Tuesday, November 30, 2021
Homeदेश-समाजयौन शोषण मामले में गिरफ्तार प्यारे मियाँ के अवैध बंगले पर चला बुलडोजर: कई...

यौन शोषण मामले में गिरफ्तार प्यारे मियाँ के अवैध बंगले पर चला बुलडोजर: कई आपत्तिजनक सामान बरामद, देखें वीडियो

प्यारे मियाँ के 29 लालाराम नगर स्थित अवैध आलीशान बंगले पर प्रशासन ने सुबह ही पहुँच कर ध्वस्तीकरण का काम चालू कर दिया। प्यारे मियाँ ने ग्राउंड फ्लोर पर कई अवैध बनाए कमरों को दुकानों में तब्दील कर दिया था। जिसे प्रशासन द्वारा बुल्डोजर से ढहा दिया गया।

उत्तर प्रदेश के योगी सरकार के तर्ज पर अब मध्यप्रदेश सरकार भी गुंडों के अवैध निर्माण को ध्वस्त करा रही है। इसी कड़ी में शुक्रवार (20 नवंबर, 2020) को एमपी पुलिस और प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए प्रदेश की राजधानी भोपाल के हाईप्रोफाइल नाबालिग बच्चियों के यौन शोषण मामले में मुख्य आरोपित प्यारे मियाँ के अय्याशी के अड्डे को ध्वस्त कर दिया है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, जोनल ऑफिसर नागेंद्र एस भदौरिया ने बताया, “प्यारे मियाँ की दूसरी मंजिल पर बने अवैध बालकनी और पीछे के एरिया को आज ध्वस्त कर दिया गया है।”

रिपोर्ट्स के अनुसार प्यारे मियाँ के 29 लालाराम नगर स्थित अवैध आलीशान बंगले पर प्रशासन ने सुबह ही पहुँच कर ध्वस्तीकरण का काम चालू कर दिया। प्यारे मियाँ ने ग्राउंड फ्लोर पर कई अवैध बनाए कमरों को दुकानों में तब्दील कर दिया था। जिसे प्रशासन द्वारा बुल्डोजर से ढहा दिया गया।

दूसरे मंजिल पर अमले ने बालकनी और कमरों को भी ध्वस्त किया। यह कमरे बार और अय्याशी के लिए बनाया गया था। पुलिस ने वहाँ से विदेशी शराब की बोतलें, धारदार तलवार समेत कई आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद किए। इसके अलावा अपने काले कारनामों को चोरी-छिपे अंजाम देने और इमरजेंसी के दौरान भागने के लिए प्यारे मियाँ ने एक गोपनीय रास्ता भी बना रखा था।

बता दें प्यारे मियाँ इन दिनों जेल की हवा खा रहा है। वहीं उसके द्वारा अवैध कारनामों से बनाई गई अवैध संपत्तियों पर मध्यप्रदेश प्रशासन की कड़ी नजर है। इसी के चलते इंदौर में प्यारे मियाँ की संपत्तियों को जमींदोज करने का सिलसिला शुरू हो चुका है। इससे पहले भी सरकार ने भोपाल स्थित उसके मैरिज हॉल को ध्वस्त कर दिया गया। आज फिर प्रशासन ने बुलडोजर चला कर उसकी अवैध संपत्ति को जमींदोज कर दिया।

गौरतलब है कि जुलाई में देर रात गश्त करती पुलिस पार्टी को 5 लड़कियाँ सड़क पर दिखीं। कारण पूछा गया तो जवाब देने के हालत में एक भी लड़की नहीं थी। सब शराब के नशे में थीं। नाबालिग लड़कियों का शराब के नशे में होना पुलिस को खटका। पुलिस ने सभी 5 लड़कियों को चाइल्ड लाइन को सौंप दिया। फिर इनकी काउंसलिंग की गई। जब पूछताछ हुई तो इन्होंने यौन शोषण का खुलासा किया।

प्यारे मियाँ ने अपनी सहायक स्वीटी विश्वकर्मा की मदद से इन लड़कियों को अपने यहाँ नाचने के लिए बुलाया था। विष्णु हाइट्स स्थित फ्लैट में पार्टी के दौरान प्यारे मियाँ द्वारा एक नाबालिग का यौन शोषण करने की बात भी सामने आई थी। इन पाँचों लड़कियों ने भी प्यारे मियाँ पर लैंगिक शोषण का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें समय-समय पर उस फ्लैट में ले जाया जाता था। उन्हें इसके लिए धनराशि भी दी जाती थी। इसी के चलते प्यारे मियाँ को गिरफ्तार कर प्रशासन लगातार उसके काले कारनामों पर कार्रवाई कर रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,547FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe