Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजअल्लाह-हू-अकबर का नारा और तलवार लहराते लोग: महाराष्ट्र में डिप्टी मेयर हाजी राशिद के...

अल्लाह-हू-अकबर का नारा और तलवार लहराते लोग: महाराष्ट्र में डिप्टी मेयर हाजी राशिद के जन्मदिन का Video वायरल

महाराष्ट्र का यह इलाका संवेदनशील माना जाता है। पिछले कुछ सालों में यहाँ कई बार दो समुदायों के बीच विवाद हुए हैं।

महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के मलकापुर नगरपालिका के डिप्टी मेयर हाजी राशिद जमादार के जन्मदिन का एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में कई लोग मजहबी नारे लगाते और तलवारें हवा में लहराते दिख रहे हैं। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है।

पुलिस ने इस पर संज्ञान लेते हुए राशिद खान और उनके समर्थकों के ख़िलाफ़ आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। वीडियो में स्पष्ट तौर पर नारा-ए-तकबीर, अल्लाह-हू-अकबर के नारे सुने जा सकते हैं। वहीं अन्य क्लिप में देख सकते हैं कि कोरोना काल में तमाम भीड़ के बीच समारोह का आयोजन हुआ और किसी नियम का पालन नहीं किया गया।

मलकापुर थाना प्रभारी के अनुसार 10 फरवरी को हाजी राशिद का जन्मदिन था। इसी कार्यक्रम में कुछ लोगों ने तलवारें लहराई। इसका वीडियो वायरल हुआ और उसी आधार पर पहचान कर दो लोगों को गिरफ्तार कर 5 तलवारें बरामद की गईं। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

बता दें कि डिप्टी मेयर राशिद खान का जन्मदिन मलकापुर तहसील के म्यूनिसिपल स्कूल परिसर में मंगलवार और बुधवार की आधी रात को मनाया गया था। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए तलवारों के साथ डांस किया।

सोशल मीडिया पर जो वीडियो सामने आई है उसमें भी कार्यकर्ता जोर-जोर से नारेबाजी कर रहे हैं। पुलिस का कहना है कि इस पार्टी में 100 से ज्यादा लोग शामिल हुए थे और किसी ने भी मास्क नहीं पहना था। मालूम हो कि महाराष्ट्र का यह इलाका संवेदनशील माना जाता है। पिछले कुछ सालों में यहाँ कई बार दो समुदायों के बीच विवाद हुए हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,125FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe