‘कॉन्ग्रेस नेता शिवकुमार के पास 317 बैंक खाते, 800 करोड़ की बेनामी संपत्ति’, कोर्ट ने 17 Sep तक ED को दी कस्टडी

ED ने शिवकुमार की हिरासत अवधि 5 दिन तक और बढ़ाने की माँग करते हुए कहा कि बड़ी संख्या में दस्तावेज बरामद किए गए हैं, जिनसे आरोपित शिवकुमार को रूबरू कराने की जरूरत है। साथ ही, ED ने कहा कि शिवकुमार ऐसी सूचना नहीं दे रहे हैं, जिसकी जानकारी सिर्फ उनके पास ही है।

कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता और पार्टी के लिए संकटमोचक कहे जाने वाले डीके शिवकुमार को दिल्ली की अदालत से शुक्रवार को झटका लगा है। कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 17 सितंबर तक उन्हें ईडी की हिरासत में भेज दिया है।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अदालत को बताया कि शिवकुमार की कई संपत्तियाँ बेनामी हैं और 317 बैंक खातों के जरिए धन शोधन किया गया है। ईडी ने कहा कि शिवकुमार के खिलाफ जाँच के अनुसार, शोधित धन 200 करोड़ रुपए से अधिक है और करीब 800 करोड़ रुपए मूल्य की बेनामी संपत्ति है ।

अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय से सवाल लिया कि क्या शिवकुमार अगले 5 दिन में सवालों के जवाब नहीं देंगे, आपको उन्हें हिरासत में लेने की क्या जरूरत है? इस पर ED ने शिवकुमार की हिरासत अवधि 5 दिन तक और बढ़ाने की माँग करते हुए कहा कि बड़ी संख्या में दस्तावेज बरामद किए गए हैं, जिनसे आरोपित शिवकुमार को रूबरू कराने की जरूरत है। साथ ही, ED ने कहा कि शिवकुमार ऐसी सूचना नहीं दे रहे हैं, जिसकी जानकारी सिर्फ उनके पास ही है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

नितिन गडकरी
गडकरी का यह बयान शिवसेना विधायक दल में बगावत की खबरों के बीच आया है। हालॉंकि शिवसेना का कहना है कि एनसीपी और कॉन्ग्रेस के साथ मिलकर सरकार चलाने के लिए उसने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,017फैंसलाइक करें
22,546फॉलोवर्सफॉलो करें
118,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: