Wednesday, July 24, 2024
Homeसोशल ट्रेंडचोट्टा कश्मीरी… पत्थरबाजों, आतंकियों, अलगाववादियों को 'ठोकने' का पाठ पढ़ाया खान सर ने… वीडियो...

चोट्टा कश्मीरी… पत्थरबाजों, आतंकियों, अलगाववादियों को ‘ठोकने’ का पाठ पढ़ाया खान सर ने… वीडियो देख भड़के इस्लामवादी

"एक को गुजरात भेजो, दूसरे को कन्याकुमारी... एक को बिहार लेकर आओ, लिट्ठी चोखा खाना सिखाएँगे और जो ज्यादा पत्थरबाजी कर रहे हैं उन्हें अंडमान निकोबार भेज दो... कश्मीर पूरी तरह शान्त हो जाएगा।"

बिहार के पटना वाले खान सर एक बार फिर से चर्चा में हैं। उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वे कश्मीर में अलगाववाद पर बात करते सुने जा सकते हैं। इस वीडियो को देखकर इस्लामवादी भड़क गए हैं। खान सर फैन्स 100c (khansirfans100c) द्वारा यूट्यूब पर अपलोड किए गए इस वीडियो को इस्लामवादी ट्विटर पर शेयर कर उनके चैनल को बैन करने की माँग कर रहे हैं।

यूट्यूब की दुनिया के चर्चित शिक्षकों में से एक खान सर को इस्लामवादी निशाना बना रहे हैं। दरअसल खान सर फैन्स 100c यूट्यूब चैनल द्वारा 5 जनवरी को एक शॉर्ट अपलोड किया गया। इस वीडियो को खान सर लाइव क्लास तिब्बत बनाम कश्मीर (khan sir live class Tibet vs Kashmir) नाम से अपलोड किया गया है। जैसा कि वीडियो के टाइटल से ही प्रतीत होता है, इस वीडियो में खान सर तिब्बत पर चीनी कब्जे के साथ कश्मीर में अलगाववाद पर चर्चा कर रहे हैं। वीडियो में खान सर कह रहे हैं कि चीन ने तिब्बत पर 1959 में कब्जा कर लिया और वहाँ के लोगों की पिटाई की। फिर भी वहाँ कोई नहीं कहता कि हमें आजादी चाहिए।

वीडियो में खान सर आगे कह रहे हैं कि चीन ने तिब्बत के परिवार के सदस्यों को अलग-अलग इलाकों में भेज दिया। परिवार के सदस्य आज तक एक दूसरे की तलाश कर रहे और तिब्बत के आजादी की माँग नहीं उठ सकी। खान सर ने कश्मीर में भी यही प्रयोग करने की सलाह दी। उन्होंने कहा:

“चोट्टा कश्मीर वाला यहीं रह गया है। भारत सरकार को चाहिए कि एक को गुजरात भेज दे, दूसरे को कन्याकुमारी भेज दो… एक को बिहार लेकर आओ, लिट्ठी चोखा खाना सिखाएँगे लोग और जो ज्यादा पत्थरबाजी कर रहे हैं उन्हें अंडमान निकोबार भेज दो कश्मीर पूरी तरह शान्त हो जाएगा।”

उनके इस वीडियो को ट्विटर पर मीर फैसल और आरजे सायेमा जैसे इस्लामवादियों ने ट्वीट किया है। मीर फैसल ने ट्विटर पर थ्रेड के जरिए न सिर्फ इस फैन क्लब वाले वीडियो को शेयर किया बल्कि खान सर के ऑफिसियल चैनल का लिंक शेयर करते हुए यूट्यूब से इस पर कार्रवाई की माँग भी की।

आरजे सायेमा ने एक कदम आगे बढ़ते हुए इस ट्वीट को शेयर किया और खान सर को खतरनाक जीव करार दिया। बता दें कि खान सर और उनका चैनल खान जीएस रिसर्च सेंटर (Khan GS Research Centre) देशभर में लोकप्रिय है। इसके 20 मिलियन (2 करोड़) सब्सक्राइबर हैं। वे करेंट अफेयर्स और जीएस के टॉपिक्स को सरलता और खास अंदाज में समझाते हैं, जिससे लोग खासकर स्टूडेंट्स उनके दीवाने हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -