Friday, January 21, 2022
Homeदेश-समाजताहिर हुसैन के गुंडे आए, लूटी अमन ई-रिक्शा वर्कशॉप, कर दिया पूरी दुकान खाक,...

ताहिर हुसैन के गुंडे आए, लूटी अमन ई-रिक्शा वर्कशॉप, कर दिया पूरी दुकान खाक, 30 लाख का नुकसान: ग्राउंड रिपोर्ट

आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के यहाँ से एक दंगाइयों की भीड़ आई और उसने पहले जो कुछ लूटने लायक था उसको लूटा, उसके बाद दुकान को फूँक दिया।

राजधानी दिल्ली में बीते दिनों हुए हिन्दू विरोधी दंगों में ताहिर हुसैन और उसकी बिल्डिंग की भूमिका रह-रह कर सामने आ जाती है। हिन्दू विरोधी दंगों की ग्राउंड रिपोर्टिंग करने गए हमारे रिपोर्टर ने उस अमन ई-रिक्शा कम्पनी के मालिक से भी बात की जो आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन की बिल्डिंग के ठीक 3-4 मकान बाद मौजूद थी। हिन्दुओं की इस दुकान, अमन ई-रिक्शा कम्पनी को पहले ताहिर हुसैन के लोगों ने लूटा और फिर उसमें आग लगा दी।

अमन ई-रिक्शा वर्कशॉप -1

इसके मालिक ने ऑपइंडिया को बताया कि आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के यहाँ से एक दंगाइयों की भीड़ आई और उसने पहले जो कुछ लूटने लायक था उसको लूटा, उसके बाद दुकान को फूँक दिया। इस अमन रिक्शा कम्पनी के मालिक ने ऑपइंडिया को यह भी बताया कि उनकी रिक्शा कम्पनी में उस समय उनका गार्ड मौजूद था जिसने ताहिर हुसैन बिल्डिंग से आने वाली दंगाई भीड़ को दुकान फूँकने से मना भी किया पर ताहिर हुसैन के लोग नहीं माने।

अमन ई-रिक्शा कम्पनी के मालिक ने इस आगजनी और लूटमार के कारण 25-30 लाख रूपए का नुक़सान होने की बात बताई।


अमन ई-रिक्शा वर्कशॉप -2

अमन ई-रिक्शा कम्पनी के मालिक मालिक ने आगे ऑपइंडिया को बताया कि ताहिर हुसैन की बिल्डिंग की छत पर 500-600 की भीड़ मौजूद थी, जहाँ से गोलियाँ भी चल रही थीं। हमारी ग्राउंड रिपोर्ट के वीडियो में फूँकी गई दुकान के भीतर इधर-उधर बिखरी पड़ी पेट्रोल बम की खाली बोतलों को देखा जा सकता है।


अमन ई-रिक्शा वर्कशॉप -3

देखें पूरी रिपोर्ट का वीडियो:

याद रहे कि इस हिन्दू विरोधी दिल्ली के दंगों में जिस तरह बर्बरता पूर्वक तरीके से हिन्दुओं को मारा गया, वह न कभी देखा गया न कभी सुना, कम से कम भारत में। आईबी के अंकित शर्मा को 4-6 घंटों तक 400 बार चाकुओं-तलवारों से गोदा गया तो वहीं दिलबर नेगी के हाथ पैर काट जलती दुकान में फेंक दिया गया। यह हिन्दू विरोधी दंगा न केवल बर्बरता के मामले में अभूतपूर्व था साथ ही इसकी प्लानिंग भी बेहद सुनियोजित थी जिसमें महीनों लगे होंगे। दुकानों के शटरों पर NO CAA NO NRC लिखकर उन्हें अलग से चिन्हांकित करना, छतों पर बोरियों में भर-भर पत्थर एकत्र करना, पेट्रोल और तेज़ाब की भारी मात्रा में मौजूदगी, सीरिया की तर्ज पर गुलेल वगैरह का इस्तेमाल, आदि.. इस दंगे को अलग तरह से परिभाषित करने की माँग करते हैं।

बच गई ‘नो CAA, नो NRC’ लिखी दुकानें, बाकी को कर दिया ख़ाक: सामने आया दिल्ली दंगों का ‘ट्रेंड’

दिल्ली दंगा ग्राउंड रिपोर्ट: छतों से एसिड बरसा रही थीं मुस्लिम औरतें, गुलेल से दाग रहे थे पेट्रोल बम

जो हिंदू लड़की करती थी दुआ सलाम, उसी की शादी को जला कर राख कर डाला: चाँद बाग ग्राउंड रिपोर्ट

मुस्लिम भीड़ ने फूँक दी दुकान, ‘श्याम चाय वाले’ की मदद के लिए आएँ आगे, ये रहे बैंक डिटेल्स

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

रवि अग्रहरि
अपने बारे में का बताएँ गुरु, बस बनारसी हूँ, इसी में महादेव की कृपा है! बाकी राजनीति, कला, इतिहास, संस्कृति, फ़िल्म, मनोविज्ञान से लेकर ज्ञान-विज्ञान की किसी भी नामचीन परम्परा का विशेषज्ञ नहीं हूँ!

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हिजाब के लिए लड़कियों का प्रदर्शन राजनीति, शिक्षा का केंद्र मजहबी जगह नहीं’: बुर्के को मौलिक अधिकार बताने पर भड़के कर्नाटक के शिक्षा मंत्री

कर्नाटक के उडुपी के कॉलेज में हिजाब पहनने पर अड़ी छात्राओं को इस्लामिक संगठन कैम्पस फ्रंट ऑफ इंडिया अपना समर्थन दे रहा है।

‘मेरी पत्नी को मौलानाओं ने मारपीट कर घर से निकाल दिया, जिहादी उसकी हत्या भी कर सकते हैं’: जितेंद्र त्यागी (वसीम रिजवी) ने जेल...

जितेंद्र त्यागी उर्फ वसीम रिजवी ने आरोप लगाया है कि उनके परिवार को तंग किया जा रहा है और कुछ जिहादी उनकी पत्नी की हत्या करना चाहते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,584FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe