Thursday, July 18, 2024
Homeसोशल ट्रेंडइंस्टाग्राम के 'Threads' में ट्विटर से क्या है खास? 1 दिन में मिल गए...

इंस्टाग्राम के ‘Threads’ में ट्विटर से क्या है खास? 1 दिन में मिल गए 1 करोड़ से ज्यादा यूजर्स: जानें ऐप के बारे में सब कुछ

इस प्लेटफॉर्म पर यूजर्स 500 कैरेक्टर्स तक के टेक्स्ट के साथ वीडियो और फोटोज को शेयर कर सकेंगे। इसके अलावा इस पर 5 मिनट तक की वीडियोज भी डाली जा सकती हैं और इस पर लिंक भी शेयर किए जा सकेंगे।

ट्विटर जैसे फीचर वाला ‘थ्रेड्स’ ऐप अब मार्केट में है। एक ही दिन में इस एप्लीकेशन को 1 करोड़ से ज्यादा साइन-अप मिल चुके हैं। कंपनी का कहना है कि थ्रेड्स एक टेक्स्ट शेयरिंग और पब्लिक कन्वर्शेसन ऐप है। वहीं देखने में ये ट्विटर से थोड़ा अलग दिख रहा है। लेकिन इसका कॉम्पिटिशन ट्विटर ही है।

इस प्लेटफॉर्म पर यूजर्स 500 कैरेक्टर्स तक के टेक्स्ट के साथ वीडियो और फोटोज को शेयर कर सकेंगे। इसके अलावा इस पर 5 मिनट तक की वीडियोज भी डाली जा सकती हैं और इस ऐप पर लिंक भी शेयर किए जा सकते हैं।

ऐप को गूगल प्ले स्टोर और एप्पल ऐप स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। दोनों ही प्लेटफॉर्म पर ये इंस्टाग्राम की थ्रेड्स ऐप फ्री है। मेटा कंपनी ने इसे 100 से ज्यादा देशों में लॉन्च किया है। यह अधिकतर टेक्ट्स कंटेंट पसंद करने वालों के लिए है, पर फोटोज और वीडियोज भी यहाँ शेयर करने की सुविधा है।

अभी ये ऐप नई है इसलिए बेवजह ऐड के कारण यूजर्स को परेशान नहीं होना पड़ेगा। लेकिन कहा जा रहा है कि आने वाले समय में एप्लीकेशन पर विज्ञापन देखने को मिल सकते हैं।

वैसे बता दें कि थ्रेड्स एक सेपरेट ऐप बनाई गई है। लेकिन इंस्टा की टीम द्वारा डेवलप किए जाने के कारण इंस्टा यूजर्स इससे सीधे तौर पर जुड़े होंगे। वो यूजर्स चाहें तो अपने इंस्टा अकॉउंट से लॉग इन कर सकते हैं। साथ ही उसी यूजरनेम को भी थ्रेड्स ऐप के लिए यूज कर सकते हैं। ऐप में खास यह भी है कि यह ऐप यूज़र्स को इंस्टाग्राम पर प्राइवेट और थ्रेड्स पर पब्लिक होने की अनुमित देता है।

इस एप्लीकेश में फॉलोइंग सिस्टम होगा। इसके अलावा चूँकि यह ऐप इंस्टा से सीधा कनेक्ट है इसलिए अगर आपने किसी शख्स को अपने इंस्टा पर ब्लॉक किया हुआ है तो वो थ्रेड्स पर भी आपको नहीं दिखाई देगा। अगर आपने इंस्टा पर ब्लू टिक खरीदा है तो यहाँ भी आपका अकॉउंट पहले से वेरीफाइड हो जाएगा। इस एप्लीकेशन को फिलहाल GIF और क्लोज फ्रेंड वाला सपोर्ट नहीं दिया गया है। इसी तरह इसमें ट्विटर की तरह डायरेक्ट मैसेजिंग का फीचर भी डेवलप किया जाना बाकी है।

बता दें कि मार्क जुकरबर्ग ने इस एप्लीकेशन को ठीक उसी समय लॉन्च किया है जब एलन मस्क लगातार ट्विटर में कोई न कोई बदलाव ला रहे हैं। अभी हाल में उन्होंने ब्लू टिक वालों के लिए ट्वीट देखने की सीमा को 10 हजार और बिन ब्लू टिक वालों के लिए ट्वीट देखने की सीमा 1 हजार की थी। उन्होंने ट्विटर पर इसे अस्थायी बदलाव कहा था। मगर मेटा ने इसी मौके पर अपनी एप्लीकेशन को लॉन्च कर दिया और जुकरबर्ग ने इस संबंध में ट्वीट करके ट्विटर को ट्रोल करने का प्रयास भी किया। ये बात और है कि लोग उन्हीं के ऊपर दूसरी एप्लीकेशन को कॉपी करने का इल्जाम लगाने लगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -