Monday, January 18, 2021
Home विविध विषय धर्म और संस्कृति राम का जन्म कहाँ हुआ था?: भगवान विष्णु का जवाब बन गया सुप्रीम कोर्ट...

राम का जन्म कहाँ हुआ था?: भगवान विष्णु का जवाब बन गया सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट का हिस्सा

स्कन्द पुराण और वाल्मीकि रामायण के श्लोकों का भी सुप्रीम कोर्ट ने जिक्र किया है, जिससे तय होता है कि राम का जन्म अयोध्या में ही हुआ था। यही सारे कारण हैं कि इस विवाद का फ़ैसला हिन्दुओं के पक्ष में आया और नवम्बर 9, 2019 का दिन इतिहास में दर्ज हो गया।

रामजन्मभूमि पर दिए गए फ़ैसले में सुप्रीम कोर्ट ने गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित रामचरितमानस का भी जिक्र किया है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने 1045 पेज के जजमेंट माना है कि वाल्मीकि रामायण की तरह ही रामचरितमानस भी हिन्दुओं के बीच काफ़ी लोकप्रिय है और इसे श्रद्धा की दृष्टि से देखा जाता है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि हिन्दू धर्म में रामचरितमानस सबसे बड़े साहित्यों में से एक है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने जजमेंट में मानस के बालकाण्ड में वर्णित उन चौपाइयों का जिक्र किया है, जिसे और कोई नहीं बल्कि स्वयं भगवान विष्णु ने कहा है। विष्णु द्वारा कही गई बातें सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले में भी शामिल हुईं।

इससे पहले बता दें कि सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने अयोध्या मामले में शनिवार (नवम्बर 9, 2019) को जो फ़ैसला सुनाया, उसमें हिन्दुओं की आस्था पर मुहर लगाते हुए विवादित स्थल पर राम मंदिर के निर्माण का आदेश दिया गया। इसके साथ ही ये विवाद भी ख़त्म हो गया, क्योंकि मुस्लिमों को भी मस्जिद बनाने के लिए अलग से 5 एकड़ ज़मीन दी जाएगी। फ़ैसले का मुख्य बिंदु ये रहा कि सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को एक ट्रस्ट बना कर तीन महीने के भीतर राम मंदिर निर्माण के लिए योजना बनाने को कहा।

अब वापस रामचरितमानस की चौपाई पर आते हैं। जब पूरे विश्व में रावण का आतंक बढ़ गया था, तब उससे न सिर्फ़ मनुष्य बल्कि देवता और ऋषि-मुनि भी भयभीत थे। ऐसे में भगवान विष्णु के अलावा उनका सहारा कौन हो सकता था। सारे देवी-देवता, ऋषि-मुनि और गन्धर्व भाग कर भगवान विष्णु के पास गए और उनसे मदद माँगी। भगवान ने भी उनके दुःख हरने का आश्वासन देते हुए कहा:

जनि डरपहु मुनि सिद्ध सुरेसा। तुम्हहि लागि धरिहउँ नर बेसा॥
अंसन्ह सहित मनुज अवतारा। लेहउँ दिनकर बंस उदारा॥
कस्यप अदिति महातप कीन्हा। तिन्ह कहुँ मैं पूरब बर दीन्हा॥
ते दसरथ कौसल्या रूपा। कोसलपुरीं प्रगट नर भूपा॥
तिन्ह कें गृह अवतरिहउँ जाई। रघुकुल तिलक सो चारिउ भाई॥
नारद बचन सत्य सब करिहउँ। परम सक्ति समेत अवतरिहउँ॥

अर्थात, भगवान विष्णु ने सभी लोगों ने कहा:

हे मुनि, सिद्ध और देवताओं के स्वामियो! डरो मत। तुम्हारे लिए मैं मनुष्य का रूप धारण करूँगा और उदार (पवित्र) सूर्यवंश में अंशों सहित मनुष्य का अवतार लूँगा। कश्यप और अदिति ने बड़ा भारी तप किया था। मैं पहले ही उनको वर दे चुका हूँ। वे ही दशरथ और कौसल्या के रूप में मनुष्यों के राजा होकर अयोध्यापुरी में प्रकट हुए हैं। उन्हीं के घर जाकर मैं रघुकुल में श्रेष्ठ चार भाइयों के रूप में अवतार लूँगा। नारद के सब वचन मैं सत्य करूँगा और अपनी पराशक्ति सहित अवतार लूँगा।

सुप्रीम कोर्ट ने तुलसीदास रचित और भगवान विष्णु द्वारा कही गई इन बातों को न सिर्फ़ अपने जजमेंट में शामिल किया है, बल्कि साथ-साथ इनका अंग्रेजी अनुवाद भी उद्धृत किया है। सुप्रीम कोर्ट ने बताया है कि किस तरह भगवान विष्णु ने श्रीराम के रूप में अयोध्या में जन्म लेने की बात कही है। इससे उनलोगों की भी पोल खुल जाती है, जो लगातार कहते हैं कि तुलसीदास ने कभी जन्मभूमि का जिक्र नहीं किया है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फ़ैसले में कहा है कि उपर्युक्त चौपाइयाँ न सिर्फ़ ये बताते हैं कि विष्णु मानव रूप में अवतार लेंगे, बल्कि ये भी बताती हैं कि वो दशरथ और कौशल्या के यहाँ अवतरित होंगे।

बकौल सुप्रीम कोर्ट जजमेंट, इन चौपाइयों में भगवान विष्णु ने कहा है कि वो ‘किस जगह’ पर अवतरित होंगे। ‘तिन्ह के गृह’ के अर्थ हुआ ‘दशरथ और कौशल्या के घर’। अफ़सोस की बात ये है कि यही बात अब जब सुप्रीम कोर्ट कह रहा है तो चर्चा हो रही है, लेकिन ये चीजें घर-घर में मौजूद मानस में पहले से ही हैं। किसी ने अनायास इन चौपाइयों को ढूँढ कर नहीं पेश कर दिया, हजारों-लाखो लोग इसका पाठ करते हैं। फिर भी, राम मंदिर को लेकर इतने दिन विवाद की स्थिति बना कर रखी गई। ये चौपाइयाँ सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट का हिस्सा बन कर ऐतिहासिक नहीं हुईं, बल्कि सुप्रीम कोर्ट ने इन्हें इसीलिए अपने जजमेंट में शामिल किया क्योंकि ये ऐतिहासिक हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने अपने बहुप्रतीक्षित फ़ैसले में कहा है कि रामचरितमानस को सं 1574-75 (विक्रम संवत 1631) में लिखा गया था। यानी बाबर के आक्रमण के बाद। सुप्रीम कोर्ट ने गुरु नानक देव के अयोध्या दौरे का भी जिक्र किया, जिसके हिसाब से यह पता चलता है कि बाबर के आक्रमण से पहले भी अयोध्या में पूजा-पाठ होता था और वो एक तीर्थस्थल था। इसी तरह स्कन्द पुराण और वाल्मीकि रामायण के श्लोकों का भी सुप्रीम कोर्ट ने जिक्र किया है, जिससे तय होता है कि राम का जन्म अयोध्या में ही हुआ था। यही सारे कारण हैं कि इस विवाद का फ़ैसला हिन्दुओं के पक्ष में आया और नवम्बर 9, 2019 का दिन इतिहास में दर्ज हो गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अनुपम कुमार सिंहhttp://anupamkrsin.wordpress.com
चम्पारण से. हमेशा राइट. भारतीय इतिहास, राजनीति और संस्कृति की समझ. बीआईटी मेसरा से कंप्यूटर साइंस में स्नातक.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राम मंदिर के लिए डोनेशन माँग रहे हिन्दू कार्यकर्ताओं पर हमला: घेर कर लगाई आग, बचाने आई गुजरात पुलिस पर भी पत्थरबाजी

यह मामला गुजरात के कच्छ का है, जहाँ गाँधीधाम के किदाना गाँव में राम मंदिर डोनेशन रैली को लेकर दो समुदायों के बीच संघर्ष हो गया।

‘1 इंच भी नहीं देंगे’: CM उद्धव के ‘कर्नाटक का क्षेत्र मिलाएँगे महाराष्ट्र में’ ऐलान पर भड़के कन्नड़ नेता और लोग

सीएम उद्धव ने कहा था कि वो कर्नाटक के उन क्षेत्रों को महाराष्ट्र में मिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जहाँ मराठी भाषी रहते हैं। भड़के कन्नड़ नेता।

‘बीवी को चुम्मा भी नहीं ले सकता… जबकि दिल चाहता है’ – फारूक अब्दुल्ला ने महामारी के डर पर कही बात

"अल्लाह करे ये बीमारी दफा हो जाए। जब भी बेटी बिना मास्क के देखती है तो वह घर लौटने को कहती है।" - फारूक अब्दुल्ला ने कोरोना को लेकर...

‘हिन्दू देवी-देवताओं का अपमान’: TANDAV की पूरी टीम के खिलाफ यूपी में FIR, सैफ अली खान को मुंबई पुलिस का प्रोटेक्शन

सैफ अभिनीत 'तांडव' वेब सीरीज में भगवान शिव का अपमान किए जाने और जातीय वैमनस्य को बढ़ावा देने के कारण अब यूपी में केस दर्ज किया गया है।

‘तांडव’ पर मोदी सरकार सख्त, अमेजन प्राइम से I&B मिनिस्ट्री ने माँगा जवाब: रिपोर्ट्स

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार वेब सीरिज तांडव को लेकर अमेजन प्राइम वीडियो के अधिकारियों को नोटिस जारी किया गया है।

‘जेल में मेरे पति को कर रहे टॉर्चर’: BARC के पूर्व सीईओ की पत्नी ने NHRC से की शिकायत

BARC के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता को अस्पताल में गंभीर हालत में भर्ती कराने के बाद उनकी पत्नी ने NHRC के समक्ष शिकायत दर्ज कराई है।

प्रचलित ख़बरें

प्राइवेट वीडियो, किसी और से शादी तक नहीं करने दी… सदमे से माँ की मौत: महाराष्ट्र के मंत्री पर गंभीर आरोप

“धनंजय मुंडे की वजह से मेरी ज़िंदगी और करियर दोनों बर्बाद हो गए। उसने मुझे किसी और से शादी तक नहीं करने दी। जब मेरी माँ को..."

शिवलिंग पर कंडोम: अभिनेत्री सायानी घोष को नेटिजन्स ने लताड़ा, ‘अकाउंट हैक’ थ्योरी का कर दिया पर्दाफाश

अभिनेत्री सायानी घोष ने एक तस्वीर पोस्ट की थी, जिसमें एक महिला पवित्र हिंदू प्रतीक शिवलिंग के ऊपर कंडोम डालते हुए दिख रही थी।

‘अगर तलोजा वापस गए तो मुझे मार डालेंगे, अर्नब का नाम लेने तक वे कर रहे हैं किसी को टॉर्चर के लिए भुगतान’: पूर्व...

पत्नी समरजनी कहती हैं कि पार्थो ने पुकारा, "मुझे छोड़कर मत जाओ... अगर वे मुझे तलोजा जेल वापस ले जाते हैं, तो वे मुझे मार डालेंगे। वे कहेंगे कि सब कुछ ठीक है और मुझे वापस ले जाएँगे और मार डालेंगे।”

‘मैं सभी को मार दूँगा, अल्लाहु अकबर’: जर्मन एयरपोर्ट पर मचाई अफरातफरी

जर्मनी के फ्रैंकफर्ट एयरपोर्ट पर मास्क न पहनने की वजह से टोके जाने पर एक शख्स ने 'अल्लाहु अकबर' का नारा लगाते हुए जान से मारने की धमकी दी।

‘भूखमरी वाले देश में राम मंदिर 10 साल बाद नहीं बन सकता?’: अक्षय पर पिल पड़े लिबरल्स

आनंद कोयारी नामक यूजर ने उन्हें अस्पतालों और स्कूलों के लिए चंदा इकट्ठा करने की सलाह दे दी और दावा किया कि कोरोना काल में एक भी मंदिर काम नहीं आया।

2000 करोड़ रुपए कचड़े में: 7 साल पहले बेकार समझ फेंक दी थी, खोजने वाले को मिलेगा 50%

2013 में ब्रिटिश आईटी कर्मचारी जेम्स हॉवेल्स (James Howells) ने 7500 Bitcoins वाले एक हार्ड ड्राइव को कचरे में फेंक दिया था।

राम मंदिर के लिए डोनेशन माँग रहे हिन्दू कार्यकर्ताओं पर हमला: घेर कर लगाई आग, बचाने आई गुजरात पुलिस पर भी पत्थरबाजी

यह मामला गुजरात के कच्छ का है, जहाँ गाँधीधाम के किदाना गाँव में राम मंदिर डोनेशन रैली को लेकर दो समुदायों के बीच संघर्ष हो गया।

‘1 इंच भी नहीं देंगे’: CM उद्धव के ‘कर्नाटक का क्षेत्र मिलाएँगे महाराष्ट्र में’ ऐलान पर भड़के कन्नड़ नेता और लोग

सीएम उद्धव ने कहा था कि वो कर्नाटक के उन क्षेत्रों को महाराष्ट्र में मिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जहाँ मराठी भाषी रहते हैं। भड़के कन्नड़ नेता।

‘बीवी को चुम्मा भी नहीं ले सकता… जबकि दिल चाहता है’ – फारूक अब्दुल्ला ने महामारी के डर पर कही बात

"अल्लाह करे ये बीमारी दफा हो जाए। जब भी बेटी बिना मास्क के देखती है तो वह घर लौटने को कहती है।" - फारूक अब्दुल्ला ने कोरोना को लेकर...

‘हिन्दू देवी-देवताओं का अपमान’: TANDAV की पूरी टीम के खिलाफ यूपी में FIR, सैफ अली खान को मुंबई पुलिस का प्रोटेक्शन

सैफ अभिनीत 'तांडव' वेब सीरीज में भगवान शिव का अपमान किए जाने और जातीय वैमनस्य को बढ़ावा देने के कारण अब यूपी में केस दर्ज किया गया है।

‘तांडव’ पर मोदी सरकार सख्त, अमेजन प्राइम से I&B मिनिस्ट्री ने माँगा जवाब: रिपोर्ट्स

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार वेब सीरिज तांडव को लेकर अमेजन प्राइम वीडियो के अधिकारियों को नोटिस जारी किया गया है।

मुंबई के आजाद मैदान में लगे ‘आजादी’ के नारे, ‘किसानों’ के समर्थन के नाम पर जुटे हजारों मुस्लिम प्रदर्शनकारी

मुंबई के आजाद मैदान में हजारों मुस्लिम प्रदर्शनकारी कृषि कानूनों के विरोध के नाम पर जुटे और 'आजादी' के नारे लगाए गए।

कॉन्ग्रेस ने कबूला मुंबई पुलिस ने लीक किया अर्नब गोस्वामी का चैट: जानिए, लिबरलों की थ्योरी में कितना दम

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने स्वीकार किया है कि मुंबई पुलिस ने ही अर्नब गोस्वामी के निजी चैट को लीक किया है।

रॉबर्ट वाड्रा को हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहती है ED, राजस्थान हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

ED ने बेनामी संपत्ति मामले में रॉबर्ट वाड्रा को हिरासत में लेकर पूछताछ करने के लिए राजस्थान उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है।

‘तांडव’ के मेकर्स को समन, हिंदू घृणा से सने कंटेंट को लेकर बीजेपी नेता राम कदम ने की थी शिकायत

बीजेपी नेता राम कदम की शिकायत के बाद वेब सीरिज तांडव के मेकर्स को समन भेजा गया है।

बांग्लादेश से भागकर दिल्ली में ठिकाना बना रहे रोहिंग्या, आनंद विहार और उत्तम नगर से धरे गए

दिल्ली पुलिस ने आनंद विहार से 6 रोहिंग्या को हिरासत में लिया है। उत्तम नगर से भी दो को पकड़ा है।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
382,000SubscribersSubscribe