Wednesday, July 28, 2021
Homeसोशल ट्रेंडOh God का मतलब 'या अल्लाह'... गूगल यही बता रहा, बस 2 स्टेप से...

Oh God का मतलब ‘या अल्लाह’… गूगल यही बता रहा, बस 2 स्टेप से कंपनी को बताइए उसकी गलती

लोगों ने गूगल पर हिंदी अनुवाद के नाम पर इस्लामी सामग्री परोसने का आरोप लगाते हुए कहा कि इसका शुद्ध हिंदी में अनुवाद कुछ और होना चाहिए।

गूगल ट्रांसलेशन पर चल रहे विवाद के बीच अब इसी से जुड़ा एक और हिंदी अनुवाद विवाद का विषय बन चुका है। सोशल मीडिया पर लोग अब गूगल ट्रांसलेशन द्वारा ‘ओह गॉड’ (Oh God) यानी, ‘हे भगवान’ का हिंदी अनुवाद ‘या अल्लाह’ बताने को लेकर ऑनलाइन सर्च इंजन गूगल से सवाल पूछ रहे हैं।

एक ट्विटर यूजर ने इसका स्क्रीनशॉट ट्वीट करते हुए लिखा है, “गूगल, ये क्या है?” दरअसल, इस स्क्रीनशॉट में ‘ओह गॉड’ का हिंदी अनुवाद ‘या अल्लाह’ बताया गया है, जिसका कि हिंदी अनुवाद से कोई मेल ही नहीं है।

हाल ही में गूगल ट्रांसलेशन द्वारा ‘गॉड ब्लेस यू’ का हिंदी अनुवाद ‘अस्सलामु अलैकुम’ बताने को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर बवाल हुआ था। कई लोगों ने स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए इस तथ्य को सामने रखा कि जब वो अंग्रेजी में ‘God bless you’ (गॉड ब्लेस यू) लिखते हैं तो गूगल इसका अनुवाद ‘अस्सलामु अलैकुम’ दिखाता है, जिसका हिंदी भाषा से कोई सम्बन्ध ही नहीं है।

लोगों ने गूगल पर हिंदी अनुवाद के नाम पर इस्लामी सामग्री परोसने का आरोप लगाते हुए कहा कि इसका शुद्ध हिंदी में अनुवाद कुछ और होना चाहिए। बता दें कि ‘अस-सलामु अलायकुम’ अथवा ‘अस्सलामु अलैकुम’ अरबी भाषा का अभिवादन है।

इसे बोल कर मुस्लिम लोग एक-दूसरे के लिए ‘खुदा तुम्हें सलामत रखे’ की दुआ करते हैं। अरब के ईसाई भी इन शब्दों का प्रयोग कर लेते हैं। अरब से ही ये शब्द भारत में आ गए और यहाँ भी इसी तरह से मुस्लिमों ने अभिवादन की प्रक्रिया को अपना लिया। मुस्लिम विद्वान मानते हैं कि हदीस के हिसाब से ऐसा किया जा रहा है।

इस संबंध में आप क्या कर सकते हैं

आप इस ट्रांसलेशन के खिलाफ आपत्ति दर्ज करा सकते हैं। आपको हिंदी अनुवाद के ठीक नीचे दिख रहे ‘Feedback’ (फीडबैक) विकल्प पर क्लिक करना है और गलत ट्रांसलेशन वाला विकल्प चुनना है, जिसके बाद आपसे पूछा जाएगा कि इसका सही अनुवाद क्या है?

गूगल ट्रांसलेशन के साथ फीडबैक का विकल्प भी देता है

अगर गूगल इसका अनुवाद इस तरह से अरबी भाषा में दिखा रहा है, तो इसे हिंदी में ‘हे भगवान’ या ‘हे ईश्वर’ लिखकर ‘गूगल’ को इस अनुवाद को लेकर प्रतिक्रिया दी जा सकती है।

फीडबैक का दूसरा और आखिरी चरण

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद बिकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,696FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe