Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजअबरार हुसैन की बेटी फ़िज़ा ने अपनाया हिन्दू धर्म, शुद्धिकरण के बाद वैदिक मंत्रोच्चार...

अबरार हुसैन की बेटी फ़िज़ा ने अपनाया हिन्दू धर्म, शुद्धिकरण के बाद वैदिक मंत्रोच्चार के बीच अंकित वाल्मीकि से रचाई शादी: बोलीं – मेरी सनातन में पूरी आस्था

फ़िज़ा जहाँ मूल रूप से मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा थानाक्षेत्र की रहने वाली हैं उनके अब्बा का नाम अबरार हुसैन है। 18 वर्षीया फ़िज़ा जहाँ का 4 वर्षों से अंकित नाम के एक युवक से प्रेम संबंध चल रहा था।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले की एक मुस्लिम लड़की ने घर-वापसी की है। लड़की का नाम फ़िज़ा जहाँ है जो अब चाहत वाल्मीकि नाम से जानी जाएँगी। फ़िज़ा ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच अंकित को अपना जीवन साथी चुना है। अंकित भी मुरादाबाद के निवासी हैं। दोनों का विवाह नोएडा के जेवर क्षेत्र में आने वाले एक आर्य समाज मंदिर में शनिवार (28 अक्टूबर, 2023) को हुआ है। इस विवाह के दौरान फ़िज़ा ने ख़ुशी जाहिर की है और सनातन में पूरी आस्था जताई है।

फ़िज़ा जहाँ मूल रूप से मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा थाना क्षेत्र की रहने वाली हैं उनके अब्बा का नाम अबरार हुसैन है। 18 वर्षीया फ़िज़ा जहाँ का 4 वर्षों से अंकित नाम के एक युवक से प्रेम संबंध चल रहा था। अंकित भी मुरादाबाद के निवासी हैं और फ़िज़ा के पड़ोसी हैं। जब दोनों के बीच चल रहे प्यार की भनक फ़िज़ा के घर वालों को मिली तो वो नाराज हो गए। उन्होंने फ़िज़ा पर तमाम बंदिशें लगानी शुरू कर दीं। हालाँकि, फ़िज़ा ने भी अंकित से ही शादी की जिद ठान रखी थी।

तमाम बंदिशों के बावजूद एक दिन फ़िज़ा मौका देख कर अपने घर से भाग निकली। वो अंकित के साथ गौतमबुद्ध नगर के नोएडा क्षेत्र में पहुँची। यहाँ के जेवर क्षेत्र में पड़ने वाले आर्य समाज मंदिर में दोनों ने पहुँच कर शादी की इच्छा जताई। आर्य समाज मंदिर के पुजारी ने दोनों के कागज़ात चेक किए। कागजातों में अंकित और फ़िज़ा बालिग़ निकले। इसके बाद फ़िज़ा ने मंदिर के पुजारी से अंकित से शादी अपनी मर्जी से और बिना किसी दबाव के इच्छा के तौर पर बताया। आखिरकार पुजारी ने दोनों का विवाह अपने मंदिर में सम्पन्न करवाया।

शादी से पहले फ़िज़ा ने स्वयं से अपने शुद्धिकरण की इच्छा जताई। इस इच्छा पर बाकायदा वैदिक विधि-विधान से पूजा-पाठ करवाई गई। फ़िज़ा ने भी सनातनी परम्परा का अनुसरण करते हुए हिन्दू रीति-रिवाज़ के अनुसार हवन किया। शादी में फ़िज़ा और अंकित को मंदिर में मौजूद हिन्दू संगठन के सदस्यों ने आशीर्वाद दिया। बाद में फ़िज़ा वो अंकित के साथ विदा हो गईं। ऑपइंडिया के पास विवाह के प्रमाण-पत्र मौजूद हैं। इस मामले में अभी तक किसी कानूनी कार्यवाही की जानकारी सामने नहीं आई है।

ऑपइंडिया ने इस विवाह में सहयोग करने वाले हिन्दू संगठन ने पदाधिकारी कुलदीप शर्मा से बात की। कुलदीप शर्मा ने कहा कि उन्होंने स्थानीय पुलिस को इस विवाह की जानकारी दे दी है। बकौल कुलदीप, वो नवदम्पति को हर प्रकार का सहयोग करेंगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -