Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजअजमेर की राजस्थान सेंट्रल यूनिवर्सिटी में छात्रा का फोटो शेयर करने पर बवाल, 1992...

अजमेर की राजस्थान सेंट्रल यूनिवर्सिटी में छात्रा का फोटो शेयर करने पर बवाल, 1992 के सेक्स कांड में भी तस्वीरों से ही लड़कियों को किया था ब्लैकमेल

देश का सबसे बड़ा सेक्स स्कैंडल अजमेर में ही हुआ था। इसका खुलासा अप्रैल 1992 में हुआ था। इस दौरान सौ से अधिक लड़कियों से रेप हुआ था। 250 से अधिक लड़कियों की न्यूड फोटो बँटी थी। लड़कियों को निजी तस्वीरें खींचकर ब्लैकमेल किया गया था।

90 के दशक में राजस्थान के अजमेर में देश के सबसे बड़े सेक्स कांड को अंजाम दिया गया था। पीड़ित छात्राओं को तस्वीरों के जरिए ही तब ब्लैकमेल किया गया था। अब इसी अजमेर के किशनगंज स्थित राजस्थान सेंट्रल यूनिवर्सिटी में एक छात्रा की तस्वीर शेयर किए जाने को लेकर बवाल हुआ है।

गुरुवार (17 जून 2023) देर रात तक यूनिवर्सिटी में इस घटना को लेकर हंगामा चलता रहा। छात्रों का आरोप है कि यूनिवर्सिटी के सिक्योरिटी ऑफिसर ने एक छात्रा की तस्वीरें एक अन्य गार्ड के साथ शेयर कर उसके बारे में जानकारी जुटाने को कहा। छात्रा की तस्वीरें दिखाकर गार्ड जानकारी हासिल कर रहे था, तभी हंगामा हो गया। छात्रों का आरोप है कि 6 माह पहले एक छात्रा की आत्महत्या के मामले में भी इस सिक्योरिटी इंचार्ज का हाथ हो सकता है।

सिक्योरिटी ऑफिसर की गिरफ्तारी को लेकर छात्रों का हंगामा गुरुवार रात 9 बजे शुरू हुआ। ऐसा न होने पर छात्रों ने जमकर तोड़फोड़ की और एक बोलेरो में आग भी लगा दिया। सिक्योरिटी ऑफिसर की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी का भरोसा मिलने के बाद गुरुवार रात 1 बजे हंगामा थमा। हंगामे के दौरान छात्रों ने एक गार्ड से उसका फोन भी छीन लिया था, लेकिन उसने छात्रों से फोन लेकर तस्वीर डिलीट कर दी। इस मामले में शुक्रवार (18 जून 2023) को पुलिस ने एक गार्ड को हिरासत में लिया है।

छात्राओं ने लगाए गंभीर आरोप

छात्राओं का आरोप है कि सिक्योरिटी ऑफिसर पसंद आने वाली लड़कियों का पीछा करता है। उन्हें गलत नीयत से देखता है। उनकी पूरी जानकारी निकलवाने की कोशिश करता है। जिस छात्रा की तस्वीर शेयर करने का आरोप है उसे सीसीटीवी फुटेज से लिया गया था। कथित तौर पर गार्ड से इस छात्रा की व्यक्तिगत जानकारी जैसे नाम, फाइनेंसियल बैंकग्राउंड और किस रूम में रहती है, जैसी जानकारियाँ निकालने को कहा था। सुरक्षा गार्ड जब लड़कियों से उस लड़की का फोटो दिखाकर जानकारी इकट्ठा कर रहा था तो पूरे मामले का खुलासा हुआ।

ईटीवी भारत की रिपोर्ट में छात्रों के हवाले से लिखा गया है कि 6 माह पूर्व एक छात्रा ने आत्महत्या कर ली थी। उस मामले से भी सिक्योरिटी ऑफिसर जुड़ा हो सकता है। 22 दिन पहले भी यहाँ एक छात्रा ने जान दी थी।

1992 के बदनाम अजमेर कांड की याद आई

बता दें कि देश का सबसे बड़ा सेक्स स्कैंडल अजमेर में ही हुआ था। इसका खुलासा अप्रैल 1992 में हुआ था। इस दौरान सौ से अधिक लड़कियों से रेप हुआ था। 250 से अधिक लड़कियों की न्यूड फोटो बँटी थी। इस मामले में लड़कियों को निजी तस्वीरें खींचकर ब्लैकमेल किया गया था। मामले का खुलसा होने के बाद कई पीड़ितों ने आत्महत्या कर ली थी। कुछ समय पहले इस स्कैंडल पर ‘अजमेर 92’ नाम से एक फिल्म भी आई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

वामपंथी सरकार ने चलवाई गोली, मारे गए 13 कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता: जानें क्यों ममता बनर्जी मना रहीं ‘शहीद दिवस’, TMC ने हाईजैक किया कॉन्ग्रेस का...

कभी शहीद दिवस कार्यक्रम कॉन्ग्रेस मनाती थी, लेकिन ममता बनर्जी ने कॉन्ग्रेस पार्टी से अलग होने के बाद युवा कॉन्ग्रेस के 13 कार्यकर्ताओं की हत्या को अपने नाम के साथ जोड़ लिया और उसका इस्तेमाल कम्युनिष्टों की जड़ काटने में किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -