Monday, October 25, 2021
Homeदेश-समाजजीसस के नाम पर चेतावनी देता हूँ कोरोना वैक्सीन मत लगवाना, ये शैतान का...

जीसस के नाम पर चेतावनी देता हूँ कोरोना वैक्सीन मत लगवाना, ये शैतान का निशान है: भगवा पहन पादरी का प्रोपेगेंडा

तमिलनाडु में एक ईसाई प्रचारक भगवा पहनकर न केवल दर्शकों से झूठ बोल रहा है, बल्कि एंटी वैक्सीनेशन कैंप को भी प्रमोट कर रहा है। ईसाई धर्म का प्रचार करने वाले चैनल एंजेल टीवी के संचालक व पादरी सुंदर सेलवराज ने हालिया वीडियो में दावा किया है कि सरकार द्वारा लाई गई वैक्सीन में चिप होगी।

कोरोना महामारी के बीच देश के कोने-कोने में कई अफवाहों ने जोर पकड़ा। ऐसे में कई धार्मिक/मजहबी समूह निकल कर सामने आए, जिन्होंने अपने अनुयायियों को न सिर्फ महामारी से बचाने का दावा किया, बल्कि इसकी आड़ में अपना एजेंडा भी जमकर चलाया। 

ताजा मामला तमिलनाडु से सामने आया है, जहाँ एक ईसाई प्रचारक भगवा पहनकर न केवल दर्शकों से झूठ बोल रहा है, बल्कि एंटी वैक्सीनेशन कैंप को भी प्रमोट कर रहा है। प्रदेश में ईसाई धर्म का प्रचार करने वाले चैनल एंजेल टीवी (ANGEL TV) के संचालक व पादरी सुंदर सेलवराज (Sundar Selvaraj) ने अपनी हालिया वीडियो में दावा किया है कि सरकार द्वारा लाई गई वैक्सीन में चिप होगी।

भगवा पहनकर खुद को ‘साधु’ बताने वाले इस ईसाई धर्म प्रचारक का यह दावा है कि कोरोना वैक्सीन में चिप होगी जो शैतान का निशान है और इसकी चेतावनी बाइबिल में भी दी गई है।

एंजेल टीवी ने ईसाई प्रचारक के प्रोपेगेंडा को बढ़ावा देने के लिए बकायदा एक वीडियो बनाया है। इसमें देख सकते हैं कि एक सुमित्रा नाम की हिंदू महिला ईसाई धर्म अपना चुकी है और अपने बेटे के साथ ईसाई प्रचारक सुंदर सेलवराज की यह वीडियो देख रही है, जिसमें वह वैक्सीन के ख़िलाफ़ लोगों को गलत सूचना दे रहा है।

इसमें वह कहता है, “जीसस के नाम पर मैं तुम्हें चेतावनी देता हूँ कोरोना वैक्सीन को कभी मत लगवाना, वह शैतान का निशान (Mark of a beast) है।”

वीडियो के आगे हिस्से में हम देख सकते हैं कि सुंदर को सुनने के बाद महिला उससे इतना प्रभावित होती है कि जब सरकार वैक्सीन देने के लिए कैंप लगाती है तो उसे ईसाई प्रचारक के शब्द सुनाई पड़ने लगते हैं। फिर अचानक उसे प्रभु की आवाज सुनाई देती है कि वह जा जाकर लोगों को वैक्सीन के ख़िलाफ़ सचेत करे और उसे लगवाने से रोके।

सुंदर सेलवराज को सुनने के बाद महिला वैक्सीन को नकार देती है और लोगों को भी बताती है कि जो इसे लेगा वह नरक में जाएगा। वह बताती है कि भगवा चादर ओढ़े एक बुजुर्ग आदमी ने उसे यह बात बताई है। उसी ने उन्हें इसे न लगवाने को कहा है।

यह वीडियो तमिलनाडु के ईसाइयों के बीच घूम रहा है। हम सोच सकते हैं कि इसका असर कम पढ़े-लिखे लोगों पर क्या होगा। इससे पहले मार्च माह में हमने मौलाना साद की ऑडियो सुनी थी। उसने भी इसी प्रकार अल्लाह के नाम पर समुदाय विशेष के लोगों को बरगला कर खतरे में डाला था और बाद में पोल पट्टी खुलने पर खुद अंडरग्राउंड हो गया था। 

वही सब अब दोबारा तमिलनाडु में दोहराया जा रहा है। तमिलनाडु में यह ईसाई प्रचारक और इसका चैनल खुलेआम सरकार के ख़िलाफ़ और वैक्सीन के ख़िलाफ़ लोगों में भय भर रहे हैं, लेकिन तब भी इन पर कोई एक्शन नहीं लिया जा रहा है।

यहाँ बता दें कि यह ईसाई धर्म प्रचारक सुंदर सेलवराज अपने दावों के कारण कई बार चर्चा में आया है। इसने एक बार कहा था कि उसे स्वर्ग ले जाया गया था जहाँ प्रभु ने खुद उसके चैनल का वीडियो टेप देखा और उनसे ऐसे प्रोग्राम बनाने को कहा जो हॉलीवुड की क्वालिटी से मेल खाते हों या उससे भी बेहतर हों। इतना ही नहीं सुंदर सेलवराज यह दावा भी कर चुका है कि हिंदू ग्रंथों और ऋगवेद में जीसस के आने की भविष्यवाणी की जा चुकी है।

हाल ही में ऑपइंडिया ने बिहार के मधुबनी जिले के सुदूर देहात के इलाकों में लोगों को बरगला कर धर्मांतरण किए जाने को लेकर खबर की थी। इसमें खुद को पादरी बताने वाले बच्चन शर्मा ने भी रामायण को लेकर इसी तरह के दावे किए थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केरल में नॉन-हलाल रेस्तराँ खोलने वाली महिला को बेरहमी से पीटा, दूसरी ब्रांच खोलने के खिलाफ इस्लामवादी दे रहे थे धमकी

ट्विटर यूजर के अनुसार, बदमाशों के खिलाफ आत्मरक्षा में रेस्तराँ कर्मचारियों द्वारा जवाबी कार्रवाई के बाद केरल पुलिस तुशारा की तलाश कर रही है।

असम: CM सरमा ने किनारे किया दीवाली पर पटाखों पर प्रतिबंध का आदेश, कहा – जनभावनाओं के हिसाब से होगा फैसला

असम में दीवाली के मौके पर पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध का ऐलान किया गया था। अब मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा है कि ये आदेश बदलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
131,783FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe