Thursday, July 25, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनशाहरुख की बेटी, अमिताभ का नाती, जान्हवी की बहन… बकवास 'The Archies' की IMDb...

शाहरुख की बेटी, अमिताभ का नाती, जान्हवी की बहन… बकवास ‘The Archies’ की IMDb रेटिंग में अचानक उछाल, कौन कर रहा हेराफेरी?

सोशल मीडिया पर इस फिल्म को लेकर मीम्स बन रहे हैं। 'गली बॉय' और 'ज़िन्दगी ना मिलेगी दोबारा' जैसी फिल्म बनाने वाली ज़ोया अख्तर की इसे सबसे खराब फिल्म बताया जा रहा है।

शाहरुख़ खान की बेटी सुहाना खान, अमिताभ बच्चन का नाती अगस्त्य नंदा और श्रीदेवी की बेटी ख़ुशी कपूर जैसे स्टार किड्स से सनी फिल्म ‘The Archies’ की IMDb रेटिंग से हेरफेर किए जाने की खबर है। इस फिल्म की निर्देशक गीतकार जावेद अख्तर की बेटी जोया अख्तर है। वेदांग रैना, अदिति डॉट और मिहिर आहूजा भी इस फिल्म में हैं। इस फिल्म को कॉमिक कैरेक्टर आर्चीज पर बनाया गया है। कई समीक्षकों ने भी इसे अच्छी समीक्षाएँ दी, जबकि फिल्म दर्शकों को पसंद ही नहीं आ रही और इसका मजाक बन रहा है।

IMDb पर फिल्म को पहले तो बहुत ही खराब रेटिंग मिली थी, लेकिन फिर अचानक से इसकी रेटिंग बढ़ गई। आजकल जब बॉलीवुड की फिल्मों पर बॉक्स ऑफिस के आँकड़ों को लेकर हेराफेरी के आरोप लगाए जा रहे हैं, ऐसे समय में सोशल मीडिया पर भी चर्चा शुरू हो गई है कि आखिर ‘The Archies’ की IMDb रेटिंग अचानक से कैसे बढ़ गई। खबर लिखे जाने तक ‘इंटरनेट मूवी डेटाबेस (IMDb)’ पर इस फिल्म की रेटिंग 10 में से 6.8 बताई जा रही है।

वहीं लगभग 29,000 लोगों ने फिल्म को रेटिंग दी है। सोशल मीडिया पर इस फिल्म को लेकर मीम्स बन रहे हैं। ‘गली बॉय’ और ‘ज़िन्दगी ना मिलेगी दोबारा’ जैसी फिल्म बनाने वाली ज़ोया अख्तर की इसे सबसे खराब फिल्म बताया जा रहा है। पहले तो IMDb पर ‘The Archies’ की रेटिंग मात्र 2.9 ही थी, लेकिन अचानक से ही ये दोगुनी से भी ज़्यादा बढ़ गई। आमतौर पर ऐसा देखा नहीं जाता है। ऐसे में चर्चा है कि क्या बॉक्स ऑफिस के आँकड़ों के साथ-साथ अब IMDb रेटिंग में भी बॉलीवुड हेराफेरी कर रहा है?

फिल्म को अचानक से इतनी ज़्यादा रेटिंग कहाँ से मिल गई और ये बढ़ कैसे गया, ये सवाल जायज है। ऐसा बहुत कम हुआ है जब कोई फिल्म ‘बहुत बेकार’ की श्रेणी में हो और अचानक से ये अच्छी फिल्म की श्रेणी में आ जाए। ये फिल्म 1960 के भारत की कहानी है, जहाँ कुछ किशोर मिल कर एक पार्क को बचाने की लड़ाई लड़ते हैं। सुहाना, अगस्त्य और ख़ुशी का ये एक्टिंग डेब्यू है। बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर लंबे समय से बहस चल रही है, ऐसे में इस फिल्म को भी उसे बढ़ावा देने के क्रम में ही देखा जा रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -