Thursday, July 29, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनस्पेशल आइकॉन अवॉर्ड से होंगे सम्मानित सुपरस्टार रजनीकांत: मोदी सरकार को दिया धन्यवाद

स्पेशल आइकॉन अवॉर्ड से होंगे सम्मानित सुपरस्टार रजनीकांत: मोदी सरकार को दिया धन्यवाद

भारत सरकार ने भारतीय सिनेमा में रजनीकांत द्वारा पिछले कई दशकों में दिए गए उत्कृष्ट योगदान को सम्मानित करने का फ़ैसला लिया है। ये अवॉर्ड उन्हें गोवा में आयोजित 'इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया' में प्रदान किया जाएगा।

भारत सरकार ने सुपरस्टार रजनीकांत को ‘स्पेशल आइकॉन ऑफ गोल्डन जुबली अवॉर्ड’ से सम्मानित करने का फ़ैसला किया है। 46 वर्षों से भारतीय फ़िल्म इंडस्ट्री में सक्रिय रजनीकांत 70 वर्ष की उम्र में भी एक से बढ़ कर एक सुपरहिट फ़िल्में दे रहे हैं और बॉक्स ऑफिस पर आज भी राज करते हैं। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। केंद्रीय मंत्री ने रजनीकांत के जवानी के दिनों का एक फोटो ट्वीट किया और बताया कि मोदी सरकार ने उन्हें स्पेशल आइकॉन अवॉर्ड से सम्मानित करने का निर्णय लिया है।

जावड़ेकर के इस ट्वीट के बाद तमिल इंडस्ट्री और रजनीकांत के फैंस के साथ-साथ अन्य सिनेप्रेमियों ने भी ख़ुशी जताई। जावड़ेकर ने लिखा कि भारत सरकार ने भारतीय सिनेमा में रजनीकांत द्वारा पिछले कई दशकों में दिए गए उत्कृष्ट योगदान को सम्मानित करने का फ़ैसला लिया है। ये अवॉर्ड उन्हें गोवा में आयोजित ‘इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया’ में प्रदान किया जाएगा। 20 नवंबर से लेकर 28 नवम्बर तक आयोजित इस फ़िल्म फेस्टिवल में देश-विदेश की 250 फ़िल्मों की स्क्रीनिंग की जाएगी। वहीं इस बार महिलाओं को ध्यान में रखते हुए महिला फ़िल्म निर्देशकों की 50 फ़िल्मों की स्क्रीनिंग भी की जाएगी।

वहीं रजनीकांत ने इस अवॉर्ड के लिए भारत सरकार को धन्यवाद दिया है। उन्होंने कहा कि इस प्रतिष्ठित अवॉर्ड के लिए वह भारत सरकार को धन्यवाद देते हैं। 50वीं आईएफएफआई में रूस को पार्टनर देश के रूप में चुना गया है। अमिताभ बच्चन को हाल ही में दादासाहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उनकी चुनी हुई 7-8 फ़िल्में भी इस फेस्टिवल में दिखाई जाएँगी। अगर रजनीकांत की बात करें तो उन्होंने पिछले एक दशक में रोबोट, लिंगा, कबाली, काला, 2.0 और पेट्टा जैसी सुपरहिट फ़िल्में दी हैं। 2.0 में अक्षय कुमार मुख्य विलेन थे तो पेट्टा में नवाजुद्दीन सिद्द्की ने विलेन का किरदार अदा किया।

रजनीकांत द्वारा राजनितिक एंट्री की घोषणा करने के बाद से तमिलनाडु में भाजपा उन्हें अपनी ओर करने के लिए पूरी कोशिश कर रही है। तमिलनाडु भाजपा का प्रयास है कि रजनीकांत उसके साथ मिल कर चुनाव लड़ें क्योंकि उन्होंने ख़ुद कहा था कि वो आध्यात्मिक रूप से राजनीति करने आए हैं और उनकी विचारधारा भाजपा से मिलती-जुलती है। हालाँकि, अभी ‘दरबार’ की शूटिंग में व्यस्त रजनीकांत से अपने पत्ते साफ़ नहीं किए हैं। उनके प्रतिद्वंद्वी कमल हासन ने भी हालिया लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी को उतारा था लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली।

2014 लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेन्नई जाकर रजनीकांत के आवास पर उनसे मुलाक़ात की थी। ट्विटर पर एक-दूसरे को जन्मदिन की बधाई देते रहते हैं। ऐसे में तमिलनाडु को लेकर राजनीतिक पंडित लगातार कयास लगा रहे हैं कि क्या राज्य में भाजपा और रजनी साथ आएँगे?

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बंगाल की गद्दी किसे सौंपेंगी? गाँधी-पवार की राजनीति को साधने के लिए कौन सा खेला खेलेंगी सुश्री ममता बनर्जी?

ममता बनर्जी का यह दौरा पानी नापने की एक कोशिश से अधिक नहीं। इसका राजनीतिक परिणाम विपक्ष को एकजुट करेगा, इसे लेकर संदेह बना रहेगा।

बिन बुलाए घर पर आकर करने लगा किस, कहा- शिल्पा से रिश्ते ठीक नहीं हैं: राज कुंद्रा पर शर्लिन चोपड़ा ने लगाए यौन उत्पीड़न...

शर्लिन के अनुसार, वह कभी भी एक शादीशुदा शख्स के साथ रिश्ता नहीं बनाना चाहती थीं और न ही उनके साथ कोई व्यापार करना चाहती थीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,780FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe