Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजशौच के लिए गई दलित लड़की से मुस्लिम लड़कों ने की बदसलूकी, हल्ला होने...

शौच के लिए गई दलित लड़की से मुस्लिम लड़कों ने की बदसलूकी, हल्ला होने पर बाईक छोड़ भागे: अब्दुल अजीज समेत 3 गिरफ्तार

पीड़िता के पिता ने घटना की शिकायत दर्ज कराते हुए कहा घटना के दिन उनकी 2 नाबालिग बेटियाँ शौच के लिए खेतों की तरफ गईं थीं। इसी दौरान बाइक से हबीबपुर के रहने वाले लालबाबू, अब्दुल अज़ीज़ और एक अन्य नाबालिग लड़का वहाँ पहुँच गए। उन तीनों ने बड़ी बेटी के साथ बदसलूकी की।

उत्तर प्रदेश के नेपाल सीमा से सटे बलरामपुर जिले में एक नाबालिग दलित लड़की से छेड़खानी के आरोप में मुस्लिम समुदाय के 3 आरोपित गिरफ्तार हुए हैं। आरोपितों के नाम लालबाबू, अब्दुल अजीज और एक अन्य है जो नाबालिग बताया जा रहा है। पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। इन पर पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

घटना बलरामपुर के सदुल्लानगर थानाक्षेत्र के गाँव गंधाउर नगर फ़िरोज़पुर में रविवार (2 अक्टूबर 2022) को घटी। इस घटना पर स्थानीय महंत ने राष्ट्रीय SC/ST आयोग को पत्र लिख कर केस को फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की माँग की है।

पीड़िता के पिता ने घटना की शिकायत दर्ज कराते हुए कहा घटना के दिन उनकी 2 नाबालिग बेटियाँ शौच के लिए खेतों की तरफ गईं थीं। एक बेटी की उम्र लगभग 14 वर्ष और दूसरी की उम्र लगभग 10 वर्ष है। इसी दौरान बाइक से हबीबपुर के रहने वाले लालबाबू, अब्दुल अज़ीज़ और एक अन्य नाबालिग लड़का वहाँ पहुँच गए।

पीड़ित पिता ने शिकायत में आगे बताया कि तीनों आरोपितों ने उनकी बड़ी बेटी का हाथ पकड़ लिया। आरोप है कि इस दौरान पीड़िता को खींचने की कोशिश करते हुए उसके साथ छेड़खानी की गई। पीड़िता की बहन यह सब देख कर डर गई और जोर-जोर से रोने लगी।

रोने की आवाज सुन कर आस-पास से गुजर रहे लोग मौके पर पहुँचे। लोगों को आता देख कर तीनों आरोपित अपनी बाईक छोड़ कर भाग गए। मिली जानकारी के मुताबिक तीनों आरोपितों की उम्र क्रमशः लगभग 30, 20 और 14 वर्ष है।

शिकायत के मुताबिक दोनों नाबालिग लड़कियों ने अपने घर पहुँच कर सारी बात बताई। बाद में उनके परिजनों ने इसकी शिकायत पुलिस में की। पुलिस ने अगले दिन सोमवार (3 अक्टूबर 2022) को तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि नाबलिग आरोपित की जमानत पहले ही दिन हो गई और बाकी दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के साथ SC/ST एक्ट और IPC की धारा 354 के तहत कार्रवाई की है।

स्थानीय महंत ने की फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस चलाने की माँग

इस घटना के बाद बलरामपुर जिले के ही हनुमानगढ़ी मंदिर के महंत महेंद्र दास ने राष्ट्रीय SC/ST आयोग को पत्र लिखा है। अपने पत्र में उन्होंने आयोग से घटना का संज्ञान लेने और आरोपितों का केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की माँग की है। महंत महेंद्र दास ने पीड़िता को ‘बलरामपुर की बेटी’ कह कर सम्बोधित किया है।

महंत महेंद्र दास के पत्र को हिंदी खबर की पत्रकार आँचल यादव ने ट्वीट किया है। इस ट्वीट पर बलरामपुर पुलिस का कहना है कि मामले की जाँच DSP स्तर के अधिकारी कर रहे हैं और साथ में जरूरी कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

नेपाल बॉर्डर की रिपोर्ट में ऑपइंडिया ने की थी सदुल्लानगर की चर्चा

गौरतलब है कि यह घटना जिस सादुल्लानगर थानाक्षेत्र की है उसका जिक्र ऑपइंडिया ने नेपाल बॉर्डर से जुडी अपनी ग्राउंड रिपोर्ट में किया था। तब हमने बताया था कि नेपाल से सटे बलरामपुर जिले के सादुल्लानगर थानाक्षेत्र के कई गाँवों में मुस्लिम आबादी हिन्दुओं से अधिक हो गई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -