Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजट्रम्प दौरे से खौफजदा कश्मीर घाटी के सिख: कारण आपको भी विचलित कर सकता...

ट्रम्प दौरे से खौफजदा कश्मीर घाटी के सिख: कारण आपको भी विचलित कर सकता है

"जहाँ एक तरफ ऐसा लगता है कि पूरा भारत ट्रम्प की यात्रा की तैयारियों में लगा है वहीं घाटी के सिख समाज में इसे लेकर खौफ का माहौल है, उन्हें लगता है कि ट्रम्प की इस यात्रा के दौरान उनके साथ कुछ बुरा हो सकता है और वे रडार पर हैं।"

अमेरिकी प्रेसीडेंट डोनाल्ड ट्रम्प की आगामी भारत यात्रा ने कश्मीर घाटी के सिखों को उन खौफनाक यादों में वापस पहुँचा दिया है, जब 19 मार्च 2000 को तब के अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के भारत दौरे के दौरान हथियारबंद आतंकियों ने अल्पसंख्यक सिख समुदाय के 35 सदस्यों को दक्षिण अनंतनाग जिले के छत्तीसिंगपोरा नामक गाँव में गोली मार कर हत्या कर दी थी।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जम्मू-कश्मीर के सभी सिख संगठनों के संयुक्त फोरम ‘आल पार्टीज सिख कोआर्डिनेशन कमेटी’ (एपीएससीसी) के चेयरमैन जगमोहन सिंह रैना, उस ख़ौफ़नाक मंजर को याद करते हुए कहते हैं कि घाटी के सिख समाज को हमेशा किसी हाई प्रोफाइल विदेशी व्यक्ति विशेषकर अमरीकी राष्ट्रपति की भारत यात्रा के दौरान इसी प्रकार भय के साये में रहना पड़ता है।

शनिवार को जारी एक स्टेटमेंट में रैना ने कहा कि जहाँ एक तरफ ऐसा लगता है कि पूरा भारत ट्रम्प की यात्रा की तैयारियों में लगा है वहीं घाटी के सिख समाज में इसे लेकर खौफ का माहौल है, उन्हें लगता है कि ट्रम्प की इस यात्रा के दौरान उनके साथ कुछ बुरा हो सकता है और वे रडार पर हैं।

वर्ष 2000 में अनंतनाग के छत्तीसिंगपोरा में आतंकियों ने 35 सिखों की गोली मार कर हत्या कर दी थी

साल 2000 में अमेरिकी राष्ट्रपति क्लिंटन की भारत यात्रा के दौरान 19-20 मार्च की रात आर्मी की ड्रेस में आए हमलावरों ने 35 सिखों को मौत के घाट उतार दिया था वहीं 36 वीं मौत इस भयंकर मंजर को देख, एक महिला को हुए कार्डियक अरेस्ट के कारण हुई थी। इस भयानक हत्याकांड के पीछे आतंकियों का हाथ बताया गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -