Wednesday, July 17, 2024
Homeविविध विषयअन्यबायकॉट से ही बॉक्स ऑफिस पर डूबा 'लाल सिंह चड्ढा': बोले तरण आदर्श- हकीकत...

बायकॉट से ही बॉक्स ऑफिस पर डूबा ‘लाल सिंह चड्ढा’: बोले तरण आदर्श- हकीकत से मुँह न मोड़ो, कबूलो इसका असर

आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा का बॉक्स ऑफिस पर बुरा हाल होने के बाद फिल्म आलोचक तरण आदर्श ने अपना बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि कभी भी बहिष्कार के आह्वान को हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए।

बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा का बॉक्स ऑफिस पर बुरा हाल होने के बाद फिल्म आलोचक तरण आदर्श ने अपना बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि कभी भी बहिष्कार के आह्वान को हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए। इसी के कारण लाल सिंह चड्ढा की हाल खस्ता हुई है

उन्होंने कहा, “बॉयकॉट के आह्वान को नकारना बंद करें कि इससे फिल्मों पर कोई असर नहीं पड़ता। कबूल करो कि बहिष्कार के इन आह्वानों से बॉक्स ऑफिस पर फर्क़ पड़ता है। खासकर लाल सिंह चड्ढा के मामले में ये हुआ है। अब इसका सामना करें।”

लाल सिंह चड्ढा का बुरा हाल

बता दें कि लाल सिंह चड्ढा फिल्म अपनी रिलीज से पहले से ही बॉयकॉट के कारण काफी चर्चा में रही है। लोग इस फिल्म पर बात जरूर कर रहे हैं लेकिन इसे देखने नहीं जा रहे। शुक्रवार को फिल्म का व्यवसाय 6.50-7.00 करोड़ रुपए के बीच सिमट रह गया, जबकि पहले दिन लाल सिंह चड्ढा का व्यवसाय 12 करोड़ रुपए था। इस तरह पहले दिन की अपेक्षा दूसरे दिन के व्यवसाय में 40 प्रतिशत से अधिक की गिरावट देखी गई।

थियेटर में लोगों की अनुपस्थिति को देखते हुए देश भर के कई सिनेमाघर के मालिकों ने शुक्रवार के लिए इसके 1300 शो को रद्द कर दिया था। वहीं, फिल्म रिलीज के दूसरे दिन यानी शुक्रवार को दोपहर से पहले वाले कई शो में दर्शक नहीं जुटे। पहले दिन कुछ ऐसे भी शो रहे जिन में सिर्फ 10-12 दर्शक ही फिल्म देखने पहुँचे।

करीना को भी करनी पड़ रही आखिर में अपील

उल्लेखनीय है कि फिल्म की रिलीज से पहले आमिर खान इस बहिष्कार के आह्वान को देख परेशान थे। वो लगातार दर्शकों से कह रहे थे कि उनकी फिल्म को देखा जाए। लेकिन इस विनती का असर फिल्म रिलीज के बाद नहीं देखने को मिला और हाल वही रहा। फिल्म के प्रदर्शन को देखते हुए करीना कपूर ने एक इंटरव्यू में लोगों से इस फिल्म का बॉयकाट नहीं करने की विनती की थी। उन्होंने कहा था, “कृपया इस फिल्म का बहिष्कार न करें, क्योंकि यह वास्तव में अच्छे सिनेमा का बहिष्कार करने जैसा है। और लोगों ने इस पर बहुत मेहनत की है। ढाई साल से इस फिल्म पर 250 लोगों ने काम किया है।” उ

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरियों में अग्निवीरों को 10% आरक्षण: हरियाणा के CM सैनी का ऐलान- आयुसीमा में भी मिलेगी छूट, बंदूक का लाइसेंस भी मिलेगा

हरियाणा के सीएम सैनी ने कहा कि राज्य में अग्निवीरों को पुलिस भर्ती और माइनिंग गार्ड समेत कई अन्य पदों की भर्ती में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा।

12वीं पास को ₹6000, डिप्लोमा वाले को ₹8000, ग्रेजुएट को ₹10000: क्या है महाराष्ट्र की ‘लाडला भाई योजना’, कैसे और किनको मिलेगा फायदा?

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने 'लाडला भाई योजना' की घोषणा की है। इस लाडला भाई योजना में युवाओं को फैक्ट्रियों में अप्रेंटिसशिप मिलेगी और सरकार की तरफ से उन्हें वजीफा दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -