Friday, July 19, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेक'मोदी के रहते देश और किसानों का हित नहीं हो सकता': जानिए UP के...

‘मोदी के रहते देश और किसानों का हित नहीं हो सकता’: जानिए UP के डिप्टी CM केशव मौर्य के वीडियो का सच, बिहार कॉन्ग्रेस ने शेयर किया

इस वीडियो में काट-छाँट करने वालों ने बड़ी चालाकी से 'अहित' शब्द में से 'अ' को साइलेंट कर दिया है और अहित के बदले 'हित' शब्द को प्रचारित किया है।

केशव प्रसाद मौर्य उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं। बिहार कॉन्ग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से 12 जनवरी 2022 को उनका एक मैनिपुलेटेड वीडियो शेयर किया। इसमें मौर्या को यह कहते सुना जा सकता है, “क्या देश जानता है कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के रहते न तो कभी किसानों का हित हो सकता है, न देश का हित हो सकता है, न देशवासियों का हित हो सकता है।” ‘मन की बात’ बताते हुए कॉन्ग्रेस ने इस वीडियो को शेयर किया है।

20 सेकेंड का यह एडिटेड वीडियो फरवरी 2021 में भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। उस समय फैक्टचेक करने वाली वेबसाइट फैक्ट हंट ने इसकी सच्चाई को विस्तार से बताया था। उस समय यह एडिटेड वीडियो कई वेरिफाइड सोशल हैंडल द्वारा शेयर किया गया था। जनतंत्र TV के मुताबिक असली वीडियो में भाजपा नेता केशव प्रसाद मौर्य कह रहे हैं, “क्या देश जानता है कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के रहते न तो कभी किसानों का अहित हो सकता है, न देश का अहित हो सकता है और न देशवासियों का अहित हो सकता है।”

इस वीडियो में काट-छाँट करने वालों ने बड़ी चालाकी से ‘अहित’ शब्द में से ‘अ’ को साइलेंट कर दिया है और अहित के बदले ‘हित’ शब्द को प्रचारित किया है। इस मामले में अधिवक्ता गौरव द्विवेदी द्वारा फरवरी 2021 में IT एक्ट के अंतर्गत FIR भी दर्ज करवाई गई थी।

बावजूद इसके बिहार कॉन्ग्रेस ने यह वीडियो शेयर किया है। इसके बाद नेटिजन्स ने ने बिहार कॉन्ग्रेस के ट्विटर हैंडल पर कार्रवाई की माँग की है। भाजपा मुंबई के प्रवक्ता सुरेश नखुआ ने उत्तर प्रदेश पुलिस को टैग करते हुए कहा, “कॉन्ग्रेस का आधिकारिक हैंडल UP के डिप्टी CM केशव प्रसाद मौर्य का एडिटेड वीडियो वायरल कर रहा है।” उन्होंने ट्विटर और ट्विटर इंडिया को टैग भी किया है।

ट्विटर यूजर अंकुर सिंह ने भी उत्तर प्रदेश पुलिस को टैग करते हुए कॉन्ग्रेस द्वारा किए गए ट्वीट का लिंक शेयर किया है।

खास बात ये है कि बिहार कॉन्ग्रेस के हैंडल पर जो ट्वीट पिन है, उसकी पहली लाइन है, “झूठ फैलाना बंद करो’।

फिर भी एक पुराने वीडियो जिसके साथ छेड़छाड़ की बात सालभर पहले सामने आ चुकी है कॉन्ग्रेस ने मैनिपुलेटेड वीडियो शेयर किया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

पुरी के जगन्नाथ मंदिर का 46 साल बाद खुला रत्न भंडार: 7 अलमारी-संदूकों में भरे मिले सोने-चाँदी, जानिए कहाँ से आए इतने रत्न एवं...

ओडिशा के पुरी स्थित महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर के भीतरी रत्न भंडार में रखा खजाना गुरुवार (18 जुलाई) को महाराजा गजपति की निगरानी में निकाल गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -