड़ते हुए नज़र आए। उन्होंने कहा, “ये भाजपा आईटी सेल ने यह हरकत कॉन्ग्रेस की मीटिंग रोकने के लिए की है। भाजपा के पूरे आईटी सेल को इस प्रोपेगेंडा प्रचार की ज़िम्मेदारी मिली है कि मुझे कॉन्ग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बना दिया जाए।” लेकिन उनके वफ़ादार इस बात से ज़रा भी सहमत नहीं हुए, बल्कि वह इस बात से निराश हुए कि उनके प्रयासों का श्रेय भाजपा आईटी सेल को दे दिया गया। 

 कॉन्ग्रेस नेता उदित राज की प्रचंड लोकप्रियता 

डॉ उदित राज को मिलने वाला समर्थन कोई हाल फ़िलहाल की प्रक्रिया नहीं है बल्कि पिछले कुछ ही समय में यह तेजी से बढ़ा है। नवंबर की शुरुआत में जब अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के परिणामों का ऐलान होने वाला था, उदितियंस ने ट्विटर पर ‘DrUditRajForPOTUS’ ट्रेंड करा दिया। उनका कहना था कि उदित राज की विशेषताओं और क्षमताओं को ध्यान में रखते हुए उन्हें POTUS (अमेरिकी राष्ट्रपति) बनाना नाइंसाफी होगी।

अगस्त 2020 के दौरान जब 23 कॉन्ग्रेसी नेताओं ने अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी को पार्टी संकट को लेकर पत्र लिखा था तब अफ़वाहें सामने आई थीं कि कॉन्ग्रेस किसी गैर-गाँधी व्यक्ति को पार्टी का अध्यक्ष चुन सकती है। उसके ठीक बाद से ही ट्विटर पर #UditRajForCongressPresident ट्रेंड करने लगा। ऐसी अफ़वाहों के सामने आते ही उदितियंस ने भी अपनी कोशिशों की रफ़्तार बढ़ा दी। 

जहाँ एक तरफ डॉ उदित राज ने इस माँग को सिरे से खारिज कर दिया कि उन्हें कॉन्ग्रेस का अध्यक्ष बनाया जा रहा है। उनके मुताबिक़ यह भाजपा आईटी सेल की साजिश थी लेकिन उनके चाहने वालों का कहना है कि उनकी यही माँग है और ऐसा करने के लिए उन्हें किसी से रुपए नहीं मिले। श्री उदित राज जी अक्सर लोगों के असल मुद्दों को लेकर मुखर रहते हैं और अपनी माँगों में वज़न भी रखते हैं जो कि राहुल गाँधी के बयानों में नहीं नज़र आता है। यह बात एक डिजिटल एक्टिविस्ट और उदित राज के घनघोर समर्थक ने ऑपइंडिया से बात करते हुए कही।     

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कभी ट्रैकसूट, डाइट के लिए संघर्ष करने वाली भारतीय महिला बॉक्सर लवलिना बोरगोहेन ओलंपिक में पदक से सिर्फ एक कदम दूर

लवलिना क्वार्टर फाइनल में शुक्रवार (30 जुलाई 2021) को चीनी ताइपे की निएन चिन चेन से भिड़ेंगी। चिन चेन पूर्व वर्ल्ड चैंपियन हैं और मौजूदा खेलों में उन्हें चौथी वरीयता प्राप्त है।

नाम: नूर मुहम्मद, काम: रोहिंग्या-बांग्लादेशी महिलाओं और बच्चों को बेचना; 36 घंटे चला UP पुलिस का ऑपरेशन, पकड़ा गया गिरोह

देश में रोहिंग्याओं को बसाने वाले अंतरराष्ट्रीय मानव तस्करी के गिरोह का उत्तर प्रदेश एटीएस ने भंडाफोड़ किया है। तीन लोगों को अब तक गिरफ्तार किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,464FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe