Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजहसीना खातून मत घबराना, तेरे साथ सारा जमाना... बिहार के 3 मंदिरों में फेंके...

हसीना खातून मत घबराना, तेरे साथ सारा जमाना… बिहार के 3 मंदिरों में फेंके गए मांस के टुकड़े, पोस्टर लगा कर मोदी-शाह और ‘बजरंग दल’ को धमकी

कुछ स्थानीय हिन्दू नेताओं के नाम भी चोर बताते हुए लिखे गए हैं। पर्चे में किसी अहले कोरैश नाम का संगठन लिखा हुआ है जिसे अहले कुरैश माना जा रहा है।

बिहार के औरंगाबाद जिले में साम्प्रदायिक तनाव की खबर है। बताया जा रहा है कि शनिवार (1 जुलाई, 2023) को यहाँ के 3 मंदिरों में मांस के टुकड़े फेंके गए हैं। एक दुकान पर भकड़ाऊ पोस्टर चिपकाया गया है जिसमें PM मोदी, अमित शाह और RSS से जुड़े लोगों को धमकी दी गई है। हिन्दू संगठनों ने इस हरकत पर नाराजगी जताई है। हालात को देखते हुए घटनास्थल पर अतिरिक्त पुलिस फ़ोर्स तैनात कर दिया गया है। पुलिस ने केस दर्ज कर के जाँच शुरू कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना औरंगाबाद के अमझर शरीफ इलाके का है। शनिवार को यहाँ हसपुरा बाजार स्थित 3 धर्मस्थलों पर मांस के टुकड़े फेंके गए। इसके अलावा इसी बाजार के व्यापारी कुणाल कुमार की दुकान पर भी मांस का टुकड़ा फेंक कर एक पर्चा चिपका दिया गया। इस पर्चे में पीएम मोदी, अमित शाह, भाजपा के सभी विधायकों के साथ RSS और बजरंग दल वालों को मुर्दाबाद लिखा गया है। कुछ स्थानीय हिन्दू नेताओं के नाम भी चोर बताते हुए लिखे गए हैं। पर्चे में किसी अहले कोरैश नाम का संगठन लिखा हुआ है जिसे अहले कुरैश माना जा रहा है।

भड़काऊ पर्चे के बीच में ‘हसीना खातून मत घबराना, तेरे साथ सारा जमाना’ भी लिखा गया है। रविवार (2 जुलाई) को जब घटना की जानकारी स्थानीय निवासियों को हुई तो वो भड़क गए। मंदिरों में मांस का टुकड़ा मिलने की सूचना से आस-पास के गाँव में भी तनाव फ़ैल गया। नाराज लोगों ने हसपुरा बाजार बंद रखा। घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुँची। DM और SP ने नाराज लोगों को समझाने की कोशिश की। भारी फ़ोर्स ने तनावग्रस्त इलाके में फ्लैग मार्च किया। पुलिस ने धर्म स्थल से मांस के टुकड़े भी साफ़ करवाए।

पुलिस ने इस मामले में अज्ञात FIR दर्ज कर के जाँच शुरू कर दी है। लोगों को समझा रहे मौके पर मौजूद सीनियर अधिकारियों ने इसे किसी शरारती तत्व की करतूत बताया है। पुलिस के मुताबिक यह घटना इलाके में तनाव फैलाने की करतूत थी जिसे जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। जाँच के लिए डॉग स्क्वाड, FSL टीमों की मदद ली जा रही है और इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों को भी जुटाया जा रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भिंडराँवाले के बाद कॉन्ग्रेस ने खोजा एक नया ‘संत’… तब पैसा भेजते थे, अब संसद में कर रहे खुला समर्थन: समझिए कैसे नेहरू-गाँधी परिवार...

RA&W और सेना के पूर्व अधिकारी कह चुके हैं कि कॉन्ग्रेस ने पंजाब में खिसकती जमीन वापस पाने के लिए भिंडराँवाले को पैदा किया। अब वही फॉर्मूला पार्टी अमृतपाल सिंह के साथ आजमा रही। कॉन्ग्रेस के बड़े नेता जरनैल सिंह के सामने फर्श पर बैठते थे। संजय गाँधी ने उसे 'संत' बनाया था।

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -