Wednesday, April 24, 2024
Homeराजनीतिसरफ़रोशी की तमन्ना... जो आजकल AC की हवा के साथ आती है, ताली...

सरफ़रोशी की तमन्ना… जो आजकल AC की हवा के साथ आती है, ताली ठोकते हुए जाती है: AAP की खुशी में अर्चना का दुःख

शायद जिग्नेश मेवानी अपने साथ सिलाई मशीन लेकर आए हों, ताकि राहुल गाँधी का जो कुर्ता नोटबंदी के दौरान फट गया था उसकी मरम्मत की जा सके। या वो अपने साथ 'थाई मसाज चेयर' लेकर आए हों।

कन्हैया कुमार कॉन्ग्रेस में आए गए हैं। सवा 4 लाख वोटों से लोकसभा चुनाव हारने वाला व्यक्ति अब 40 लोकसभा सीटों पर कॉन्ग्रेस का बेड़ा पार लगाएगा, ऐसा चिरयुवा राहुल गाँधी का सपना है। आलम ये है कि दिल्ली के CPI दफ्तर में नेता गर्मी से बेहाल हैं और अब राहुल गाँधी AC की हवा खा रहे हैं, जो कन्हैया कुमार अपने साथ लेकर आए हैं। इस गर्मी के लिए वामपंथी कब अमित शाह को दोष देंगे, इसका इंतजार है।

वैसे अमित शाह से याद आया कि उनसे कैप्टेन अमरिंदर सिंह की मुलाकात की खबर से ही पंजाब में कॉन्ग्रेस की ताली ठुक गई। ‘गुरु’ तो महागुरु निकले और सारा कांड करा कर खुद चलते बने। अब तक जिसे वहाँ पार्टी का सबसे बड़ा चेहरा बनाया जा रहा था, वो मुखौटा पहन कर निकल लिया। AC की हवा खा रहे राहुल गाँधी के सामने अगर किसी ने ताली बज दी तो वो पक्का कॉन्ग्रेस से निकाला जाएगा, ये तय है।

पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा भी है कि ‘सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है..’, लेकिन पूछने वाले ये भी पूछ सकते हैं कि अब अगर उनके दिल में है तो अब तक कहाँ थी? इस तमन्ना को वो किधर रख कर घूम रहे थे। वैसे भगत सिंह की जयंती के अवसर पर कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवानी जैसों को पार्टी में लेकर आया गया है। अब जिग्नेश अपने साथ कौन स उपकार साथ लेकर आए हैं, मीडिया इसका पता लगाने में जुटी है।

शायद जिग्नेश मेवानी अपने साथ सिलाई मशीन लेकर आए हों, ताकि राहुल गाँधी का जो कुर्ता नोटबंदी के दौरान फट गया था उसकी मरम्मत की जा सके। वैसे भी कपड़ों के लिए गुजरात विख्यात है। सूरत में कपड़ों की फैक्ट्री में देश भर के कई लोगों को रोजगार मिलता है। या फिर ये भी हो सकता है कि जिग्नेश मेवानी अपने साथ ‘मसाज चेयर’ लेकर आए हों। थाईलैंड वाले ‘मजे’ का एकाध प्रतिशत यहाँ मिल जाए तो भला ऐतराज कैसा?

दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने पोस्टर लगवा दिए हैं। उन पोस्टरों में लिखा है – ‘भारत तेरे टुकड़े होंगे – अब ये कॉन्ग्रेस का आधिकारिक नारा है।’ ऑपइंडिया इस तरह की चीजों की कड़ी नींद करता है। इसीलिए, क्योंकि ये नारा तो शुरू से कॉन्ग्रेस के दिलोंदिमाग में छप रहा है, इसमें ‘अब’ जैसी कोई बात नहीं है। दिल्ली में बैठी AAP को पता नहीं ये अच्छा लगेगा या नहीं, लेकिन पंजाब को लेकर वो जरूर खुश होगी।

AAP पंजाब में कई दिनों से ‘गुरु’ पर डोरे डाल रही है। जहाँ एक तरफ AAP खुश है, वहीं उधर अर्चना पूरन सिंह की बेचैनी बढ़ गई है क्योंकि उन्हें रह-सह कर यही एक ‘सरकारी नौकरी’ मिली हुई थी। अगर ‘गुरु’ अब फिर से ‘द कपिल शर्मा शो’ में ताली ठोकने का इरादा करते हैं तो उनकी छुट्टी तय है। या फिर क्या पता वो फिर से वैष्णो देवी में एकांतवास के लिए निकल जाएँ, जहाँ से लौट कर उन्होंने इतना उथल-पुथल मचाया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अनुपम कुमार सिंह
अनुपम कुमार सिंहhttp://anupamkrsin.wordpress.com
चम्पारण से. हमेशा राइट. भारतीय इतिहास, राजनीति और संस्कृति की समझ. बीआईटी मेसरा से कंप्यूटर साइंस में स्नातक.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माली और नाई के बेटे जीत रहे पदक, दिहाड़ी मजदूर की बेटी कर रही ओलम्पिक की तैयारी: गोल्ड मेडल जीतने वाले UP के बच्चों...

10 साल से छोटी एक गोल्ड-मेडलिस्ट बच्ची के पिता परचून की दुकान चलाते हैं। वहीं एक अन्य जिम्नास्ट बच्ची के पिता प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं।

कॉन्ग्रेसी दानिश अली ने बुलाए AAP , सपा, कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता… सबकी आपसे में हो गई फैटम-फैट: लोग बोले- ये चलाएँगे सरकार!

इंडी गठबंधन द्वारा उतारे गए प्रत्याशी दानिश अली की जनसभा में कॉन्ग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe