Saturday, October 16, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनUP में अब ऑनलाइन मिलेगी शूटिंग की अनुमति, कार्तिक आर्यन की फिल्म को सीतापुर...

UP में अब ऑनलाइन मिलेगी शूटिंग की अनुमति, कार्तिक आर्यन की फिल्म को सीतापुर में शूट की मिली इजाजत

पिछले दिनों आला अफसरों के साथ बैठक में यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि वर्तमान परिस्थितियों में देश को एक अच्छी फिल्म सिटी की आवश्यकता है। प्रदेश यह जिम्मेदारी को लेने के लिए तैयार है। यहाँ पर एक बेहतरीन फ़िल्म सिटी बनाई जाएगी। इसके लिए नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे का क्षेत्र बेहतर होगा।

उत्तर प्रदेश में अब फिल्मों, टीवी सीरियल की शूटिंग की अनुमति ‘फिल्म बंधु’ पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन ली जा सकेगी। इसके लिए फिल्म के निर्माता-निर्देशक को अलग-अलग कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। फिल्म बंधु उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष एवं अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने मंगलवार (अप्रैल 13, 2021) को कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के तहत ये परिवर्तन किया गया है ताकि अधिक से अधिक फिल्मों और सीरियल की शूटिंग उत्तर प्रदेश में हो सके। शूटिंग शुरू होने से एक तरफ जहाँ रोजगार सृजित होंगे, वहीं दूसरी तरफ स्थानीय कलाकार को लाभ मिलेगा।

नोएडा में फिल्म सिटी की स्थापना के ऐलान के बाद से प्रदेश सरकार लगातार ऐसे कदम उठा रही है जिससे फिल्म उद्योग को प्रदेश में बढ़ावा दिया जा सके। प्रदेश सरकार ने शूटिंग में अनुमति को अब ऑनलाइन कर दिया है। फिल्‍म इंडस्‍ट्री को राहत देने के लिए यूपी सरकार ने अनुमति देने के लिए ऑनलाइन सिंगल विंडो की शुरुआत की है। इसमें सबसे पहले अभिनेता कार्तिक आर्यन की अभिनीत फिल्म ‘भूल भुलैया 2’ को ऑनलाइन अनुमति दी गई है। फिल्‍म की शूटिंग सीतापुर जिले में होनी है। जिलाधिकारी सीतापुर ने सिंगल विंडो सिस्‍टम के तहत ऑनलाइन शूटिंग की अनुमति प्रदान कर दी है। 

राज्य सरकार की फिल्म नीति में फिल्म निर्माताओं को सब्सिडी का प्रावधान है, जो राज्य के अधिकारियों द्वारा व्यवस्थित किए जा रहे संचालन के अलावा यूपी में शूट करते हैं। यूपी में शूटिंग के दौरान 38 फिल्मों को सरकारी सब्सिडी मिला है। आगे 40 फिल्में सब्सिडी प्राप्त करने के लिए कतार में हैं।

सूचना निदेशक और फिल्म बंधु के सचिव शिशिर ने कहा, “सिंगल विंडो क्लियरेंस अधिक से अधिक फिल्म निर्माताओं को यूपी के विभिन्न शहरों में आकर्षित करेगी। हमने पहले ही अपना पोर्टल ‘www.filmbandhuup.gov.in’ लॉन्च कर दिया है, जिसके माध्यम से सब्सिडी और अन्य अनुमतियों के लिए आवेदन भेजे जा सकते हैं।”

जॉली एलएलबी, टॉयलेट एक प्रेमकथा, बाला, मुल्क और आर्टिकल-15 जैसी फिल्मों की शूटिंग यूपी में हो चुकी है, जो बॉक्‍स आफिस पर सुपरहिट हुई थी। बीते फरवरी में धनीपुर हवाई पट्टी में मशहूर फिल्म अभिनेता जॉन अब्राहम ने अपनी फिल्म ‘अटैक’ की शूटिंग की थी। इसके लिए जॉन के प्रोडक्शन हाउस ने जनवरी में प्रदेश सरकार से शूटिंग की अनुमति माँगी थी। एक महीने बाद फरवरी में अनुमति मिली। प्रदेश सरकार ने शूटिंग में अनुमति को अब ऑनलाइन कर दिया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों आला अफसरों के साथ बैठक में यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि वर्तमान परिस्थितियों में देश को एक अच्छी फिल्म सिटी की आवश्यकता है। प्रदेश यह जिम्मेदारी को लेने के लिए तैयार है। यहाँ पर एक बेहतरीन फ़िल्म सिटी बनाई जाएगी। इसके लिए नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे का क्षेत्र बेहतर होगा।

योगी आदित्यनाथ ने इस घोषणा के साथ यह भी कहा था कि ये फ़िल्म सिटी फ़िल्म निर्माताओं को एक बेहतर विकल्प उपलब्ध कराएगी। साथ ही, रोजगार सृजन की दृष्टि से भी अत्यंत उपयोगी प्रयास होगा। उन्होंने इस सिलसिले में भूमि के विकल्पों के साथ यथाशीघ्र कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया था। इस घोषणा के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि बॉलीवुड को जिस तरह से मुंबई से खत्म करने या शिफ्ट करने की कोशिश की जा रही है, उसे वह बिलकुल बर्दाश्त नहीं करेंगे

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश में 10 साल की हिंदू बच्ची की मौत, जुमे की नमाज के बाद हुआ था गैंगरेप: मौसी और नानी से भी दुष्कर्म, उलटे...

10 साल की मासूम के साथ कट्टरपंथियों की भीड़ ने रेप किया था। अब खबर है कि ज्यादा खून बह जाने से उसकी जान चली गई।

गहलोत सरकार में मदरसों की बल्ले-बल्ले, मिलेगा 25-25 लाख रुपए का ‘दीवाली बोनस’, BJP का तंज – ‘जनता के टैक्स का सदुपयोग’

राजस्थान में मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण योजना के तहत मदरसों के लिए मुस्लिमों को 25 लाख रुपए तक की राशि सरकार देगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,924FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe