Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजदिल्ली दंगा: जामिया का छात्र गिरफ्तार, लालू यादव की पार्टी के स्टूडेंट विंग का...

दिल्ली दंगा: जामिया का छात्र गिरफ्तार, लालू यादव की पार्टी के स्टूडेंट विंग का प्रदेश अध्यक्ष है मीरान हैदर

24-25 फरवरी को हुए दंगों में 50से अधिक लोगों की जान गई थी व सैकड़ों घायल हुए थे। दिल्ली पुलिस ने हिंसा के संबंध में कई लोगों को गिरफ्तार किया था। इनमें से एक नाम आप के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन का भी है। उस पर इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारी अंकित शर्मा की निर्मम हत्या की साजिश रचने का भी आरोप है।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंदू विरोधी दंगों में पुलिस ने कल (मार्च 2, 2020) जामिया मिलिया इस्लामिया के एक पीएचडी छात्र को गिरफ्तार किया है। उसकी पहचान राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की छात्र इकाई के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मीरान हैदर के रूप में हुई। उस पर दंगों की साजिश रचने का आरोप है। वह मूल रूप से बिहार के सीवान का रहने वाला है।

दैनिक जागरण में प्रकाशित संबंधित खबर

अधिकारियों ने बताया कि बुधवार सुबह दस बजे हैदर को पुलिस की स्पेशल सेल ने पूछताछ के लिए लोधी कॉलोनी स्थित कार्यालय बुलाया था। बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद राजद के राज्यसभा सदस्य मनोज झा ने मीरान के बचाव में ट्वीट किया। उन्होंने लिखा ”दिल्ली पुलिस ने उसे जाँच के लिए बुलाया था, लेकिन ऊपर से आदेश आने के बाद मीरान हैदर को गिरफ्तार कर लिया गया जो कोरोना वायरस महामारी के समय लोगों की मदद कर रहा था। बात बिलकुल साफ है।”

राजद की जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र शाखा ने भी हैदर की रिहाई की माँग की है और पुलिस के इस एक्शन को भयभीत करने वाला बताया है। उनका कहना है कि पुलिस को जनता का मित्र बनना चाहिए ना कि उन्हें भयभीत करने वाला। पुलिस ने बताया है कि हैदर के खिलाफ दंगों को भड़काने और साजिश के सबूत मिले हैं।

नवभारत टाइम्स के मुताबिक, स्पेशल सेल के मुताबिक, फरवरी माह में हुए दिल्ली दंगों में पुलिस टीम लंबे समय से छानबीन कर रही थी। इसे लेकर क्राइम ब्रांच ने एक मामला भी दर्ज किया था, जिसकी जाँच बाद में स्पेशल सेल को सौंप दी गई थी। स्पेशल सेल ने छानबीन के दौरान जामिया से पीएचडी कर रहे छात्र मीरान को नोटिस देकर बुधवार को पूछताछ के लिए बुलाया था। इस नोटिस पर पूछताछ के लिए वह लोधी कॉलोनी स्थित स्पेशल सेल के दफ्तर में पहुँचा। जहाँ पड़ताल के बाद पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी कर ली। अफसरों का कहना है मीरान के खिलाफ दंगे की साजिश रचने के अहम साक्ष्य मिले हैं, जिसके बाद ही उसकी गिरफ्तारी की गई है।

मीरान हैदर पर आरोप है कि मीरान हैदर ने शाहीन बाग, जामिया व अन्य जगहों पर चले विरोध प्रदर्शन के दौरान बढ़-चढ़कर न सिर्फ हिस्सा लिया, बल्कि लोगों को उकसाया। सेल के मुताबिक, मीरान के साथ दंगों में आरोपी कई अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी जल्द ही हो सकती है।

गौरतलब है कि 24-25 फरवरी को हुए उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दंगों में 50 से अधिक लोगों की जान गई थी व सैकड़ों घायल हुए थे। दिल्ली पुलिस ने हिंसा के संबंध में कई लोगों को गिरफ्तार किया था। सबसे सुर्खियों में रहा नाम आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन का है। वह फिलहाल जेल में बंद हैं। उस पर इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारी अंकित शर्मा की निर्मम हत्या की साजिश रचने का भी आरोप है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस पर भड़के उदित राज, नंगी तस्वीरें वायरल होने की चिंता: लोगों ने पूछा – ‘फोन में ये सब रखते ही क्यों हैं?’

पूर्व सांसद और खुद को 'सबसे बड़ा दलित नेता' बताने वाले उदित राज ने आशंका जताई कि पेगासस ने कितनों की नंगी तस्वीर भेजी होगी या निजता का उल्लंघन किया होगा।

कारगिल के 22 साल: 16 की उम्र में सेना में हुए शामिल, 20 की उम्र में देश पर मर मिटे

सुनील जंग ने छलनी सीने के बावजूद युद्धभूमि में अपने हाथ से बंदूक नहीं गिरने दी और लगातार दुश्मनों पर वार करते रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,222FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe