Sunday, July 21, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'कांतारा में दिखाई गई 'भूत कोला' परंपरा हिंदू धर्म के अस्तित्व से पहले की':...

‘कांतारा में दिखाई गई ‘भूत कोला’ परंपरा हिंदू धर्म के अस्तित्व से पहले की’: अभिनेता चेतन के बयान पर कर्नाटक में FIR, हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का आरोप

फिल्म कांतारा 1847 के कालखंड की कहानी है। इसमें कर्नाटक के तटीय क्षेत्र में एक काल्पनिक गाँव की कहानी को दिखाया गया है। फिल्म में ऋषभ शेट्टी लीड रोल में हैं। 30 सितंबर को रिलीज हुई इस फिल्म को शानदार रिस्पॉन्स मिल रहा है।

कन्नड़ फिल्म ‘कांतारा’ की सफलता के बाद इसकी हर तरफ चर्चा है। फिल्म में ‘भूत कोला’ नाम की एक पुरानी परंपरा को दिखाया गया है। इस परंपरा को लेकर कन्नड़ फिल्मों के अभिनेता चेतन ने बयान दिया है। उनके बयान पर कर्नाटक पुलिस ने लोगों की धार्मिक भावना को ठेस पहुँचाने के लिए FIR दर्ज किया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़े हिंदू जागरण वेदिका ने आरोप लगाया था कि फिल्म कांतारा में इस्तेमाल किए गए ‘भूत कोला’ की परंपरा पर बयान देते हुए एक्टर चेतन ने अपमानजनक टिप्पणी की थी। इसके बाद वेदिका ने शिकायत में देते हुए कहा कि अभिनेता चेतन के बयान से हिंदुओं की भावना आहत हुई है।

चेतन ने कहा था कि भूत कोला की परंपरा हिंदू धर्म का हिस्सा नहीं है और यह हिंदू धर्म के अस्तित्व में आने से पहले भी मौजूद थी। कांतारा की रिलीज के बाद चेतन ने सोशल मीडिया पर लिखा था, “जैसे हिंदी भाषा को थोपा नहीं जा सकता, वैसे ही लोगों पर हिंदुत्व नहीं थोपा जा सकता। भूत कोला भूमि के मूल निवासियों की परंपरा है। यह हिंदू धर्म के तहत नहीं आएगा।”

फिल्म कांतारा 1847 के कालखंड की कहानी है। इसमें कर्नाटक के तटीय क्षेत्र में एक काल्पनिक गाँव की कहानी को दिखाया गया है। फिल्म में ऋषभ शेट्टी लीड रोल में हैं। 30 सितंबर को रिलीज हुई इस फिल्म को शानदार रिस्पॉन्स मिल रहा है।

वहीं, कांतारा फिल्म का तमिल, हिंदी, तेलुगु और मलयालम वर्जन भी बढ़िया कमाई कर रहा है। इसे 14 अक्टूबर को रिलीज किया गया। फिल्म समीक्षकों के मुताबिक, कांतारा ने दुनिया भर में अब तक 170 करोड़ रुपए से अधिक की कमाई की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हर दिन 14 घंटे करो काम, कॉन्ग्रेस सरकार ला रही बिल: कर्नाटक में भड़का कर्मचारियों का संघ, पहले थोपा था 75% आरक्षण

आँकड़े कहते हैं कि पहले से ही 45% IT कर्मचारी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, 55% शारीरिक रूप से दुष्प्रभाव का सामना कर रहे हैं। नए फैसले से मौत का ख़तरा बढ़ेगा।

आजादी के वक्त थे 3 मुस्लिम बहुल जिले, अब 9 हैं: बंगाल BJP प्रमुख ने कहा- असम और बंगाल में डेमोग्राफी बदलाव सोची-समझी रणनीति,...

बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने असम के सीएम हिमंता के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने डोमोग्राफी बदलाव की बात कही थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -