दुनिया हमारी नहीं भारत की बात मानती है, सरकार के इशारे पर लड़ रहे आतंकी: पाकिस्तान के गृहमंत्री ने कबूला

"पाकिस्तान की सत्तारूढ़ पार्टी ने देश को बर्बाद कर दिया है। पूरी दुनिया में लोगों को ये लगने लगा है कि हम एक गंभीर राष्ट्र नहीं हैं। हाफिज सईद को लड़ाई लड़ने के लिए खड़ा किया गया था, लेकिन अब उन्हें काबू में करने की जरूरत है।"

कश्मीर मुद्दे पर हर मोर्चे पर नाकाम रही पाकिस्तान सरकार अब अपने ही घर में घिरती नजर आ रही है। एक ओर जहाँ पाकिस्तानी नागरिक विदेशी सड़क और दूतावासों पर हिंसक विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं वहीं, दूसरी ओर खुद पाकिस्तान के गृह मंत्री (आंतरिक) ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह ने स्वीकार कर लिया है कि पूरा विश्व पाकिस्तान नहीं बल्कि भारत के साथ खड़ा है। यही नहीं, उन्होंने पाकिस्तान के आतंकवादियों पर भी बड़ा खुलासा किया है।

इमरान खान सरकार आतंकियों को मुख्यधारा में शामिल कराएगी

इस समय पकिस्तान की हालत ये है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को हर बड़े अंतरराष्ट्रीय मंच पर नाकामी का सामना करना पड़ा है। इसी समय पाकिस्तान के गृह मंत्री एजाज अहमद शाह ने कबूल किया है कि इमरान खान की सरकार अब जैश और लश्कर जैसे आतंकी संगठनों के दहशतगर्दों को मुख्यधारा में शामिल कराएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एजाज अहमद शाह ने एक डिबेट शो में कहा है कि ये आतंकी उनके कहने पर अफगानिस्तान में लड़ रहे थे और ये उनकी जिम्मेदारी है कि वो उन आतंकियों को नौकरी और पैसे दें। टीवी शो में चर्चा के दौरान उन्होंने यह भी कहा कि इमरान खान की वजह से पूरे पाकिस्तान को कश्मीर मुद्दे पर शर्मिंदा होना पड़ा है। एजाज अहमद शाह ने प्रधानमंत्री इमरान खान और उनके मंत्रियों को इसके लिए कसूरवार ठहराया है। उन्होंने साथ ही कहा कि पाकिस्तान, कश्मीर मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय से समर्थन पाने में नाकाम रहा है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे इस टीवी इंटरव्यू में इमरान खान सरकार के मंत्री मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद को ‘साहेब’ कहकर बुला रहे हैं साथ ही कह रहे हैं कि हाफिज सईद ने पाकिस्तान के खिलाफ कोई काम नहीं किया है। उन्होंने कहा कि हाफिज सईद को लड़ाई लड़ने के लिए खड़ा किया गया था, लेकिन अब उन्हें काबू में करने की जरूरत है।

‘दुनिया को ये लगने लगा है कि हम एक गंभीर राष्ट्र नहीं हैं’

एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल पर बात करते हुए पाकिस्तान के गृह मंत्री ब्रिगेडियर एजाज शाह ने कहा- “लोग हम पर भरोसा नहीं करते, अंतरराष्ट्रीय समुदाय हम पर विश्वास नहीं करते हैं। हम कहते हैं कि वे (भारत) कर्फ्यू लगा रहे हैं और जम्मू-कश्मीर के लोगों को दवाएँ नहीं दे रहे हैं। लोग हम पर विश्वास नहीं करते हैं, बल्कि वे उन्हें मानते हैं। पाकिस्तान की सत्तारूढ़ पार्टी ने देश को बर्बाद कर दिया है। उसने इस देश के नाम को खराब किया है। पूरी दुनिया में लोगों को ये लगने लगा है कि हम एक गंभीर राष्ट्र नहीं हैं।”

चीन के अलावा नहीं आया कोई भी देश पाकिस्तान के साथ

कश्मीर मामले पर भारत सरकार द्वारा लिए गए फैसले को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई देशों ने उसका आंतरिक मामला बताया और इसका समर्थन भी किया। दूसरी तरफ, पाकिस्तान ने इस मुद्दे के अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में खुद को अलग-थलग पाया, चीन के अलावा कोई भी देश पाकिस्तान के समर्थन में आगे नहीं आया।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

"ज्ञानवापी मस्जिद पहले भगवान शिव का मंदिर था जिसे मुगल आक्रमणकारियों ने ध्वस्त कर मस्जिद बना दिया था, इसलिए हम हिंदुओं को उनके धार्मिक आस्था एवं राग भोग, पूजा-पाठ, दर्शन, परिक्रमा, इतिहास, अधिकारों को संरक्षित करने हेतु अनुमति दी जाए।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

154,743फैंसलाइक करें
42,954फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: