Thursday, July 25, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'लाल सिंह चड्ढा फ्लॉप हुई तो दिल टूट जाएगा': 'PK की मासूमियत' याद दिला...

‘लाल सिंह चड्ढा फ्लॉप हुई तो दिल टूट जाएगा’: ‘PK की मासूमियत’ याद दिला कर आमिर खान ने खेला इमोशनल कार्ड, कहा – मैं टेंशन में हूँ

“मुझे लगता है कि आप सभी को फिल्म देखनी चाहिए और फिर फैसला करना चाहिए। मैं आपको बताता हूँ कि क्यों आपको दोनों फिल्में एक जैसी लग रही है, क्योंकि लाल और पीके के बीच एक समानता है और वह है मासूमियत।"

बॉलीवुड एक्टर आमिर खान की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ कई अलग वजहों से विवादों में हैं। कई लोग फिल्म को बायकॉट करने की माँग कर रहे हैं तो कई लोगों ने फिल्म में आमिर खान की एक्टिंग को ‘पीके’ जैसी बताई है। इसके अलावा, फिल्म में आमिर खान के पंजाबी एक्सेंट पर भी सवाल उठे। 

पंजाबी अभिनेत्री सरगुन मेहता को लाल सिंह चड्ढा के ट्रेलर में आमिर खान की पंजाबी भाषा कुछ खास पसंद नहीं आई। सरगुन का कहना था कि आमिर अपने एक्सेंट को और ज्यादा बेहतर कर सकते थे। अब पत्रकारों से बात करते हुए आमिर खान ने सरगुन मेहता की बातों पर प्रतिक्रिया दी है।

अभिनेता ने कहा, “वो ट्रेलर में आधा दिखता है ना? ट्रेलर सिर्फ 2 मिनट का है और हमारी फिल्म 2.30 घंटे की है। बेहतर होगा कि अगर आप पूरी फिल्म देखने के बाद इन बातों पर जज करें। अगर मैं ठेठ पंजाबी बोलूँगा तो बाकी लोगों को कुछ समझ नहीं आएगा। आपको समझ आ जाएगा। आप फिल्म देख लीजिए… मुझे उम्मीद है कि आप निराश नहीं होंगे।”

वहीं हाल ही में करण जौहर के शो ‘कॉफी विद करण’ में पहुँचे आमिर खान ने इस बात को कबूल किया कि वह ‘लाल सिंह चड्ढा’ को लेकर वह काफी सीरियस हैं। इसके अलावा उन्होंने यह भी माना कि वह इस फिल्म को लेकर तनाव में हैं। इंटरव्यू के दौरान करण जौहर ने उनसे पूछा, “क्या आप तनाव में हैं?” जिस पर आमिर ने जवाब दिया, “बेशक मैं तनाव में हूँ, कैसे सवाल पूछ रहा है यार।” आमिर की प्रतिक्रिया सुनकर करीना हैरान रह गईं और कहा, “क्या आप? लेकिन आप बहुत कॉन्फिडेंट हैं?” उन्होंने कहा, “हम एक्साइटेड हैं कि हमने एक अच्छी फिल्म बनाई है, लेकिन अगर फिल्म लोगों को पसंद नहीं आई, बहुत दिल टूट जाएगा।”

इसके बाद करण जौहर ने शो में ये भी दावा किया कि साउथ फिल्मों के सामने हिंदी फिल्मों का चार्म फीका पड़ने का कारण आमिर खान हैं। अपनी बात पर जोर डालते हुए करण ने आमिर खान की ‘दिल चाहता है’, ‘लगान’, ‘रंग दे बसंती’ और ‘तारे जमीं पर’ जैसी फिल्मों का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि आमिर ने इन फिल्मों से मिले रिसपॉन्स के बाद कुछ टारगेटेड ऑडियंस के लिए फिल्में बनाना शुरू कर दिया। हालाँकि आमिर खान ने करण जौहर की इस बात को पूरी तरह से गलत बताया।

इससे पहले आमिर ने लाल सिंह चड्ढा और पीके के एक जैसी फिल्मों की बात पर सफाई देते हुए कहा था, “मुझे लगता है कि आप सभी को फिल्म देखनी चाहिए और फिर फैसला करना चाहिए। मैं आपको बताता हूँ कि क्यों आपको दोनों फिल्में एक जैसी लग रही है, क्योंकि लाल और पीके के बीच एक समानता है और वह है मासूमियत। लाल मासूम है और पीके भी। यह एक बहुत ही मजबूत गुण है जो उन दोनों के पास है। तो, ट्रेलर में आप शायद वो अंतर नहीं देख पाएँगे जो आप पूरे परफॉर्मेंस में देखेंगे। तो जब आप लाल का पूरा परफॉर्मेंस देखेंगे तो मैं उम्मीद करता हूँ कि दोनो किरदार आपको बहुत मासूम लगेंगे लेकिन वो आपको अलग किरदार लगेगा। वो आपको पीके नहीं लगेगा, मेरे हिसाब से।”

उल्लेखनीय है कि आमिर खान अपनी फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ को हिट कराने के लिए हर जतन कर रहे हैं। इसी कड़ी में पिछले दिनों फिल्म की एक झाँकी जारी की गई। इस वीडियो में उन्हें करीना कपूर के साथ गोलगप्पे खाते हुए, फिर सेना का प्रशिक्षण लेते हुए दिखाया गया था। इस दौरान उन्हें बंदूक के साथ भी दिखाया गया। इसमें आमिर खान कह रहे होते हैं कि उनकी माँ उन्हें सेना में भेजना चाहती हैं, लेकिन उन्हें लोगों को मारना अच्छा नहीं लगता।

बता दें कि हाल ही करीना कपूर ने ‘लाल सिंह चड्ढा’ के बॉयकॉट की अपील को लेकर अकड़ दिखाई थी। उन्होंने बायकॉट की अपील को ‘कैंसल कल्चर’ बताते हुए कहा कि आज लोगों की विभिन्न प्लेटफॉर्म्स तक पहुँच है, इसीलिए वो हर चीज पर राय दे रहे हैं। पहले करीना कपूर ने कहा था कि लोग फिल्म न देखें, उनसे किसी ने जबरदस्ती थोड़े की है। फिर बाद में उन्होंने कहा, “हर कोई आजकल अपने विचार रखना चाहता है। आजकल अलग-अलग प्लेटफॉर्म्स हैं और हर कोई के पास कोई न कोई राय है। इसीलिए, अगर आज आपको रहना है तो कुछ चीजों को नजरअंदाज करना सीखना होगा।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -