Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजकहीं लगाया कर्फ्यू, तो कहीं जागरण-DJ बैन: ईद से पहले कई राज्यों में पुलिस...

कहीं लगाया कर्फ्यू, तो कहीं जागरण-DJ बैन: ईद से पहले कई राज्यों में पुलिस अलर्ट, सोशल मीडिया पर भी होगी कड़ी नजर

बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने 30 अप्रैल को राज्य में लाउडस्पीकरों को लेकर अभियान खत्म किया है। धार्मिक स्थलों से लगभग 54,000 लाउड स्पीकर हटा दिए गए हैं. उत्तर प्रदेश में जिला प्रशासन ने भी 60,295 लाउडस्पीकरों की आवाज़ कम कर दी है।

रामनवमी (Ram Navami) और हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti) पर उपद्रव के बाद त्योहारों को लेकर सरकारें सजग हो गईं हैं। इसी क्रम 2 और 3 मई को लेकर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश सहित कई सरकारों ने एतिहायाती कदम उठाए हैं। रामनवमी की हिंसा को देखते हुए मध्य प्रदेश के इंदौर शहर के खरगोन में कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं, यूपी के मेरठ में जागरण पर रोक लगा दी गई है। इसके अलावा राजधानी लखनऊ में सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है।

दरअसल, मुस्लिमों का रमजान समाप्ति की ओर है और ईद-उल-फितर (Eid) का त्योहार आने वाला है। चाँद दिखने के आधार पर ईद 2 मई या 3 मई को मनाया जाएगा। वहीं, हिंदुओं का पवित्र त्योहार अक्षय तृतीया 3 मई को है। ऐसे में एक ही दिन पड़ने वाले त्योहारों को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। उत्तर प्रदेश, झारखंड, जम्मू-कश्मीर और मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों ने प्रतिबंधों का ऐलान किया है।

यूपी में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

कोरोना महामारी में प्रतिबंध के बाद दो साल बाद ईद मनाई जाएगी। ऐसे में ईद की नमाज को लेकर राजधानी लखनऊ में सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबंद किया गया है। पिछले शुक्रवार को संपन्न हुई अलविदा की नमाज के दौरान भी पुलिस सतर्क रही।

वहीं, मेरठ में हिंदू संगठनों को जागरण करने अनुमति नहीं दी गई है। ईद की पूर्व संध्या पर मुस्लिम बहुल इलाके हाशिमपुरा में जागरण आयोजित करने की योजना बना रहे संगठनों को एसपी सिटी ने अनुमति नहीं दी है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने 30 अप्रैल को राज्य में लाउडस्पीकरों को लेकर अभियान खत्म किया है। धार्मिक स्थलों से लगभग 54,000 लाउड स्पीकर हटा दिए गए हैं. उत्तर प्रदेश में जिला प्रशासन ने भी 60,295 लाउडस्पीकरों की आवाज़ कम कर दी है।

मध्य प्रदेश के खरगोन में कर्फ्यू

मध्य प्रदेश के खरगोन में 2 और 3 मई को भी कर्फ्यू लगा रहेगा। इस कारण ईद की नमाज भी घर में पढ़ी जाएगी। खरगोन के अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट सुमेर सिंह मुजालदा ने कहा कि अक्षय तृतीया और परशुराम जयंती पर जिले में किसी भी कार्यक्रम के आयोजन की अनुमति नहीं दी जाएगी। बता दें कि 10 अप्रैल को रामनवमी की शोभायात्रा पर हमले और दंगों के बाद से खरगोन में कर्फ्यू लगा हुआ है।

पुणे में डीजे नहीं

ईद को देखते हुए महाराष्ट्र के पुणे में डीजे और संगीत नहीं बजाने के फैसला मस्जिद कमेटियों ने ली है। पुणे में पाँच मस्जिदों के अधिकारियों और अन्य मुस्लिम समुदाय के सदस्यों ने ईद समारोह के दौरान डीजे पर संगीत को बंद रखने का फैसला लिया है।

झारखंड में भी सतर्कता

झारखंड के विभिन्न जिलों में ईद को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा की गई। बोकारो में जिलाधिकारी और एसपी ने सभी बीडीओ और सीओ के साथ मीटिंग की और हर जगह पीस कमिटी गठित करने के लिए कहा है।

वहीं, जमशेदपुर में पुलिस ने असामाजिक तत्वों को चेतावनी जारी की है। पुलिस ने कहा कि इस दौरान अगर किसी ने अफवाह फैलाने वाली या आपत्तिजनक पोस्ट किए तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -