Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजभागलपुर में होली पर भिड़े सभापति और वार्ड पार्षद, फायरिंग में Video बनाने वाले...

भागलपुर में होली पर भिड़े सभापति और वार्ड पार्षद, फायरिंग में Video बनाने वाले युवक की मौत: नवगछिया की घटना, Video वायरल

ट्विटर पर मिहिर झा ने यह वीडियो साझा किया है। उन्होंने नीतीश कुमार सरकार पर तंज कसते हए लिखा, "आरोपित का नाम डब्ल्यू यादव है। वह लॉकडाउन के दौरान भी बंदूक लेकर घूमता था और लिखित शिकायत के बावजूद पुलिस ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। बिहार में 90 का दशक वापस आ गया है। धन्यवाद नीतीश कुमार जी।"

बिहार के भागलपुर जिले में बुधवार (8 मार्च 2023) को होली पर हुड़दंग को लेकर कुछ लोगों की कहासुनी के बीच हुई फायरिंग में एक युवक की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक युवक घटना के वक्त अपनी छत पर चढ़कर वीडियो बना रहा था, उसी समय उसे गोली लगी और अस्पताल ले जाते वक्त उसकी मौत हो गई।

सोशल मीडिया पर इसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। ट्विटर पर मिहिर झा ने यह वीडियो साझा किया है। उन्होंने नीतीश कुमार सरकार पर तंज कसते हए लिखा, “आरोपित का नाम डब्ल्यू यादव है। वह लॉकडाउन के दौरान भी बंदूक लेकर घूमता था और लिखित शिकायत के बावजूद पुलिस ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। बिहार में 90 का दशक वापस आ गया है। धन्यवाद नीतीश कुमार जी।”

रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मामला भागलपुर जिले के नवगछिया के राजेंद्र कॉलोनी स्थित दुर्गा स्थान के पास का है। यहाँ कुछ लोग होली पर हुड़दंग कर रहे थे। जब नवगछिया नगर परिषद के सभापति प्रतिनिधि प्रेम सागर उर्फ डब्ल्यू यादव को इस बात की जानकारी हुई, तो वह हथियारों से लैस अपने कुछ गुर्गों के साथ वहाँ पहुँच गए। इस दौरान वहाँ कुछ लोगों के साथ उनकी साथ कहासुनी शुरू हो गई, जो देखते ही देखते मारपीट में बदल गई।

इस बीच वार्ड पार्षद मनीष कुमार सिंह भी वहाँ पहुँच गए और दोनों में हो रही लड़ाई को लेकर बीच-बचाव करने लगे। तभी यादव मनीष सिंह के साथ झगड़ा करने लगा। इसको लेकर दोनों पक्षों में फायरिंग शुरू हो गई। फायरिंग में लगभग 20 राउंड गोलियाँ चलीं। इस दौरान छत से वीडियो बना रहे एक युवक आशीष राज (पिता का नाम प्रदीप पंडित) को गोली लग गई। गोली लगने के बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वहीं, मृतक के पिता प्रदीप पंडित ने बताया कि होली के मौके पर डब्ल्यू यादव हथियारों से लैस बॉडीगार्ड के साथ राजेंद्र कॉलोनी आए हुए थे। तभी, मनीष कुमार भी वहाँ पहुँच गए। दोनों के बीच गाली-गलौज होने लगी। देखते ही देखते फायरिंग शुरू हो गई। उन्होंने बताया, “मेरा बेटा अपनी छत पर था। गोली उसके सीने में लगी। उसे इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल नवगछिया ले जाया गया। वहाँ से उसे भागलपुर अस्पताल रेफर कर दिया गया। भागलपुर अस्पताल में इलाज के दौरान आशीष की मौत हो गई।”

इस संबंध में नवगछिया एसपी सुशांत कुमार सरोज ने बताया कि इस घटना का एक वीडियो वायरल हुआ है। पुलिस उसकी जाँच कर रही है। मृतक के पिता की शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -