Tuesday, October 19, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनरिया चक्रवर्ती ने अपने बचाव में जिस वकील को नियुक्त किया है, वो देश...

रिया चक्रवर्ती ने अपने बचाव में जिस वकील को नियुक्त किया है, वो देश के सबसे महँगे वकीलों में से एक हैं

इससे पहले, मनेशिंदे ने 1998 में सलमान खान के काले हिरन के शिकार मामले और 1993 मुंबई ब्लास्ट केस में संजय दत्त जैसे फिल्म अभिनेताओं का बचाव किया था। रिया के वकील सतीश मनेशिंदे ने जानकारी दी है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अपने खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका लगाई है।

सुशांत सिंह राजपूत के पिता द्वारा आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाने पर बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने देश के सबसे महँगे वकीलों में से एक, सतीश मनेशिंदे को केस में बचाव के लिए नियुक्त किया है। ऐसे में लोगों का सवाल है कि आखिर कौनसा स्ट्रगलिंग कलाकार महँगे वकील की नियुक्त करने की क्षमता रखता है?

इससे पहले, मनेशिंदे ने 1998 में सलमान खान के काले हिरन के शिकार मामले और 1993 मुंबई ब्लास्ट केस में संजय दत्त जैसे फिल्म अभिनेताओं का बचाव किया था। रिया के वकील सतीश मनेशिंदे ने जानकारी दी है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अपने खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका लगाई है। जिसमें उन्होंने पटना में दर्ज मामले को मुंबई ट्रांसफर करने की माँग की है।

कौन हैं सतीश मनेशिंदे?

सतीश मनेशिंदे ने अपने करियर की शुरुआत वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी के जूनियर के रूप में की थी, जहाँ उन्होंने सिविल और आपराधिक कानून का अभ्यास किया। उन्होंने 1993 के मुंबई ब्लास्ट मामले में बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त का बचाव किया था।

वह संजय दत्त का बचाव करने वाली कानूनी टीम का हिस्सा थे, जिसमें दिल्ली के वरिष्ठ वकील राजेंद्र सिंह के पोते फरहान शाह और करण सिंह शामिल थे। दत्त को 2006-2007 में एके -56 राइफल और 9 एमएम पिस्टल रखने के लिए आर्म्स एक्ट के तहत एक विशेष अदालत ने दोषी ठहराया था। उन्हें छह साल की सजा सुनाई गई थी, जिसे बाद में सुप्रीम कोर्ट ने बरकरार रखा था लेकिन सजा घटाकर पाँच साल कर दी गई थी।

मनेशिंदे को पालघर लिंचिंग मामले में विशेष सरकारी वकील के रूप में भी नियुक्त किया गया है, जिसमें कि दो साधुओं और उनके एक ड्राईवर को भीड़ ने मार दिया था। घटना के वायरल वीडियो में पुलिस को मूकदर्शक के रूप में खड़ा देखा गया था, जबकि भीड़ ने दोनों साधुओं की निर्मम हत्या की थी।

गौरतलब है कि जून 14, 2020 को, 34 वर्षीय अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए। इस मंगलवार को, सुशांत के पिता केके सिंह ने पटना में एक प्राथमिकी दर्ज की, जिसमें आरोप लगाया गया कि सुशांत की प्रेमिका रिया ने उनसे रूपए ऐंठने के साथ ही उन्हें आत्महत्या करने के लिए उकसाया था। इस प्राथमिकी में कहा गया है कि उसने 15 करोड़ रुपए, लैपटॉप, आभूषण ले लिए और सुशांत को छोड़ दिया था।

सुशांत के पिता ने आरोप लगाया कि रिया चक्रवर्ती सुशांत के संपर्कों का उपयोग करके फिल्म इंडस्ट्री में खुद को स्थापित करने के मकसद के चलते उनके जीवन में आई और उनके रिश्तेदारों के मामलों में हस्तक्षेप करना शुरू कर दिया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe