Sunday, May 22, 2022
Homeसोशल ट्रेंडTwitter ने RSS प्रमुख मोहन भागवत समेत 5 अन्य पदाधिकारियों का वेरिफाइड ब्लू टिक...

Twitter ने RSS प्रमुख मोहन भागवत समेत 5 अन्य पदाधिकारियों का वेरिफाइड ब्लू टिक किया रिस्टोर

इस मामले पर देश भर में ट्विटर की तीखी आलोचना शुरू हो गई। आलोचना के चलते अब ट्विटर ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और कृष्णा गोपाल समेत अन्य संघ पदाधिकारियों के ट्विटर एकाउंट का ब्लू टिक रिस्टोर कर दिया है।

हाल ही में ट्विटर के द्वारा भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत और संघ के ही अन्य पदाधिकारियों के ट्विटर एकाउंट से ब्लू टिक हटा दिया गया था। हालाँकि विवाद होने के बाद उपराष्ट्रपति का ब्लू टिक रिस्टोर कर दिया गया था। अब खबर आ रही है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के ट्विटर एकाउंट का ब्लू टिक भी रिस्टोर कर दिया गया है।

शनिवार (05 जून) को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत समेत 5 अन्य संघ पदाधिकारियों के ट्विटर एकाउंट का ब्लू टिक हटा दिया था और इन सभी को ‘Unverified’ की श्रेणी में डाल दिया था। ये ट्विटर एकाउंट 2019 में वैरिफाई किए गए थे जिसके बाद इन्हें ब्लू टिक मिला था। जिन 5 RSS नेताओं के ट्विटर हैंडल से ब्लू टिक हटाया गया, वो हैं – सुरेश जोशी, सुरेश सोनी, अरुण कुमार, अनिरुद्ध देशपांडे और कृष्णा गोपाल।

इस मामले पर देश भर में ट्विटर की तीखी आलोचना शुरू हो गई। आलोचना के चलते अब ट्विटर ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और कृष्णा गोपाल समेत अन्य संघ पदाधिकारियों के ट्विटर एकाउंट का ब्लू टिक रिस्टोर कर दिया है।

ज्ञात हो कि पिछले कुछ समय से ट्विटर और भारत सरकार के बीच खींचतान बनी हुई है। ट्विटर इस समय भारत के नियम कायदों का मजाक उड़ाने और भाजपा नेताओं को परेशान करने में तुला हुआ है।

काफी समय से भारत में केंद्र सरकार नए आईटी कानूनों के मुताबिक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को अपनी नीतियों में बदलाव करने के लिए कह रही है लेकिन ट्विटर अपनी मनमानी पर अड़ा हुआ है। इस पर कार्रवाई करते हुए शनिवार (05 जून) को ही भारत सरकार ने ट्विटर को नए आईटी कानूनों के अनुपालन के लिए आखिरी नोटिस भेजा है और कहा है कि असफल रहने पर ट्विटर ही कार्रवाई के लिए जिम्मेदार होगा।   

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ज्ञानवापी में सिर्फ शिवलिंग ही नहीं, हनुमान जी की भी मूर्ति: अमेरिका के म्यूजियम में 154 साल पुरानी तस्वीर, नंदी भी विराजमान

ज्ञानवापी विवादित ढाँचे को लेकर जारी विवाद के बीच सामने आई तस्वीर में हनुमान जी के मिलने से हिन्दू पक्ष का दावा और मजबूत हो गया है।

नौगाँव थाने में आग लगाने वाले 5 आरोपितों के घरों पर चला असम सरकार का बुलडोजर: शराबी शफीकुल की मौत पर 2000 कट्टरपंथियों ने...

असम में एक व्यक्ति की मौत के शक में थाने को जलाने के 5 आरोपितों के घरों को प्रशासन ने बुलडोजर से ढहा दिया है। तीन को गिरफ्तार भी किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,078FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe