Sunday, September 19, 2021
Homeदेश-समाजबेटे को जान से मारने और खतना कराने की धमकी, रेप और जबरन धर्मान्तरण:...

बेटे को जान से मारने और खतना कराने की धमकी, रेप और जबरन धर्मान्तरण: शाहिद और आमिर गुरुग्राम से गिरफ्तार

शाहिद द्वारा जबरन संबंध बनाए जाने के कारण पीड़िता गर्भवती हो गई, उसने एक बेटी को भी जन्म दिया। 4 साल बाद आरोपितों के चंगुल से छूटकर महिला थाने पहुँची तो वहाँ पुलिस ने मामले को दर्ज करने से मना कर दिया। कोर्ट के आदेश पर मामला दर्ज हुआ।

राजस्थान की राजधानी जयपुर के प्रतापनगर में रहने वाली हिन्दू महिला के रेप और जबरन धर्मांतरण के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपित शाहिद मेव और उसके भाई आमिर हुसैन को गुरुग्राम से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित शाहिद साल 2016 में काम दिलाने का लालच देकर महिला और उसके बेटे को कश्मीर लेकर गया था। वहाँ जाने के बाद महिला के बेटे को जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ रेप किया और उसका जबरन धर्मान्तरण करवा दिया था।

ज्ञात हो कि 16 जुलाई 2021 को पीड़िता ने प्रताप नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद पुलिस द्वारा अलग-अलग टीमों का गठन कर आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए कई जगह छापेमारी की गई। इसी दौरान पुलिस को आरोपित शाहिद और आमिर के गुरुग्राम में होने की सूचना मिली, जिस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

पीड़िता के अनुसार, उसकी आर्थिक हालत ठीक नहीं थी। ऐसे में आरोपित शाहिद ने साल 2016 में उसे अच्छा काम दिलाने के बहाने कश्मीर लेकर गया था। वहाँ जाने के बाद महिला के बेटे को जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ रेप किया और उसका जबरन धर्मान्तरण करवा दिया। धर्मांतरण के बाद शाहिद ने महिला का नाम बदलकर सोनम और उसके बेटे का नाम सरफराज कर दिया।

आरोपित शाहिद द्वारा जबरन संबंध बनाए जाने के कारण पीड़िता गर्भवती हो गई और उसने एक बेटी को भी जन्म दिया। घटना के 4 साल बाद आरोपितों के चंगुल से छूटकर महिला थाने पहुँची तो वहाँ पुलिस ने मामले को दर्ज करने से मना कर दिया। इसके बाद पीड़िता ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोर्ट के आदेश पर एक महिला और काजी समेत 5 आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

पीड़िता ने शाहिद, आमिर हुसैन, फिरदौस, बिस्मिल्लाह और काजी के खिलाफ प्रतापनगर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। आरोपितों के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 341, 384, 376, 392, 406, 363, 365, 366 के तहत केस दर्ज किया गया है। वहीं, महिला का केस दर्ज नहीं करने के मामले में प्रतापनगर थाने के एसएचओ श्रीमोहन मीणा को भी लाइन हाजिर कर दिया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe