Friday, July 19, 2024
Homeव्हाट दी फ*4 महीने तक नितंबों में बाँधे रखा रिकॉर्डर, अपने पाद को 1000+ बार किया...

4 महीने तक नितंबों में बाँधे रखा रिकॉर्डर, अपने पाद को 1000+ बार किया रिकॉर्ड: बूब्स का पसीना बेचने वाली एक्ट्रेस के बाद एक और शख्स का कारनामा

लुकास रिजोटो का एक ही लक्ष्य था कि वो अपने पाद को मशहूर वेस्टलेक स्टूडियो में रिकॉर्ड करे। इसी स्टूडियो में माइकल जैक्सन की भी रिकॉर्डिंग हुई थी।

आपने अपना पाद बेचकर लाखों-करोड़ों रुपए की कमाई करने वाली अभिनेत्री के बारे में तो पढ़ा ही होगा। अब पढ़िए एक ऐसे ही शख्स की कहानी जो पाद को रिकॉर्ड करता है। नाम है लुकास रिजोटो। रिजोटो ने कहा कि उन्होंने अपने पाद को 1000+ बार रिकॉर्ड करके उसे कार्बन पॉजिटिव और इंटरऑपरेबल मेटावर्स एनएफटी में बदल दिया है।

रिजोटो ने ट्विटर थ्रेड के जरिए अपने पादने की कहानी बयाँ करते हुए दावा किया है कि वो किस तरह से दुनिया (क्रिप्टो मार्केट) को बचा रहा है। रिजोटो के मुताबिक, एनएफटी (नॉन फंगिबल टोकेन) के पास तकनीक के रूप में एक क्षमता है। लेकिन लोग इसके साथ बहुत ही बेढंगे और गैर रचनात्मक तरीके से काम करते हैं। जबकि क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वाइन को मदद, प्रेरणा, आशा की जरूरत है!

लुकास का कहना है कि उसे एक आइडिया आया कि वो अपने 1000 पादों को एक प्रोफेशनल में स्टूडियो रिकॉर्ड किया और उन्हें इंटरऑपरेबल 3 डी आर्ट में बदलने की कोशिश की। रिजोटो का कहना है कि क्या हो अगर वो अपने पाद को सभी एनएफटी कलेक्शन 99% से भी अधिक उपयोगी, सुंदर और पर्यावरण के प्रति जागरूक बना दिया जाए?

4 महीने तक खाया गैस बनाने वाला खाना

शख्स के मुताबिक, अपने उद्देश्य को पूरा करने के लिए उसने 4 महीने तक बीन्स, ब्रोकली, शतावरी जैसे हाई ग्रेड फाइबर वाला खाना खाया, जिससे उसके पेट में जमकर गैस बनी। नतीजा ये हुआ कि उसके पेट में लगातार दर्द हो रहा था। लेकिन इसका अर्थ ये था कि पाद को रिकॉर्ड करने के लिए वो तैयार था। लुकास रिजोटो का एक ही लक्ष्य था कि वो अपने पाद को मशहूर वेस्टलेक स्टूडियो में रिकॉर्ड करे। इसी स्टूडियो में माइकल जैक्सन की भी रिकॉर्डिंग हुई थी।

स्टूडियो में बुकिंग भी कुछ कम समय के लिए मिल गई। लेकिन, जब स्टूडियो को उसके पादने का पता चला तो वे वहाँ से चल पड़े। ऐसे में उसने अपने ही दम पर रिकॉर्डिंग की। वो 4 महीने तक अपने नितंबों पर एक रिकॉर्डर बाँध के रखता था। ताकि अपने पाद को रिकॉर्ड कर सके। उसने अपने 1010 पादों को रिकॉर्ड किया। इसके लिए एल्गोरिदम भी लिखा। रिजोटो ने अपने पाद को 6 दुर्लभ स्तरों में वर्गीकृत किया है, जिसमें सामान्य, दुर्लभ, एपिक, क्लासिक, लौकिक और विलक्षणता के आधार पर बाँटा है।

फिर रिजोटो ने प्रेरणा के तौर पर गैसी ब्रह्मांड का उपयोग करके एक अनूठी कला को तैयार किया। कहा जा रहा है कि इसे 20 जून से वो बेचना शुरू करेगा। रिजोटो का कहना है कि ऐसा करना आसान नहीं था। क्योंकि इससे वो शारीरिक तौर पर पूरी तरह से टूट चुका था।

गौरतलब है कि इससे पहले इसी तरह पाद बेचने की वाली एक्ट्रेस स्टेफनी माटो ने तबीयत खराब होने के बाद पाद बेचने से तौबा कर अपने बूब्स के पसीने को बेचना शुरू किया था। इससे वो महीने में 5000 डॉलर यानी ₹3,88,250 कमाती थीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदू लड़की का Video किया वायरल, हिंदुओं पर ही हमला, घर छोड़कर भागे भी हिंदू: यह पाकिस्तान नहीं, झारखंड के एक गाँव में ‘बांग्लादेशी...

हिंदुओं के घरों में तोड़फोड़ का आरोप भाजपा नेताओं ने बांग्लादेशी घुसपैठियों पर लगाया है। बाबू लाल मरांडी ने कहा- झारखंड को तालिबान नहीं बनने देंगे।

अब तक 39 मौतें, स्कूल-कॉलेज-इंटरनेट बंद, सरकारी मीडिया के मुख्यालय पर हमला: ‘आरक्षण’ की आग में जल रहा बांग्लादेश, भारत ने जारी की एडवाइजरी

भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में आरक्षण को लेकर हो रहे प्रदर्शन हिंसक होता जा रहा है। इस प्रदर्शन में अब तक 39 मौतें हो चुकी हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -