Sunday, July 14, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'ये आज के जमाने का रावण है, हमने फिल्म में कुछ भी गलत नहीं...

‘ये आज के जमाने का रावण है, हमने फिल्म में कुछ भी गलत नहीं किया’: ‘आदिपुरुष’ के निर्देशक ने कहा – इतिहास से नहीं की कोई छेड़छाड़

"हम पर विश्वास रखें। हमारे लिए, हमारी ऑडियंस सबसे पहले है। हमें जिस तरह का फीडबैक मिल रहा है, उसे हम नोट कर रहे हैं। मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ कि जब यह फिल्म 12 जनवरी, 2023 को रिलीज होगी तो हम किसी को निराश नहीं करेंगे।"

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की शौर्य गाथा पर आधारित फिल्म ‘आदिपुरुष’ को लेकर फैंस को काफी उम्मीदें थीं। हालाँकि, फिल्म का टीजर आने के बाद से ‘आदिपुरुष’ विवादों से घिरी रही है। कई हिन्दू संगठनों से लेकर राजनेताओं व आम जनता तक ने इस फिल्म के किरदारों को लेकर सवाल उठाए हैं। साथ ही, सोशल मीडिया पर भी फिल्म को लगातार ट्रोल किया जा रहा है। इन तमाम विवादों के बीच, आदिपुरुष के प्रोड्यूसर-डायरेक्टर ओम राउत ने बयान देकर विवाद को रोकने की कोशिश की है।

ओम राउत ने कहा है कि उन्हें फिल्म को लेकर कई तरह की सलाह मिल रही हैं। वह इन सभी को नोट कर रहे हैं। जब फिल्म आएगी तब सब कुछ अच्छा रहेगा। हम किसी को निराश नहीं होने देंगे। हालाँकि, उन्होंने यह नहीं बताया है कि वह फिल्म में बदलाव करने जा रहे हैं या नहीं।

‘आदिपुरुष’ के डायरेक्टर ओम राउत ने कहा, “हम पर विश्वास रखें। हमारे लिए, हमारी ऑडियंस सबसे पहले है। हमें जिस तरह का फीडबैक मिल रहा है, उसे हम नोट कर रहे हैं। मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ कि जब यह फिल्म 12 जनवरी, 2023 को रिलीज होगी तो हम किसी को निराश नहीं करेंगे। हम पर विश्वास करें, हम इसे पूरा करेंगे।”

सोशल मीडिया पर हो रही फिल्म की ट्रोलिंग को देखते हुए जब ओम राउत से पूछा गया कि क्या वह फिल्म में बदलाव करेंगे। इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “अभी लोगों ने सिर्फ 95 सेकेंड्स का टीजर ही देखा है। मैं दोबारा कह रहा हूँ कि हम सभी चीजों को नोट कर रहे हैं। मैं यकीन दिलाता हूँ कि कोई निराश नहीं होगा।”

उन्होंने यह भी कहा, “मैं भगवान राम को बहुत मानता हूँ। फिल्म में मैंने कुछ भी गलत नहीं किया। हमने इतिहास से कोई छेड़छाड़ नहीं की। मैं इस इतिहास को अपनी प्राउड हिस्ट्री मानता हूँ। जब मैंने रामानंद सागर की रामायण दूरदर्शन पर देखी तो इसका मुझ पर काफी असर हुआ। रामायण के उस वर्जन में भी मॉडर्न टेक्नॉलजी थी, जिससे दर्शक इम्प्रेस हुए। एक तीर चलता था उससे 10 तीर निकलते थे, फिर 100 तीर निकलते थे। हमने ऐसा पहले कभी नहीं देखा था।”

रावण के विवादित लुक को लेकर ओम राउत ने कहा कि रावण एक राक्षस है, वह निर्दयी था तो उसको मूँछ वाला लुक दिया गया था। उन्होंने कहा कि उसे उस वक्त के राक्षस के रूप में दिखाया गया था, यह उसे चित्रित करने का तरीका था। बकौल ओम राउत, ‘आदिपुरुष’ का रावण आज के वक्त का राक्षस है और उनके नजरिए में एक राक्षस ऐसा भी दिख सकता है।

ओम राउत से जब यह पूछा गया कि लोग टीजर की इतनी आलोचना कर रहे हैं तो क्या वह फिल्म में कुछ बदलाव करेंगे? इस पर उन्होंने कहा कि उन्हें सबका आशीर्वाद चाहिए। क्योंकि यह एक फिल्म नहीं है, वह इसे फिल्म की तरह से ट्रीट नहीं कर रहे, यह उनके लिए मिशन है। यह भक्ति का प्रतीक है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -