Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाजनिलंबित AAP पार्षद ताहिर हुसैन को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार, IB ऑफिसर की...

निलंबित AAP पार्षद ताहिर हुसैन को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार, IB ऑफिसर की हत्या सहित दंगे कराने का है आरोप

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने ताहिर की खोज में ताबड़तोड़ छापेमारी की। इसी क्रम में दिल्ली पुलिस की एक टीम ने बुधवार (मार्च 4, 2020) को यूपी के अमरोहा में छापेमारी की। पुलिस के पहुँचने पर रिश्तेदार के घरों पर ताला लगा हुआ मिला।

उत्तर पूर्व दिल्ली में हुए हिंदू विरोधी दंगों के कई मामलों में आरोपित आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है। कुछ ही देर पहले ताहिर ने राऊज एवेन्यू कोर्ट में सरेंडर करने जा रहा था। ताहिर हुसैन पर आइबी कांस्टेबल अंकित शर्मा की हत्या में शामिल होने के साथ-साथ, हिंसा भड़काने, साजिश रचने समेत कई अन्य मामले दर्ज किए गए हैं।

इससे पहले ताहिर ने आज तक के साथ बातचीत में खुद को बेकसूर बताया था। आई बी अधिकारी अंकित शर्मा की मौत के सवाल पर ताहिर हुसैन ने कहा कि ये तो जाँच का विषय है। उसने कहा कि 24 तारीख की शाम को ही वो वहाँ से निकल गया था और पुलिस ने बिल्डिंग को अपने हैंडओवर में ले लिया था। फिर वहाँ पर सामान कहाँ से पहुँचा, ये तो पुलिस की तहकीकात में सामने आएगा। उसका कहना था कि उस समय वहाँ पर न तो वो था और न ही उसके परिवार का कोई सदस्य। इसके साथ ही उसने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया।

बता दें इससे पहले दिल्ली पुलिस ने ताहिर की खोज में ताबड़तोड़ छापेमारी की। इसी क्रम में दिल्ली पुलिस की एक टीम ने बुधवार (मार्च 4, 2020) को यूपी के अमरोहा में छापेमारी की। पुलिस के पहुँचने पर रिश्तेदार के घरों पर ताला लगा हुआ मिला। जिसके बाद पुलिस ने पड़ोसियों से पूछताछ की। लोगों ने बताया कि मकान में चार दिन से ताला लगा हुआ है। इसके बाद दिल्ली पुलिस ताहिर के पुश्तैनी गाँव पोरारा पहुँची। 

ताहिर हुसैन के खिलाफ इस वक्त कई मामलों में शिकायत दर्ज है। दिल्ली हिंसा में मारे गए अंकित की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस ने पिता के बयान पर ताहिर हुसैन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने धारा 302, धारा 365, धारा 201 और धारा 34 के तहत एफआईआर दर्ज की है। आम आदमी पार्टी ने भी फजीहत होते देख ताहिर हुसैन को पार्टी से निलंबित कर दिया है। 

मामले की जाँच में जुटी क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने ताहिर के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी करने की तैयारी कर ली थी। इसकी प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई थी। ताहिर के पासपोर्ट की डिटेल खँगाली जा रही है। ताहिर की तलाश में जुटी एसआईटी ने दिल्ली-एनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 14 स्थानों पर उसकी तलाश में छापेमारी की। एसआईटी ने बताया कि ताहिर 2 मोबाइल नंबरों का इस्तेमाल करता है। मगर उसके फरार होने के साथ ही दोनों नंबर बंद आ रहे हैं।

24 तारीख को 12 बजे तक की कॉल डिटेल्स खँगाली गई, तो पता चला कि ताहिर हुसैन 24 फरवरी की रात 12 बजे के आस-पास तक चाँदबाग के उसी घर में मौजूद था। वहीं जाँच मे यह बात भी सामने आ रही है कि ताहिर ने 24 तारीख को (हिंसा के दिन) दिन भर में करीब 150 कॉल किए थे। जाँच में जुटी पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि यह कॉल उसने किसको किया था, ऐसे आरोप लग रहे हैं कि उसने दंगे के दौरान कुछ दबंग और प्रभावशाली नेताओं के संपर्क में भी था। अब पुलिस उन नंबरों की डिटेल खँगाल रही है, जिस पर ताहिर ने कॉल किया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,821FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe