Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजशौहर ने मारपीट कर रीढ़ की हड्डी तोड़ डाली, फिर घर के बाहर खड़ा...

शौहर ने मारपीट कर रीढ़ की हड्डी तोड़ डाली, फिर घर के बाहर खड़ा होकर दिया ‘तीन तलाक’: 1 साल से बिस्तर पर है पीड़िता, दहेज़ न मिलने पर गाली-गलौज

पीड़िता के मायके वालों का आरोप है कि पिटाई के बाद से सायरा बिस्तर पर ही है। राजू न तो कभी मिलने आया और न ही उसके बारे में कभी कोई जानकारी हासिल करने की कोशिश की।

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में ‘तीन तलाक’ का मामला सामने आया है। यहाँ, आरोपित ने पीड़िता के मायके में स्थित घर के बाहर खड़े होकर तीन तलाक दिया है। पीड़िता के मायके वालों का आरोप है कि शौहर की मारपीट से पीड़िता की रीढ़ की हड्डी टूट गई थी। इस कारण वह बीते एक साल से बिस्तर पर है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, यह मामला आगरा जिले के शाहगंज थाना अंतर्गत आजमपाड़ा का है। यहाँ रहने वाले वकील अहमद ने साल 2009 में अपनी बहन सायरा का निकाह राजस्थान के भरतपुर में रहने वाले राजू से की थी। पीड़िता के भाई वकील अहमद का आरोप है कि शादी के बाद से ही राजू और उसका परिवार दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। दहेज को लेकर कई बार पंचायत भी बुलाई गई थी, लेकिन राजू और उसके घरवालों की हरकतों में कोई बदलाव नहीं आया।

पीड़िता सायरा के भाई वकील अहमद का कहना है कि करीब सवा साल पहले राजू ने मोटरसाइकिल की माँग करते हुए सायरा के साथ जमकर मारपीट की थी। इस मारपीट के दौरान वह बुरी तरह घायल हो गई और उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई थी। सायरा के घायल होने के बाद राजू ने उसे और उसकी 11 साल की बेटी को मायके भेज दिया लेकिन बेटे को अपने साथ रख रहा है।

पीड़िता के मायके वालों का आरोप है कि पिटाई के बाद से सायरा बिस्तर पर ही है। राजू न तो कभी मिलने आया और न ही उसके बारे में कभी कोई जानकारी हासिल करने की कोशिश की। लेकिन, इसी साल 4 जुलाई को राजू घर आया और गाली-गलौज करते हुए सायरा से कहा कि अब वह उसके लायक नहीं है। यही नहीं, उसने घर के बाहर तीन बार तलाक बोला और वापस भरतपुर लौट गया।

‘तीन तलाक’ और घरेलू हिंसा का शिकार हुई सायरा के भाई वकील अहमद ने कहा है कि इस मामले में उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं की गई थी। इसके बाद, मुख्यमंत्री के शिकायती पोर्टल पर शिकायत करने के बाद एफआईआर दर्ज हुई है।

इस पूरे मामले में थाना प्रभारी जसवीर सिरोही का कहना है कि शिकायत के आधार पर आरोपित राजू के विरुद्ध 498A, 323, 504, 506 और मुस्लिम विवाह अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर मामले की जाँच की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के पूर्व जज रोहित आर्य BJP में हुए शामिल, ओडिशा हाई कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश चितरंजन दास बोले- मैं भी...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के न्यायाधीश रोहित आर्य रिटायरमेंट के लगभग तीन महीने बाद शनिवार (13 जुलाई 2024) को भाजपा में शामिल हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -