Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली के मुंडका अग्निकांड में 27 लोगों की मौत, 25 अभी भी लापता: कंपनी...

दिल्ली के मुंडका अग्निकांड में 27 लोगों की मौत, 25 अभी भी लापता: कंपनी के दोनों मालिक गिरफ्तार, बिल्डिंग मालिक फरार

इमारत के पहले फ्लोर पर CCTV कैमरे आदि का कारखाना था। इस घटना में सबसे अधिक मौतें दूसरे तल हुई हैं, जहाँ गोदाम बताया जा रहा है। जबकि तीसरी मंजिल पर प्रयोगशाला थी।

देश की राजधानी दिल्ली के मुंडका क्षेत्र में 13 मई 2022 (शुक्रवार) को लगी आग पर काबू पा लिया गया है। इसी के साथ बिल्डिंग में चल रही कम्पनी के 2 मालिकों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। इस दर्दनाक हादसे में अब तक 27 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है।

आग में जले शवों की पहचान के लिए उनके DNA टेस्ट करवाए जाएँगे। आग से झुलसे 12 लोगों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। बचाव कार्यों के लिए फायर ब्रिगेड के साथ NDRF की टीमों को भी लगाया गया है। वहीं शासन द्वारा मृतकों के परिजनों को मुआवजे की घोषणा की गई है।

दिल्ली के मुंडका क्षेत्र में लगी आग वाली घटना में 25 लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कम्पनी के मालिकों हरीश गोयल और वरुण गोयल को गिरफ्तार किया गया है। बिल्डिंग मालिक मनीष लाकड़ा आग लगने के बाद से ही फरार है, जिसकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

इमारत के पहले फ्लोर पर CCTV कैमरे आदि का कारखाना था। इस घटना में सबसे अधिक मौतें दूसरे तल हुई हैं, जहाँ गोदाम बताया जा रहा है। जबकि तीसरी मंजिल पर प्रयोगशाला थी। फायर ब्रिगेड और NDRF इस बिल्डिंग में किसी और के फँसे होने की संभावना को देखते हुए सर्च अभियान चला रही है।

प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा इस हादसे में मृतकों के परिवार को 2 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रूपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की गई है।

फायर ब्रिगेड के अधिकारियों के मुताबिक हादसे में किसी भी बचावकर्मी को कोई नुकसान नहीं हुआ है। स्थानीय लोगों के अनुसार बिल्डिंग में अधिकतर महिला कर्मचारी काम करती थीं। आग लगने के बाद कई लोगों को शीशा तोड़ कर छत से नीचे कूदते देखा गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली हाईकोर्ट ने शिव मंदिर के ध्वस्तीकरण को ठहराया जायज, बॉम्बे HC ने विशालगढ़ में बुलडोजर पर लगाया ब्रेक: मंदिर की याचिका रद्द, मुस्लिमों...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मकबूल अहमद मुजवर व अन्य की याचिका पर इंस्पेक्टर तक को तलब कर लिया। कहा - एक भी संरचना नहीं गिराई जाए। याचिका में 'शिवभक्तों' पर आरोप।

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -